जिले में बढऩे लगा कोरोना तो सक्रिय हुआ प्रशासन


धौलपुर. जिले में लगातार कोरोना मरीजों की बढ़ती संख्या तथा राज्य सरकार की ओर से सख्ती के निर्देश मिलने के बाद जिला प्रशासन अब सक्रिय हो गया है। एक दिन पूर्व जहां मध्यप्रदेश सीमा पर सागरपाड़ा चेकपोस्ट पर यात्रियों की जांच पड़ताल के लिए टीम लगा दी, वहीं रविवार को अवकाश के दिन भी जिला कलक्टर ने आपात बैठक बुलाकर अधिकारियों को फील्ड में सक्रिय रहने के निर्देश जारी कर दिए हैं।

By: Naresh

Published: 05 Apr 2021, 10:37 AM IST

जिले में बढऩे लगा कोरोना तो सक्रिय हुआ प्रशासन
कोरोना रोकथाम एवं नियंत्रण के लिए औचक बैठक
- गठित होंगे विशेष निगरानी दल, बनेगा नियंत्रण कक्ष

धौलपुर. जिले में लगातार कोरोना मरीजों की बढ़ती संख्या तथा राज्य सरकार की ओर से सख्ती के निर्देश मिलने के बाद जिला प्रशासन अब सक्रिय हो गया है। एक दिन पूर्व जहां मध्यप्रदेश सीमा पर सागरपाड़ा चेकपोस्ट पर यात्रियों की जांच पड़ताल के लिए टीम लगा दी, वहीं रविवार को अवकाश के दिन भी जिला कलक्टर ने आपात बैठक बुलाकर अधिकारियों को फील्ड में सक्रिय रहने के निर्देश जारी कर दिए हैं।
बरती जाए सख्ती
जिला कलक्टर ने बैठक में कहा कि निगरानी दल, कंट्रोल रूम की स्थापना कर सख्ती बरती जाएगी। साथ ही होम आइसोलेशन मरीज की निगरानी रखी जाने के निर्देश दिए। धौलपुर शहर में कोरोना मरीजों के मोहल्लेवार सूचियां एकत्रित करने तथा उनकी निगरारी के निर्देश दिए। एसडीएम भारती भारद्वाज को मिनी कंटेन्मेंट जोन घोषित होने की सूचना उपलब्ध कराने के निर्देश दिए।

मंदिरों में केवल पांच लोग

धार्मिक परिसरों में भीड़भाड़ की शिकायतें प्राप्त होने के चलते कहा कि धार्मिक स्थलों पर पुजारी, मौलवी या अन्य सहित मंदिर परिसर में 5 से अधिक लोग उपस्थित नहीं रहे। बड़ी सब्जी मंडी में भी बिना मास्क के लोगों की भीड़ रहने की शिकायत के चलते भीड़ कम करने एवं मास्क की अनिवार्यता रहेगी। बिना मास्क पाए जाने पर एपीडिमिक डिसीज एक्ट के तहत कानूनी कार्यवाही अमल में लाई जाएगी।

दूसरी लहर तेज
कलक्टर ने राज्य सरकार के आदेशानुसार गाइडलाइन की पालना के चलते जिले में कोरोना वायरस संक्रमण की स्थिति को नियंत्रित करने के लिए आगामी 15 दिन के लिए सख्त कदम उठाने का निर्णय लिया है। आमजन के संक्रमण के प्रति लापरवाह हो जाने के कारण ही कोविड 19 की दूसरी लहर तेज गति के साथ आई है। यदि हम सब मास्क पहनने, उचित दूरी और बार बार हाथ धोने के हैल्थ प्रोटोकॉल की पालना अनिवार्य रूप से नहीं करेंगे, तो कोरोना वायरस का संक्रमण भयावह रूप ले लेगा। टीकाकरण कराने, जांच कराने के लिए भी आगे आने एवं जागरूक रहने का संदेश दिया।
नहीं माने तो और कड़े कदम उठाएंगे
आमजन से अपील की कि वे संक्रमण से बचाव के लिए जरूरी हैल्थ प्रोटोकॉल की अक्षरश: पालना करें। घर से कम से कम बाहर निकलें। वेबजह यात्रा करने से बचें। यदि आने वाले कुछ दिनों में स्थिति नियंत्रित नहीं हुई, तो वायरस के संक्रमण की चेन को तोडऩे के लिए जिला प्रशासन को और अधिक कदम उठाने पड़ेंगे। सभी को यह बात समझनी चाहिए कि आंकड़ों की दृष्टि से दूसरी लहर के दौरान माहमारी की तस्वीर अधिक भयावह है। जिले के प्रत्येक ब्लॉक के संबंधित उपखण्ड अधिकारियों को होटल, रेस्टोरेन्ट तथा बाजारों में भीड़ नियंत्रित करने के लिए अधिक सख्ती करने के निर्देश दिए। इस अवसर पर उपखण्डाधिकारी धौलपुर भारती भारद्वाज, तहसीलदार धौलपुर भगवत शरण त्यागी, मुख्य स्वास्थ्य निरीक्षक प्रकाश चंद श्रीवास्तव, नीरज शर्मा, भगवान सिंह मीना, कालीचरन, जसराज सहित नगर परिषद कार्मिक सहित अन्य लोग उपस्थित रहे।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned