बाउंड्रीवॉल नहीं होने से बसों से चोरी होते हैं सामान

डिपो परिसर में नहीं है बाउंड्रीवॉल, पानी और साफ-सफाई की कोई व्यवस्था नहीं

धार. बाउंड्रीवॉल नहीं होने से हर समय चोरी का डर बना रहता है..., पूर्व में भी बस से कई सामान चोरी हो गए हैं..., कई बार आला-अधिकारी को जानकारी दी, लेकिन कोई सुनवाई नहीं हुई..., पेड़ की जड़ भी दिखने लगी है...। कुछ इसी तरह की शिकायत चालक-परिचालक ने की। शहर के मोहन टॉकिज समीप बने डिपो की बाउंड्रीवॉल नहीं बनी हुई है। चालक-परिचालकों का कहना है कि यहां के पेड़ों की जड़ निकलने लगी है, जिससे सर्विस रोड से निकलने वाले वाहन चालक व पैदल चलने वाले राहगीरों पर पेड़ गिरने का डर बना रहता है। डिपो में बसें खड़ी रहती है और यहां पर बाउंड्रीवॉल नहीं होने से बसों में रखा सामान चोरी हो जाता है। इसके अलावा यहां पर नियमित साफ-सफाई भी नहीं होती है। बाउंड्रीवॉल के नहीं होने से यहां पर असामाजिक तत्व भी आ जाते हैं।
पत्र लिखे
जिला प्रशासन को यूनियन की ओर से डिपो में बाउंड्री बनाने के लिए पत्र भी लिखा है। इसके बावजूद भी यहां पर अभी तक कोई बाउंड्रीवॉल भी नहीं बनी।
कैलाश तिवारी, सचिव, धार जिला प्रायवेट बस कल्याण समिति, धार
बाउंड्रीवॉल बने
डिपो में बाउंड्रीवॉल बन जाए तो काफी सुविधा हो जाएगी। इसके अलावा यहां पर पानी की समस्या भी बनी हुई है। यदि यहां पर नगर पालिका द्वारा एक बोरिंग हो जाए तो लाभ हो जाएगा। पहले भी बसों में से कई सामान चोरी हुए है।
राकेश सुयल, परिचालक, दाजी बस सर्विस, धार
गिरने का रहता है डर
बाउंड्रीवॉल नहीं होने से सामान चोरी होने का डर बना रहता है। डिपो परिसर के एक ओर से सर्विस रोड जा रही है तथा दूसरी ओर लगे वृक्षों का बारिश के दौरान गिरने का डर बना रहता है। यहां पर बाउंड्रीवॉल होना बहुत आवश्यक है।
भैरव सिंह, चालक
चोरी पर लगेगी लगाम
डिपो परिसर की बाउंड्री बनाने के लिए प्रशासन और आरटीओ को आवेदन दे चुके हैं। अधिकारी सिर्फ आश्वासन देते हैं। बाउंड्रीवॉल नहीं होने से सामान चोरी जाता है। यदि बाउंड्रीवॉल बन जाए तो चोरी पर लगाम लग जाएगी।
गणेश ठाकुर, अध्यक्ष, चालक-परिचालक संघ, धार

अर्जुन रिछारिया Incharge
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned