पुलिस चौकी के सामने पलटी चंबल बजरी से भरी ट्रेक्टर-ट्रॉली

धौलपुर. जिले में बजरी माफियाओं का दुस्साहस बुलंदियों पर है। यहां मंगलवार सुबह निहालगंज थाने की ओडेला पुलिस चौकी के सामने चंबल बजरी से भरे एक ट्रेक्टर-ट्रॉली ने पुलिस की तमाम व्यवस्थाओं की पोल खोल कर रख दी है। सूचना मिलने के बाद पुलिस के देरी से पहुंचने के पहले ही माफिया अपने साथियों को लेकर मौके पर पहुंचे और ट्रॉली छोड़कर टे्रक्टर ले गए। गंभीर बात यह रही कि घटना स्थल पर पुलिस की मौजूदगी के दौरान भी चंबल बजरी से भरे ट्रेक्टर-ट्रॉली बेरोकटोक निकलते रहे, लेकिन पुलिस ने इन्हें रोकने की जहमत तक नहीं

By: Naresh

Published: 17 Jun 2020, 06:32 PM IST

पुलिस चौकी के सामने पलटी चंबल बजरी से भरी ट्रेक्टर-ट्रॉली
- दुर्घटना के बाद ट्रॉली छोड़कर ट्रेक्टर ले गए बजरी माफिया
-पुलिस की मौजूदगी में निकलते रही बजरी से भरे ट्रैक्टर-ट्रॉली
धौलपुर. जिले में बजरी माफियाओं का दुस्साहस बुलंदियों पर है। यहां मंगलवार सुबह निहालगंज थाने की ओडेला पुलिस चौकी के सामने चंबल बजरी से भरे एक ट्रेक्टर-ट्रॉली ने पुलिस की तमाम व्यवस्थाओं की पोल खोल कर रख दी है। सूचना मिलने के बाद पुलिस के देरी से पहुंचने के पहले ही माफिया अपने साथियों को लेकर मौके पर पहुंचे और ट्रॉली छोड़कर टे्रक्टर ले गए। गंभीर बात यह रही कि घटना स्थल पर पुलिस की मौजूदगी के दौरान भी चंबल बजरी से भरे ट्रेक्टर-ट्रॉली बेरोकटोक निकलते रहे, लेकिन पुलिस ने इन्हें रोकने की जहमत तक नहीं उठाई।
जानकारी के अनुसार निहालगंज थाना की ओडेला पुलिस चौकी के सामने से मंगलवार सुबह बड़ी संख्या में प्रतिबंधित चंबल बजरी से भरे ट्रेक्टर-ट्रॉली गुजर रहे थे, इस दौरान एक ट्रेक्टर ने अनियंत्रित रफ्तार से रास्ते से गुजर रहे गर्भवती शूकर को टक्कर मार दी। ट्रेक्टर की रफ्तार अधिक होने के कारण वह रास्ते में पलट गया। स्थानीय लोगों ने घटना की सूचना पुलिस को दी। सूचना मिलने के करीब आधा घंटे से देरी से पुलिस मौके पर पहुंची, इससे पहले अन्य बजरी माफिया यहां पहुंच गए और ट्रेक्टर को ट्रॉली से अलग करके मौके से फरार हो गए। मौके पर पहुंची पुलिस ने ट्रॉली को जब्त कर लिया और थाने ले आई।

पुलिस की मौजूदगी निकलते रही बजरी वाहन
दुर्घटना की सूचना पर मौके पर पहुंची निहालगंज थाना पुलिस ने ट्रॉली को जब्त कर लिया और थाने के लिए रवाना कर दिया। इस दौरान जब पुलिसकर्मी यहां मौके पर मौजूद रहे, तब बजरी से भरी अन्य ट्रेक्टर-ट्रॉलियां भी बेरोकटोक गुजरते रहे, लेकिन किसी भी पुलिसकर्मी ने इन्हें ना तो रोकने का प्रयास किया और ना ही इनका पीछा किया। पुलिसकर्मी केवल खड़े-खड़े देखते हुए नजर आए।
मामले की टालमटोल करने में जुटी पुलिस
घटना के संबंध में जब पुलिस से जानकारी मांगी गई तो मौके पर पहुंचने वाले निहालगंज थाने के एएसआई महावीर ने दुर्घटना के मामले का लेकर स्पष्ट जानकारी दिए जाने से इंकार कर दिया। एएसआई का कहना है कि उनके पास सुबह से कई लोगों के फोन आ चुके है। वे किसी भी घटना के बारे में बार-बार किसी को जानकारी नहीं दे सकते है।
पुलिस की कार्यशैली पर खड़े छोड़ गई दुर्घटना
ओडेला रोड पर बजरी के पलटने की दुर्घटना पुलिस की कार्यशैली पर कई सवाल खड़े कर रही है। जिस आमरास्ते से प्रतिबंधित चंबल बजरी से भरे वाहनों का आवागमन हो रहा है, वहां पर निहालगंज थाने की पुलिस चौकी भी है, लेकिन चौकी पुलिस की यहां से गुजरने वाले बजरी के वाहनों को देखकर मूक दर्शक बनी रहती है। स्थानीय लोगों ने बताया कि ओडेला रोड पर रोजना बजरी से भरे वाहनों का आवागमन बना रहता है।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned