वास्तुदोष भी होता है विवाह में रुकावट का कारण, जल्द करें दोषों को दूर

वास्तुदोष भी होता है विवाह में रुकावट का कारण, जल्द करें दोषों को दूर

Tanvi Sharma | Publish: May, 18 2018 02:55:34 PM (IST) | Updated: May, 18 2018 02:55:35 PM (IST) धर्म कर्म

shadiवास्तुदोष भी होता है विवाह में रुकावट का कारण, जल्द करें दोषों को दूर

आज के दौर में कुंवारे युवक-युवतियों के शादी-विवाह के लिए माता-पिता बहुत परेशान नजर आते हैं। अधिकतर अच्छे पढ़े-लिखे खूबसूरत, स्मार्ट, उच्च पदों पर कार्यरत या सफल व्यवसायी होने के बाद भी कई परिवारों के जवान लड़के-लड़कियों की शादियों में रुकावटें आने से देरी होती रहती है। अभिभावक अपने बच्चों की शादी-विवाह को लेकर बहुत परेशान-चिंतित रहते हैं और इसी चिंता को लेकर वे पंडितों या ज्योतिषों के पास जाकर सलाह, मशवरा लेते हैं। लेकिन इसके पीछे का कारण क्या है इसके बारे में शायद ही हमने सोचा होगा, किन कारणों से विवाह में विलंब हो रहा है। इनमें से एक मुख्य कारण वास्तु दोष भी हो सकता है। तो अगर आप भी अपने बच्चों के शादी में आ रही बाधाओं या देरी को लेकर परेशान हैं तो इन वास्तुदोषों को दूर करने को लेकर विचार करें।

आप शायद नहीं जानते होंगे के अनियमित आकार के घरों में कुछ ऐसे वास्तुदोष होते हैं जो भाग्य के साथ-साथ शादी में रुकावटें पैदा करते हैं। तो आइए आपको बताते हैं की किस प्रकार के दोषों से आती है बच्चों के शादी में रुकावटें। बच्चों का विवाह समयानुसार हो जाए इसके लिए वास्तुशास्त्र के सिद्धान्तों का पालन जरुर करें।

vivah

1. विवाह योग्य युवक-युवतियों के विवाह में विलंभ हो रहा है, तो सबसे पहले उनके कमरे में दरवाजें का रंग गुलाबी होना चाहिए। और हल्का पीला, सफेद रंग उनके कमरों की दिवारों पर करवाने से वास्तुदोष दूर होता है।

2. विवाह योग्य लड़के-लड़कियों को उत्तर या उत्तर-पश्चिम दिशा के कमरे में रहना चाहिए। इस दिशा में रहने से शादी के लिए रिश्ते आने लगते हैं। और कमरे में सोते समय ध्यान रहे के आपका सर हमेशा पूर्व दिशा में रखकर सोना चाहिए।

3. विवाह योग्य युवक-युवतियों को अधूरे कमरे में नहीं रहना चाहिए या किसी ऐसे कमरे में नहीं रहना चाहिए जिसमें बीम हो या उसमें बीम लटका हुआ हो इस तरह के कमरे में रहने से विवाह में कई प्रकार की बाधाएं आती है।

4. जिनके बच्चे शादी के लिए राजी नहीं होते ऐसे युवक-युवतियों के कमरे की उत्तर दिशा की और क्रिस्टल बॉल कांच की प्लेट या प्याली में रखनी चाहिए।

4. जिन विवाह योग्य युवक-युवतियों का विवाह नहीं हो पा रहा हैं, तो उन्हें विवाह के लिए अपने कमरे में पूर्वोत्तर दिशा में पानी का फव्वारा रखना चाहिए।

Ad Block is Banned