सोच में बदलाव लाकर गांव को शहरों से बेहतर बनाया जा सकता है

सोच बदलो गांव बदलो’ टीम की 31वीं मीटिंग का आयोजन गांव गढ़ाखोह में आयोजित की गई। टीम के द्वारा पूर्व में आयोजित शिक्षा पाओ ज्ञान बढ़ाओ प्रतियोगिता में उत्कृष्ट परिणाम लाने वाले 16 छात्र-छात्राओं को टीम व ग्रामीणों के द्वारा पुरस्कृत किया गया।

By: Mahesh gupta

Published: 01 Jul 2019, 05:01 PM IST

सोच में बदलाव लाकर गांव को शहरों से बेहतर बनाया जा सकता है
-सोच बदलो गांव बदलो टीम
धौलपुर. ‘सोच बदलो गांव बदलो’ टीम की 31वीं मीटिंग का आयोजन गांव गढ़ाखोह में आयोजित की गई। टीम के द्वारा पूर्व में आयोजित शिक्षा पाओ ज्ञान बढ़ाओ प्रतियोगिता में उत्कृष्ट परिणाम लाने वाले 16 छात्र-छात्राओं को टीम व ग्रामीणों के द्वारा पुरस्कृत किया गया। जिसमे 8 लड़कियां व 8 लडक़े शामिल हुए। सभी बच्चों को पुरस्कार स्वरूप एक बैग, ट्रॉफी, नोट बुक व पानी की बोतल देकर उन्हें शिक्षा के प्रति जाग्रत किया। कार्यक्रम का संचालन रामसहाय मीना द्वारा किया गया। गांव का प्रतिवेदन राकेश मीना ने प्रस्तुत किया। जिसमें गांव की वास्तविक परिस्तिथियों से अवगत कराया।
टीम के उद्देश्यों व ग्रामीण जीवन पर प्रकाश डालते हुए देवेंन्द्र सिंह ने लोगो को समस्या का मूल कारण बताते हुए कहा कि समाज मे नकारात्मक भाव के साथ बढ़ती निंदा व दुर्भावना की सोच ही ग्रामीणों के जीवन में समस्याओं को जन्म दे रही, जिससे सभी ग्रामीण बंधु अनभिज्ञ है। सोच बदलो गांव बदलो टीम समाज में भेदभाव, नकारात्मकता को मिटाकर शिक्षा के प्रति लोगों को जागरूग कर लोगों में बदलाव लाने का सकारात्मक प्रयास कर रही है। व्याख्याता हेमराज ने लोगों को अपनी समस्याओं को स्वयं कैसे सुलझाया जा सकता है इस पर अपने विचार ग्रामीणों के समक्ष रखे व सरकारी योजनाओं में जनसहभागिता के साथ कार्य कर गांव को शहर से भी सुंदर बनाने पर जोर दिया। टीम के साथी रूप सिंह, सन्तराम मीना ने बच्चों को प्रोत्साहित करते महिलाओं को छोटे-छोटे घरेलू झगड़ों पर नही लडऩे की बात कहानियों के माध्यम से समझाई। नशा मुक्ति पर अपनी बात रखते हुए देवेंद्र प्रताप ने लोगों को शराब, गुटखा, बीड़ी, तम्बाकू से दूर रहने व उनसे होने वाले नुकसानों के बारे में लोगो लो बताया। इंदौर आयकर आयुक्त सत्यपाल मीना ने ऑडियो के माध्यम से लोगों से संवाद स्थापित किया और गांव के विकास पर अपनी रखते हुए गढ़ाखोह के युवाओं को अपने गांव के विकास में आगे आने की अपील की।
आखिर में सभी ग्राम वासियो ने शपथ ली कि वो अपने गांव में भाई चारे के साथ प्रेम पूर्वक रहेंगे व गांव को अतिक्रमण मुक्त, साफ व सुंदर बनाएंगे। इस कार्यक्रम में गांव के सैकड़ों लोगों के साथ गांव के प्रकाश, ईश्वरलाल, मेघा, रामखिलाड़ी, भंवर लाल, विनोद, राकेश, भगवान सिंह, केदार आदि व सोच बदलो गांव बदलो टीम के रामफूल, राजेन्द्र, विजय, रामनरेश, अजय रावत, बाबूलाल, श्रीनिवास, निरोत्तम, रामरज, माताप्रसाद, महेंद्र, संजीव आदि अनेक साथियों ने अपनी भागीदारी निभाकर कार्यक्रम को सफल बनाया।

 

Mahesh gupta Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned