scriptWhen 2 lakh rupees reached the laborers account, then what happened | जब मजदूर के खाते में पहुंच गए 2 लाख रुपए, फिर क्या हुआ | Patrika News

जब मजदूर के खाते में पहुंच गए 2 लाख रुपए, फिर क्या हुआ

बैंक की गलती से रुपए हुए ट्रांसफर, मजदूर का मोबाइल हुआ बंद

धार

Published: March 07, 2022 04:19:49 pm

धार. प्रदेश में मजदूर के खाते में 2 लाख रुपए पहुंचने के बाद बैंक प्रबंधन सकते में आ गया। जब मजदूर का मोबाइल बंद आया तो कर्मचारी के होश उड़ गए। प्रदेश के धार जिले में हुई इस घटना के बाद बैंक की ब्रांच से हेडऑफिस तक कर्मचारियों के हाथ पांव फूल गए।

laborer_became_millionaire.png

दरअसल बैंक की गलती से एक मजदूर के खाते में गलत रकम ट्रांसफर हो गई। मजदूर गुजरात का रहने वाला है। पूरा मामला बैंक ऑफ बड़ौदा की राजगढ़ ब्रांच का है जहां एक कर्मचारी ने गलती से मजदूर के खाते में तय रुपयों से ज्यादा रकम ट्रांसफर हो गई। रुपए ट्रांसफर होते ही कर्मचारी को अपनी गलती का एहसास हुआ तो उसने इसकी जानकारी बैंक मैनेजर और हेड ऑफिस को दी।

बैंक प्रबंधन की ओर से तुरंत गुजरात में रुपए पाने वाले व्यक्ति को फोन लगाया गया, लेकिन उसका फोन बंद आया। इसके बाद बैंक अधिकारियों ने पुलिस को सूचना दी। बैंक ऑफ बड़ौदा के मैनेजर योगेंद्र जैन ने राजगढ़ थाना पुलिस के पास शिकायत दर्ज कराई थी। पुलिस के मुताबिक4 मार्च की दोपहर को बैंक कैशियर की गलती से एक व्यक्ति के खाते में तय से ज्यादा रकम ट्रांसफर हो गई थी। पुलिस ने तत्परता से उस शख्स को खोजा और बैंक की रकम को वापस कराया। पूरा वाकया 4 मार्च का बताया जा रहा है।

0 की गलती से पहुंच गए दो लाख
बताया जा रहा है कि बैंक में 20 हजार रुपए जमा करने के लिए चेक दिया गया था, लेकिन कैशियर की गलती से एंट्री करते समय एक शून्य ज्यादा लग गया। जिससे खाते में 2 लाख रुपए ट्रांसफर हो गए। जब कैशियर को अपनी गलती का एहसास हुआ तो खाताधारक से संपर्क करने की कोशिश की गई। जब उसका फोन बंद आया तो बैंक मेनेजर ने पुलिस से मदद मांगी।

राजगढ़ थाना प्रभारी ब्रजेश कुमार मालवीय ने बताया कि बैंक द्वारा दिनेश नाम के खाताधारक के खाते में गलती से 20 हजार की जगह 2 लाख रुपए ट्रांसफर हो गए थे, बैंक प्रबंधन ने इसकी शिकायत की थी। खाताधारक कुछ महीनों पहले गुजरात में मजदूरी करने गया था और उसने वहां की बैंक में खाता खुलवाया लिया था। इसीलिए बैंक खाते में पता भी गुजरात का ही मिला था। पुलिस ने दिनेश की फोटो और मोबाइल नंबर लेकर उसकी तलाश की तो पता चला कि दिनेश मध्य प्रदेश का ही रहने वाला है। बाद में दिनेश ने अपने 20 हजार रुपए काटकर बाकी बचे रुपए बैंक को वापस कर दिए।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

द्वारकाधीश मंदिर में पूजा के साथ आज शुरू होगा BJP का मिशन गुजरात, मोदी के साथ-साथ अमित शाह भी पहुंच रहेRajasthan: एंटी करप्शन ब्यूरो की सक्रियता से टेंशन में Gehlot Govt, अब केंद्र की तरह जांच से पहले लेनी होगी अनुमतिVIP कल्चर पर पंजाब की मान सरकार का एक और वार, 424 वीआईपी को दी रही सुरक्षा व्यवस्था की खत्मओडिशा में "भ्रूण लिंग" जांच गिरोह का भंडाफोड़, 13 गिरफ्तारमां की खराब तबीयत के बावजूद बल्लेबाजों पर कहर बनकर टूटे ओबेड मैकॉय, संगकारा ने जमकर की तारीफRenault Kiger: फैमिली के लिए बेस्ट है ये किफायती सब-कॉम्पैक्ट SUV, कम दाम में बेहतर सेफ़्टी और महज 40 पैसे/Km का मेंटनेंस खर्चAnother Front of Inflation : अडानी समूह इंडोनेशिया से खरीद राजस्थान पहुंचाएगा तीन गुना महंगा कोयला, जेब कटना तयसुकन्या समृद्धि योजना में सरकार ने किए बड़े बदलाव, जानें क्या है नए नियम
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.