14 बाल श्रमिकों को कराया मुक्त, दुकानदारों में मची खलबली

सैपऊ. बुधवार को कस्बे में बाल कल्याण समिति, श्रम विभाग, पुलिस और चाइल्ड लाइन द्वारा संयुक्त कार्रवाई करते हुए बाजारों में दुकानों पर काम कर रहे 14 बाल श्रमिकों को मुक्त कराया गया है। जैसे ही बाल श्रम मुक्त की कार्रवाई होते ही बाल श्रम करवा रहे दुकानदारों में खलबली मच गई। कई दुकानदार तो कार्यवाही की भनक लगते ही

By: Naresh

Published: 21 Jan 2021, 01:27 PM IST

14 बाल श्रमिकों को कराया मुक्त, दुकानदारों में मची खलबली

सैपऊ. बुधवार को कस्बे में बाल कल्याण समिति, श्रम विभाग, पुलिस और चाइल्ड लाइन द्वारा संयुक्त कार्रवाई करते हुए बाजारों में दुकानों पर काम कर रहे 14 बाल श्रमिकों को मुक्त कराया गया है। जैसे ही बाल श्रम मुक्त की कार्रवाई होते ही बाल श्रम करवा रहे दुकानदारों में खलबली मच गई। कई दुकानदार तो कार्यवाही की भनक लगते ही बाल श्रमिकों को इधर उधर भगाते हुए नजर आए। बाल कल्याण समिति अध्यक्ष रवि पचौरी ने बताया कि कार्रवाई करने से पहले तीन चार दिन लगातार बाल कल्याण समिति सदस्य लगातार बाजार में निगरानी कर पता लगाते हैं कि किस जगह किस दुकानों या फैक्ट्री में बाल मजदूर काम कर रहे हैं। तब जाकर मिलकर संयुक्त टीम द्वारा चलाकर कार्रवाई की जाती है। वहीं बुधवार को टीम के सदस्य और विभागीय कर्मचारियों ने 14 बाल श्रमिकों को मुक्त किया है। बाल श्रम करा रहे दुकानदारों के खिलाफ कार्यवाही की जाएगी। यह अभियान लगातार जारी रहेगा। अगर कोई भी दुकानदार, दुकान या फैक्ट्री में बाल श्रम करा रहा है तो जिसकी सूचना कोई भी व्यक्ति हमें दे सकता है। जिससे इनके खिलाफ कार्रवाई हो सके। इस दौरान कार्यवाही में शामिल बाल कल्याण समिति सदस्य बृजेश मुखरईया, नरगिस शरीफी, लेवर इंस्पेक्टर विमल प्रताप सिंह, एसआई उदय भान सिंह गुर्जर, रीना त्यागी और अन्य लोग शामिल थे।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned