अब काले चने से लहलहा रहा खेत (देखे वीडियो)

- धार के छोटे से गांव सिरसौदा के किसान का नवाचार

By: Amit S mandloi

Published: 28 Dec 2020, 08:09 PM IST

धार . अमित एस मंडलोई
धार के छोटे से गांव सिरसौदा के शिक्षित किसान विनोद चौहान ने नया नवाचार किया है। जिले में पहली बार काले चने की खेती वे कर रहे है। ये चना दूसरे चनों की अपेक्षा काफी पौष्टीक बताया जा रहा है। लगातार सोशल मीडिया पर सर्च करने के बाद चौहान इसका बीज नीमच से लेकर आए है।

चौहान ने बताया कि वे पारंपरिक खेती करते थे। शिक्षित होने पर उन्होंने खेती के ऐसे नवाचारों को तलाशा जिसमें वे कुछ नया कर सके और अपनी आमदनी भी बढा सके। चौहान ने बताय कि सर्चिंग के दौरान उन्हें काले चने के बारे में पता लगा। अमूमन जो चना हो रहा है उसका रंग लाल-पीला होता है। लोग पेट की गैस की गड़बडी के चलते चने से परहेज भी करते है। वहीं ये काला चना उच्च प्रोटीन युक्त है। चौहान ने बताया कि वे नीमच से ढाई क्विंटल बीज लेकर आए है। उसे 15 बीघा में बो दिया है। चौहान ने बताया कि नवाचार के लिए कृषि विज्ञान के जीएस गाठिए ने उन्हें मार्गदर्शन दिया। खेत में आज काले चने फसल लहलहाने लगी है।

यह किस्म मध्यप्रदेश, राजस्थान, पंजाब, महाराष्ट्र, गुजरात एवं छत्तीसगढ आदि राज्यों के लिए अनुकूलित है। क्योंकि इसकी जलवायु और वातावरण भी राज्यों के लिए उपयुक्त है।

ये है इसके फायदे

-

अब काले चने से लहलहा रहा खेत (देखे वीडियो)

काला चना की खेती भी सामान्य चने की खेती की ही तरह होती है। एवं उन सभी जगह इसकी खेती की जा सकती है जहां अन्य चने की खेती होती है।
2 इसकी बोने के लिए बीज दर प्रति एकड 30 किलो होती है।
3 मिट्टी के हिसाब से 1 या 2 सिचाई में ये पककर तैयार हो जाती है। समयावधि अन्य चने के समान ही होती है।
4 उत्पादन प्रति एकड लगभग 8 से 10 क्विंटल होता है।
जो की लगभग सामान्य चना की फसल के बराबर ही होता है।
5 अगर बात करे इसकी किमत की तो बाजार मे अभी इसकी उपलब्धता ना के बराबर होने से इसकी कीमत अन्य चने से ज्यादा होगी।
पोषण तथ्य
1 काला चना फोलेट्स, फायबर, उच्च मात्रा में प्रोटीन, कार्बोहाइड्रेट्स, कापर, आयरन और फास्फोरस से भरपूर होता है।
2 इसके सेवन से क्लोरोफिल, विटामिन.ए, बी , सी और डी, और फास्फोरस, पोटेशियम, मेग्नीशियम की आवश्यकता पूरी होती है।
3 काला चना एंटी आक्सीडेंट, एन्थोसायनीन, फायटो न्यूट्रिएन्ट्स और एएलए से भरा है।
4 ऊर्जा बढाने के साथ ही त्वचा, बाल, तनाव, हृदय स्ट्रोक, कोलेस्ट्रॉल, डायबीटीज एवं कब्ज आदि में फायदेमंद है।
5 उच्च मात्रा में प्रोटीन होने के कारण ज्यादातर इसका उपयोग जीम जाने वाले करते है। जिससे परफेक्ट बॉडी शेप भी पा सकते है।

Amit S mandloi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned