script12 teachers working in the government school lake, 6 children could pa | राजकीय विद्यालय झील में 12 शिक्षक कार्यरत, दसवीं में 6 बच्चे हो सके पास, 26 हुए फेल | Patrika News

राजकीय विद्यालय झील में 12 शिक्षक कार्यरत, दसवीं में 6 बच्चे हो सके पास, 26 हुए फेल

बसेड़ी. माध्यमिक शिक्षा बोर्ड के सोमवार को आए दसवीं कक्षा के परीक्षा परिणाम में झील के राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय में सेकेंडरी परीक्षा परिणाम 20 प्रतिशत से भी कम रहने पर गांव में एक ओर छात्र छात्राओं के साथ अभिभावकों में मायूसी छाई हुई है, वहीं ग्रामीणों में परिणाम को लेकर विद्यालय में कार्यरत शिक्षकों के प्रति आक्रोश बना हुआ है।

धौलपुर

Published: June 14, 2022 08:11:19 pm

राजकीय विद्यालय झील में 12 शिक्षक कार्यरत, दसवीं में 6 बच्चे हो सके पास, 26 हुए फेल

बसेड़ी. माध्यमिक शिक्षा बोर्ड के सोमवार को आए दसवीं कक्षा के परीक्षा परिणाम में झील के राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय में सेकेंडरी परीक्षा परिणाम 20 प्रतिशत से भी कम रहने पर गांव में एक ओर छात्र छात्राओं के साथ अभिभावकों में मायूसी छाई हुई है, वहीं ग्रामीणों में परिणाम को लेकर विद्यालय में कार्यरत शिक्षकों के प्रति आक्रोश बना हुआ है। ग्रामीणों ने विद्यालय में परीक्षा परिणाम की गिरावट में जिम्मेदार शिक्षकों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है। ग्रामीणों के अनुसार ग्राम पंचायत मुख्यालय पर राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय झील में वर्तमान में 12 शिक्षक कार्यरत हैं। सोमवार को राजस्थान माध्यमिक शिक्षा बोर्ड की ओर से सेकेंडरी बोर्ड परीक्षा परिणाम जारी किया गया। परिणाम को लेकर बेहद चिंताजनक स्थिति सामने आई है। 20 प्रतिशत से भी कम परीक्षा परिणाम रहने पर विद्यालय में पढऩे वाले छात्र-छात्राओं के घरों पर मायूसी बनी रही। इसको लेकर अभिभावकों तथा ग्रामीणों मेंं आक्रोश है।
32 में से 6 पास
12 teachers working in the government school lake, 6 children could pass in 10th class, 26 failed
राजकीय विद्यालय झील में 12 शिक्षक कार्यरत, दसवीं में 6 बच्चे हो सके पास, 26 हुए फेल
ग्रामीणों ने बताया कि कक्षा दसवीं में 32 छात्र छात्राएं अध्ययनरत हैं। जिनमें से मात्र 6 विद्यार्थी पास हो सके हैं। तीन की सप्लीमेंट्री आई है। खास बात तो यह कि उनमें से भी 4 सेकंड डिविजन तथा एक फस्र्ट डिवीजन तथा एक थर्ड डिवीजन ही पास हो सके। ग्रामीणों तथा ग्राम पंचायत की सरपंच ने आरोप लगाया कि विद्यालय में कार्यरत शिक्षकों की लापरवाही के चलते परीक्षा परिणाम में भारी गिरावट आई है। ग्रामीणों ने विधायक खिलाड़ी लाल बैरवा तथा जिला शिक्षा अधिकारी अरविंद शर्मा से कार्रवाई की मांग की है।
बच्चों के शिक्षण व्यवस्था पर नहीं दिया ध्यान
जानकारी के अनुसार विद्यालय में कार्यरत जिम्मेदार शिक्षकों का बोर्ड परीक्षा के छात्र छत्राओं शिक्षण व्यवस्था पर गंभीर लापरवाही बरती गई है। प्रधानाचार्य का पद रिक्त होने की वजह से बड़ी समस्या सामने उभर कर आई। विद्यालय में इंग्लिश गणित और विज्ञान जैसी महत्वपूर्ण वरिष्ठ अध्यापकों की पद रिक्त होने की वजह से शिक्षा व्यवस्था बदहाल हुई। कार्यरत संस्था प्रधान संजीव शर्मा ने बताया कि मुख्य तीनों विषयों के वरिष्ठ अध्यापकों के पद रिक्त थे। दिसंबर के अंतिम में उन्होंने पदभार संभाला, उन्होंने बताया कि उनके द्वारा तीन बार ब्लॉक मुख्य शिक्षा अधिकारी तथा जिला शिक्षा अधिकारी एवं ग्राम पंचायत की सरपंच को लिखित में शिक्षकों की व्यवस्था के लिए पत्र विद्यालय की तरफ से एसडीएमसी के माध्यम से लिखा गया। इसके बाद भी शिक्षण व्यवस्था नहीं हुई। अपने स्तर पर एक दो बार शिक्षक लगाकर शिक्षण व्यवस्था को बेहतर कराए जाने का प्रयास किया गया।
इनका कहना है

विद्यालय के परीक्षा परिणाम अगर इस तरह रहा है तो बेहद गंभीर है। जिम्मेदार शिक्षकों को नोटिस जारी कर कार्रवाई की जाएगी। आगे विद्यालय पर विशेष नजर रहेगी। अरविंद शर्मा, जिला शिक्षा अधिकारी माध्यमिक, धौलपुर
विद्यालय में कार्यरत शिक्षकों की लापरवाही की वजह से परीक्षा परिणाम 20 प्रतिशत से भी कम आया है। बच्चों के भविष्य से खिलवाड़ हुआ है। विधायक और जिला शिक्षा अधिकारी के अलावा कलक्टर को कार्रवाई के लिए पत्र लिखेंगे। रामरति कुशवाहा, सरपंच, ग्राम पंचायत, झील ।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Monsoon Alert : राजस्थान के आधे जिलों में कमजोर पड़ेगा मानसून, दो संभागों में ही भारी बारिश का अलर्टमुस्कुराए बांध: प्रदेश के बांधों में पानी की आवक जारी, बीसलपुर बांध के जलस्तर में छह सेंटीमीटर की हुई बढ़ोतरीराजस्थान में राशन की दुकानों पर अब गार्ड सिस्टम, मिलेगी ये सुविधाधन दायक मानी जाती हैं ये 5 अंगूठियां, लेकिन इस तरह से पहनने पर हो सकता है नुकसानस्वप्न शास्त्र: सपने में खुद को बार-बार ऊंचाई से गिरते देखना नहीं है बेवजह, जानें क्या है इसका मतलबराखी पर बेटियों को तोहफे में देना चाहता था भाई, बेटे की लालसा में दूसरे का बच्चा चुरा एक पिता बना किडनैपरबंटी-बबली ने मकान मालिक को लगाई 8 लाख रुपए की चपत, बलात्कार के केस में फंसाने की दी थी धमकीराजस्थान में ईडी की एन्ट्री, शेयर ब्रोकर को किया गिरफ्तार, पैसे लगाए बिना करोड़ों की दौलत

बड़ी खबरें

Independence Day 2022: भारत की आजादी के 75 साल पूरे होने पर इन देशों ने दी बधाईयां और कही ये बातKarnataka News: शिवमोग्गा में सावरकर के पोस्टर को लेकर बढ़ा विवाद, धारा 144 लागूसिंगर राहुल जैन पर कॉस्ट्यूम स्टाइलिस्ट के साथ रेप का आरोप, मुंबई पुलिस ने दर्ज की एफआईआरशख्स के मोबाइल पर गर्लफ्रेंड ने भेजा संदिग्ध मैसेज, 6 घंटे लेट हुई इंडिगो की फ्लाइट, जाने क्या है पूरा मामलासिर्फ 'हर घर' ही नहीं, 'स्पेस' में भी लहराया 'तिरंगा', एस्ट्रोनॉट राजा चारी ने अंतरिक्ष स्टेशन पर लहराते झंडे की शेयर की तस्वीरबिहार : नीतीश कुमार का बड़ा ऐलान, 20 लाख युवाओं को देंगे नौकरी और रोजगारIndependence Day 2022 : अगले 25 सालों का क्या है प्लान, पीएम मोदी के भाषण की 10 बड़ी बातेंस्वतंत्रता दिवस के मौके पर लेह पहुंचे मनोज तिवारी और निरहुआ, जवानों को परोसा खाना
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.