scriptChildren know policing, thrilled to see weapons | बच्चों ने जानी पुलिसिंग, हथियार देख हुए रोमांचित | Patrika News

बच्चों ने जानी पुलिसिंग, हथियार देख हुए रोमांचित

- राजस्थान पत्रिका की पहल: चाइल्ड फ्रेंडली मनियां थाना में जानी पुलिस की कार्यप्रणाली

- बच्चों के अधिकारों के बारे में दी गई जानकारी

मनियां. अंकल, ये एफआइआर क्या होती है? बदमाशों को गिरफ्तार कैसे किया जाता है..? ऐसे ही कुछ सवाल स्कूली बच्चों ने मनियां थाना प्रभारी लाखन सिंह से किए।

धौलपुर

Published: September 23, 2022 07:14:04 pm

बच्चों ने जानी पुलिसिंग, हथियार देख हुए रोमांचित

- राजस्थान पत्रिका की पहल: चाइल्ड फ्रेंडली मनियां थाना में जानी पुलिस की कार्यप्रणाली

- बच्चों के अधिकारों के बारे में दी गई जानकारी

मनियां. अंकल, ये एफआइआर क्या होती है? बदमाशों को गिरफ्तार कैसे किया जाता है..? ऐसे ही कुछ सवाल स्कूली बच्चों ने मनियां थाना प्रभारी लाखन सिंह से किए। राजस्थान पत्रिका की पहल पर धौलपुर के संस्कार एकेडमी स्कूल के विद्यार्थी मनियां थाने पहुंचे। यहां चाइल्ड फें्रडली मनियां थाने में स्कूली बच्चों ने पुलिस की कार्यप्रणाली जानी। बता दें, हाल ही में मनियां थाने को चाइल्ड फ्रेंडली थाने के रूप में विकसित किया गया है। थाना प्रभारी सिंह ने बताया कि चाइल्ड फे्रंडली थाने का उद्देश्य किशोरों एवं बच्चों तथा पुलिस के बीच दोस्ताना व्यवहार देने का प्रयास करना है।
Children know policing, thrilled to see weapons
बच्चों ने जानी पुलिसिंग, हथियार देख हुए रोमांचित
गुरुवार को बड़ी संख्या में स्कूली बच्चे मनियां थाना पहुंचे। यहां थाना प्रभारी ने उन्हें स्वागत कक्ष से लेकर मालखाना, कम्प्यूटर कक्ष, हवालात, बाल कक्ष आदि के बारे में जानकारी दी। चाइल्ड लाइन हेल्पलाइन नंबर 1098 के बारे में बताया। साथ ही बच्चों को उनके अधिकार भी बताए गए। इस मौके पर बाल संरक्षण अधिकारी सुरेश चन्द ने बताया कि थाने में आने वाले पीडि़त अथवा विधि से संघर्षरत बच्चों को किस प्रकार कानूनी सहायता दी जाती है।गुड टच, बैड टचइस मौके पर बच्चों को गुड टच और बेड टच के बारे में जानकारी दी गई।
थाना प्रभारी ने बच्चों से कहा कि अगर कोई गलत तरीके से छूता है तो विरोध करें। फिर चाहे वह परिजन या रिश्तेदार ही क्यों न हो। तुरंत इसकी जानकारी माता-पिता को दें। स्कूल में अध्यापकों को बताएं। हथियारों की दी जानकारीविजिट के दौरान बच्चों को पुलिस के हथियारों के बारे में जानकारी दी गई। खासतौर से इंसास राइफल देख बच्चे खासे रोमांचित हुए। थाना प्रभारी ने बच्चों को हथियारों की रेंज, घातकता आदि के बारे में बताया। बच्चों को आंसू गैस आदि के बारे में भी बताया गया।

सबसे लोकप्रिय

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Weather Update: राजस्थान में बारिश को लेकर मौसम विभाग का आया लेटेस्ट अपडेट, पढ़ें खबरTata Blackbird मचाएगी बाजार में धूम! एडवांस फीचर्स के चलते Creta को मिलेगी बड़ी टक्करजयपुर के करीब गांव में सात दिन से सो भी नहीं पा रहे ग्रामीण, रात भर जागकर दे रहे पहरासातवीं के छात्रों ने चिट्ठी में लिखा अपना दुःख, प्रिंसिपल से कहा लड़कियां class में करती हैं ऐसी हरकतेंनए रंग में पेश हुई Maruti की ये 28Km माइलेज़ देने वाली SUV, अगले महीने भारत में होगी लॉन्चGanesh Chaturthi 2022: गणेश चतुर्थी पर गणपति जी की मूर्ति स्थापना का सबसे शुभ मुहूर्त यहां देखेंJaipur में सनकी आशिक ने कर दी बड़ी वारदात, लड़की थाने पहुंची और सुनाई हैरान करने वाली कहानीOptical Illusion: उल्लुओं के बीच में छुपी है एक बिल्ली, आपकी नजर है तेज तो 20 सेकंड में ढूंढकर दिखाये

बड़ी खबरें

सोशल मीडिया पर भी लगाम, प्रतिबंध के बाद अब PFI का ऑफिशियल ट्विटर अकाउंट भी हुआ बंदजम्मू-कश्मीर: उधमपुर धमाके की जांच के लिए फॉरेंसिक एक्सपर्ट के NIA की टीम रवाना, आतंकी साजिश की आशंका'हिम्मत हैं तो बिहार में RSS पर बैन लगाकर दिखाए', संघ पर प्रतिबंध लगाने की मांग पर गिरिराज सिंह ने लालू यादव को दी चुनौतीआज से 2 दिन के गुजरात दौरे पर प्रधानमंत्री मोदी, 29 हजार करोड़ रुपए की परियोजनाओं की देंगे सौगातIND vs SA: जसप्रीत बुमराह फिर हुए चोटिल, टी20 वर्ल्ड कप से पहले भारत की मुसीबतें बढ़ीHoroscope Today 29 September: कैसा रहेगा आपके लिए नवरात्रि का चौथा दिन, पढ़ें आज का राशिफलNew CDS: रिटायर्ड ले. जनरल अनिल चौहान को मिली CDS की कमान, अजीत डोभाल के करीबी और आतंकवाद पर लगाम लगाने में हैं माहिरहाई कोर्ट बार एसोसिएशन के चुनाव आज, इन दिग्गजों में होगी टक्कर
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.