VIDEO कपास नीलामी मुहूर्त में पीडित किसानों ने किया विरोध प्रदर्शन

लंबित रहा कपास नीलामी कार्य, बड़ी संख्या में पुलिस मौजूद

 

By: Amit S mandloi

Published: 16 Sep 2021, 08:19 PM IST

धामनोद.विकास पटेल
गुरुवार की सुबह कृषि उपज मंडी प्रांगण में कपास खरीदी कार्यक्रम को लेकर पंडितों द्वारा पूजा अर्चना विधिवत की गई। तय रणनीति के मुताबिक पीडि़त किसानों ने कपास बोली के पूर्व ही हंगामा कर दिया। जमकर प्रशासन के खिलाफ नारेबाजी की। इधर मीडिया में खबर प्रकाशित से लगी जानकारी के बाद बड़ी संख्या में प्रशासन व पुलिस बल मंडी परिसर में मौजूद रहा। मौके पर एसडीओपी राहुल खरे, तहसीलदार योगेंद्र सिंह मौर्य ,थाना प्रभारी आर के यादव दलबल सहित मौजूद थे। सुरक्षा की दृष्टि से मांडव, धरमपुरी थाने का बल पहुंचा। इधर मामले की गंभीरता को देखते हुए दोपहर को एसडीएम राहुल चौहान भी पहुंचे।

दरअसल 108 किसानों से करोड़ों रुपए की उपज खरीद कर भागे व्यापारियों की गिरफ्तारी व भुगतान नहीं मिलने से आखिरकार परेशान पीडित किसान परिवार सहित सुबह से ही मंडी प्रांगण में पहुंच चुके थे। किसान कपास मंडी नीलामी मुहूर्त पूजा अर्चना में भी शामिल हुए। किसानों ने नीलामी के कार्य को रुकवा दिया। अलग ही देर शाम 4.30 बजे बिना जानकारी के आए कपास लेकर किसानों की परेशानी को देखते हुए एक दिन कपास नीलामी की स्वीकृति दी गई। प्रदर्शन कर रहे किसानों ने कहा कि शुक्रवार से नीलामी कार्य निष्कर्ष तक बंद रहेगा।

नीलामी मुहूर्त के बाद बोली नहीं लगने दी

मंडी प्रांगण में प्रतिवर्ष कपास की नीलामी शुरू विधिवत पूजा अर्चना की जाती है। पूजा में पीडित किसान और परिवार की महिलाएं पहले ही जाकर बैठ गई थी। किसानों ने पूजा का विरोध नहीं किया । जैसे ही नीलामी के लिए व्यापारी कपास लेकर आए किसानों के पास खरीदी के लिए जाने लगेए मौजूद पीडि़त किसान और परिवार ने व्यापारियों के समक्ष अपनी मंशा रख दी। जिसके बाद व्यापारी भी नीलामी स्थल तक नहीं पहुंचे। खास बात यह थी कि लंबा समय बीत जाने के बाद भी प्रशासन की ओर से कोई ठोस पहल नहीं होने पर प्रशासन की खिलाफ जमकर नारेबाजी की।

Amit S mandloi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned