scriptHistorical rally in Dhar regarding delisting: | डीलिस्टिंग को लेकर धार में ऐतिहासिक महारैली | Patrika News

डीलिस्टिंग को लेकर धार में ऐतिहासिक महारैली

4१ डिग्री तापमान में नृत्य करते हुए 20 हजार लोग जुटे धार में
- धर्म परिवर्तन के बाद आरक्षण का लाभ नहीं देने की मांग

धार

Published: April 24, 2022 08:05:51 pm

धार.
धार के डीलिस्टिंग को लेकर ऐतिहासिक महारैली का आयोजन किया गया। 4१ डिग्री की भीषण गर्मी में आदिवासी अंचल के भाई-बहनों ने अपने अधिकार और धर्मांतरण को लेकर एकजुटता से यह रैली निकाली। इसमें 20 हजार से अधिक संख्या में लोग शामिल हुए। आंदोलन से जुड़े हुए पदाधिकारी और अंचल के आदिवासी नेता बड़ी संख्या में शामिल हुए। शहर के प्रमुख मार्गों पर महारैली के स्वागत के लिए समाजजनों व लोगों ने विशेष इंतजाम किए। जगह-जगह पानी, शीतल पेय का इंतजाम किया गया। आदिवासी वेशभूषा में सुमधुर संगीत के साथ इस महारैली में लोग शामिल हुए। इसके माध्यम से डीलिस्टिंग विषय को बहुत बड़ी ताकत से रखा गया। साथ ही इस विषय पर समाज कितना गंभीर है, वह भी दर्शाया गया।
डीलिस्टिंग को लेकर धार में ऐतिहासिक महारैली
डीलिस्टिंग को लेकर धार में ऐतिहासिक महारैली
डीलिस्टिंग को लेकर एक बहुत बड़ा आंदोलन चल रहा है। डीलिस्टिंग से तात्पर्य है कि अनुसूचित जनजाति वर्ग के लोग जिनका धर्म परिवर्तन कतिपय विधर्मी लोग लालच देकर या अन्य प्रलोभन से करते है। ऐसे लोग जो ईसाई या मुस्लिम धर्म अपना लेते है और फिर भी अनुसूचित जनजाति वर्ग के आरक्षण का लाभ लेते है। ऐसे लोगों को डीलिस्टिंग किया जाए, इससे वे आरक्षण से दूर हो सके। साथ ही जो योग्य और अनुसूचित जनजाति वर्ग के लोग है। उनके आरक्षण के हक का नुकसान नहीं हो इसलिए यह एक बहुत बड़ा आंदोलन चलाया जा रहा है। इसके चलते यह महारैली धार में रविवार को आयोजित की गई। इसके पूर्व किला मैदान पर मंचीय कार्यक्रम हुआ।
लोगों की रक्षा का समय

इस मौके पर वक्ता रामप्रकाश मच्छार ने कहा कि आज का समय अनुसूचित जनजाति के लोगों की रक्षा का समय है। सुरक्षा मंच का उद्देश्य है, वह पूरा करने के लिए हमें एकजुट होना पड़ेगा। शिवकुमारी बैनर सहित पंडित कटारे, डूंगर सिंह बघेल ने भी अपने विचार रखे। अतिथियों का स्वागत अरविंद डावर, जयराम गावर, राजू एम सोलंकी, रणधीर अलावा, महेंद्र मेरती, कैलाश डावर, सुंदर चौहान, बलवंत रावत ने किया। संचालन कपिल निनामा ने किया। शुभारंभ मां शबरी के चित्र पर दीप प्रज्जवलन और माल्यार्पण के साथ हुआ। कैलाश झाबा और उनके दल ने नृत्य की प्रस्तुति दी। आभार मंच के जिला संयोजक अरविंद डाबर ने माना।
डीलिस्टिंग को लेकर धार में ऐतिहासिक महारैलीडीलिस्टिंग को लेकर धार में ऐतिहासिक महारैलीआरक्षण व सुविधाओं का लाभ उठाया

मुख्य वक्ता व जनजाति सुरक्षा मंच के राष्ट्रीय सह संयोजक डॉ. राजकिशोर हासदा ने डीलिस्टिंग के बारे में बताया। उन्होंने कहा कहा यह आंदोलन 50 वर्ष पूर्व डॉक्टर कार्तिक उरांव द्वारा चलाया गया था। जनजाति समाज से अपनी रीतिरिवाज परंपराएं छोड़ चुके है। ऐसे व्यक्तियों को जनजाति सूची से बाहर करना है। ऐसा कानून संसद में बनाने के लिए प्रयास किया गया। पंचायत से लेकर संसद तक इस अभियान को चलाया। यह आंदोलन उन लोगों के खिलाफ है जो हमारी आस्था, परंपरा, रीतिरिवाज, संस्कृति का त्याग कर चुके है। ऐसे लोगों ने हमारे आरक्षण का हमारी सुविधाओं का लाभ उठाया है। उन्होंने कहा आरक्षण का लाभ अब इन लोगों को नहीं लेने देगें। 10 प्रतिशत धर्मांतरित व्यक्तियों ने 80 प्रतिशत आरक्षण व सुविधाओं का लाभ उठाया है। यह वास्तव में जनजाति समाज का हक था। ये 74 वर्षों से चल रहा है, अब नहीं चलेगा। मंच पर जनजाति सुरक्षा मंच के राष्ट्रीय संगठन मंत्री सूर्य नारायण सूरी, मध्यप्रदेश-छत्तीसगढ़ संयोजक कालु सिंह मुजाल्दा, प्रदेश संयोजक कैलाश निनामा तथा क्षेत्रीय अधिकारी प्रवीण ढोलके, तिलकराज दांगी कैलाश आमलियार मौजूद थे।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

हैदराबाद : बीजेपी की बैठक का आज दूसरा दिन, पीएम मोदी करेंगे संबोधितMaharashtra Politics: सीएम शिंदे और डिप्टी सीएम फडणवीस को गर्वनर भगत सिंह कोश्यारी ने खिलाई मिठाई, तो चढ़ गया सियासी पारा!NIA की टीम ने केमिस्ट की हत्या की जांच के लिए महाराष्ट्र के अमरावती का किया दौराभाजपा ने राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक में 'अर्थव्यवस्था' और 'गरीब कल्याण' पर प्रस्ताव किया पारित, साथ ही की 'अग्निपथ योजना' की सराहनाUdaipur murder case: गुस्साए वकीलों ने कन्हैया के हत्यारों के जड़े थप्पड़, देखें वीडियोजयपुर में केमिकल फैक्ट्री में लगी भीषण आग, एक किलोमीटर दूर तक दिखाई दे रहा धुएं का गुबारAmravati Murder Case: उमेश कोल्हे की हत्या का मास्टरमाइंड नागपुर से गिरफ्तार, अब तक 7 आरोपी दबोचे गए, NIA ने भी दर्ज किया केसSharad Pawar Controversial Post: अभिनेत्री केतकी चितले ने लगाए गंभीर आरोप, कहा- हिरासत के दौरान मेरे सीने पर मारा गया, छेड़खानी की गई
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.