कलक्टर ने कोरोना नियंत्रण के लिए धर्मगुरु व स्ट्रीट वेंडरों के साथ की बैठक

धौलपुर. जिले में बढ़ रहे कोरोना मामलों को नियंत्रित करने के लिए जिला कलक्टर राकेश कुमार जायसवाल ने शनिवार को जिले के धर्मगुरुओं तथा स्ट्रीट वेंडरों की कलक्ट्रेट में बैठक ली।

By: Naresh

Published: 10 Apr 2021, 09:19 PM IST

कलक्टर ने कोरोना नियंत्रण के लिए धर्मगुरु व स्ट्रीट वेंडरों के साथ की बैठक
माइक्रो कंटेनमेंट जोन में रहेगी जीरो मोबिलिटी

धौलपुर. जिले में बढ़ रहे कोरोना मामलों को नियंत्रित करने के लिए जिला कलक्टर राकेश कुमार जायसवाल ने शनिवार को जिले के धर्मगुरुओं तथा स्ट्रीट वेंडरों की कलक्ट्रेट में बैठक ली। उन्होंने कहा कि कोरोना संक्रमण बढऩा गम्भीर है। दूसरी लहर अपेक्षाकृत तेज गति से बढ़ रही है और युवा आबादी भी संक्रमित हो रही है। कोविड संक्रमण को अनुशासन, अधिक टेस्टिंग और टीकाकरण पर जोर देकर ही नियंत्रित किया जा सकता है। बैठक में कहा कि जिला प्रशासन द्वारा जारी नियमों की पालना करें। नियमों की अवहेलना करने वाले लोगों पर कानूनी कार्रवाई की जाएगी। कहा कि भंडारे के आयोजनों को पूर्णत: बंद किया जाए। अगर कोई भी भंडारा सक्रिय पाया गया तो आयोजकों पर कानूनी कार्यवाही की जाएगी।
मास्क लगाएंगे फल-सब्जी विक्रेता
फल वाले, सब्जी वाले एवं ठेले वाले भी कड़ाई से मास्क लगाने एवं भीड़भाड़ करने से बचें। कोरोना गाइडलाइन की पालना करें। उन्होंने कहा कि कोरोना संक्रमण की रफ्तार रोकने के लिए राज्य सरकार ने 30 अप्रेल तक सभी जिलों में कंटेनमेंट जोन चिन्हित कर उनमें जीरो मोबिलिटी सुनिश्चित करने का निर्णय लिया है। इसके साथ ही शहरी इलाकों से लगते ग्रामीण क्षेत्रों में 9वीं कक्षा तक के स्कूलों में नियमित कक्षाओं का संचालन बंद रखने के निर्देश भी जारी किए गए हैं। जिला स्तरीय कंट्रोल रूम सहित 181 हेल्पलाइन चौबीसों घंटे फिर से कार्यशील रहेगी।
उन्होंने कहा कि कोरोना हॉट स्पॉट बन रहे क्षेत्रों की पहचान कर इनको नियमानुसार माइक्रो कंटेनमेंट जोन घोषित किया जाएगा।
दस से अधिक व्यक्तियों के एकत्रितकरण पर रोक
उन्होंने बताया कि माइक्रो कंटेनमेंट जोन में धारा-144 के तहत शून्य मोबिलिटी की जाएगी। सभी नगरीय क्षेत्रों में 10 से अधिक लोगों के एकत्रित होने पर रोक के साथ-साथ भीड़-भाड़ वाले क्षेत्रों में मास्क पहनने और सामाजिक दूरी की पालना कराई जाएगी।
उपखण्डाधिकारी धौलपुर भारती भारद्वाज ने कहा कि पिछले कुछ दिनों में जिले में भी संक्रमितों की संख्या में तेजी से हुए इजाफे का बड़ा कारण लोगों में कोविड अनुशासन के प्रति लापरवाही बरतना है। उन्होंने इस ढिलाई को रोकने के लिए एक बार फिर समाज के सभी वर्गों का सहयोग करने का आह्वान किया। कहा कि इससे ठेले वाले और मजदूर वर्ग के लोगों को भी बैठक में शामिल करने से जागरूकता का भाव पैदा होगा। उन्होंने कहा कि कड़ाई से नियमों को पालना करना बहुत आवश्यक है। सीएमएचओ डॉ. गोपाल प्रसाद गोयल ने जिले में ऑक्सीजन की उपलब्धता, कोविड केयर अस्पतालों में चिकित्सा सुविधाओं, दवाओं, टीकाकरण, भर्ती रोगियों की संख्या तथा संक्रमण रोकने के उपायों पर विस्तृत जानकारी दी। बैठक में तहसीलदार धौलपुर भगवत शरण त्यागी, एसीएमएचओ डॉ. चेतराम मीणा, आरसीएचओ डॉ. शिवकुमार शर्मा, सूचना एवं जनसंपर्क अधिकारी राजकुमार मीणा, नायब तहसीलदार चरन सिंह, वरिष्ठ सहायक शैलेन्द्र जादौन, धर्मगुरु, स्ट्रीट वेंडर, प्रधान सदस्य गल्ला मंडी, फल मंडी सदस्य, स्वयं सेवकों सहित अन्य लोग मौजूद रहे।

इनका कहना है
मंदिरों में नहीं करें भीड़
सभी श्रद्धालुओं से आग्रह है कि किसी भी मंदिर में दस से अधिक व्यक्ति नहीं जाएं। वहीं मंदिर पुजारी भी ऑनलाइन दर्शन की व्यवस्था करें, जिससे श्रद्धालुओं को धर्मलाभ मिल सके।
कृष्णदास, महंत, लाडली जगमोहन मंदिर, मचकुण्ड, धौलपुर।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned