scriptCrowd of women gathered for free journey on Rakshabandhan | रक्षाबंधन पर निशुल्क यात्रा को महिलाओं की उमड़ी भीड़ | Patrika News

रक्षाबंधन पर निशुल्क यात्रा को महिलाओं की उमड़ी भीड़

धौलपुर. रक्षाबंधन पर्व पर राजस्थान परिवहन निगम की बसों में महिलाओं को निशुल्क यात्रा कराने की घोषणा के बाद बसों में भीड़ बढ़ गई है। रविवार को ही महिलाएं भाइयों के यहां जाने के लिए घरों से निकल गईं तथा बसों में निशुल्क सफर का आनंद लिया। इस दौरान सुबह से बस स्टेण्ड पर महिलाओं का जमाबड़ा लगा रहा।

धौलपुर

Updated: August 22, 2021 07:30:53 pm

रक्षाबंधन पर निशुल्क यात्रा को महिलाओं की उमड़ी भीड़

धौलपुर. रक्षाबंधन पर्व पर राजस्थान परिवहन निगम की बसों में महिलाओं को निशुल्क यात्रा कराने की घोषणा के बाद बसों में भीड़ बढ़ गई है। रविवार को ही महिलाएं भाइयों के यहां जाने के लिए घरों से निकल गईं तथा बसों में निशुल्क सफर का आनंद लिया। इस दौरान सुबह से बस स्टेण्ड पर महिलाओं का जमाबड़ा लगा रहा। दोपहर को स्टेण्ड पर महिलाओं की संख्या में बढ़ गई। रोडवेज बसों में रक्षा बंधन पर रोडवेज की निशुल्क यात्रा को लेकर रविवार सुबह से बस स्टेण्ड पर महिलाओं के पहुंचने का सिलसिला शुरू हो गया, देखते ही देखते बसों में महिलाओं की भीड़ नजर आने लगी। धौलपुर से बाड़ी, बसेड़ी, सरमथुरा, मनियां, राजाखेड़ा के अलावा जयपुर, भरतपुर, करौली, गंगापुरसिंटी के लिए बसों को रवाना किया गया। इनके अलावा अन्य रूटों पर भी बसों को रवाना किया गया। महिलाओं के साथ ही बालिकाओं का भी सफर निशुल्क रहा। 50 बसों का संचालनधौलपुर डिपो की ओर से रविवार को जिले के अलावा प्रदेश के अन्य जिलों के लिए 50 रोडवेज बसों का संचालन किया गया। बसों को चलाने में कोई दिक्कत न आए, इसके लिए चालकों और परिचालकों के अलावा चालक-परिचालक अतिरिक्त रखे गए हैं। खासकर महिलाओं को रक्षाबंधन पर कोई परेशानी न हो, इसके लिए पूरे इंतजाम किए गए हैं।कहीं नहीं दिखी कोरोना गाइडलाइन का पालन कोरोना महामारी का डर अब लोगों में बिल्कुल भी नहीं दिख रहा है। सरकार की हिदायतों के बावजूद परिवहन निगम और निजी बसों में कोरोना गाइडलाइन का पालन नहीं हो रहा है। बसों में निशुल्क सफर करने के लिए आईं अधिकतर महिलाओं ने मास्क नहीं लगा रखे थे। न ही परिवहन निगम द्वारा उन्हें ऐसा करने के लिए कहा गया। इतना ही नहीं बसों में सैनिटाइजेशन की भी व्यवस्था नहीं थी।निजी बसों की छतों पर सफर करते दिखे लोगनिजी बसों में तो इतना बुरा हाल था कि लोग छतों पर भी बैठकर सफर करते नजर आए। लोगों को अपनी जान की परवाह थी और न ही किसी दुर्घटना का डर। बस संचालकों को भी इसकी परवाह नहीं थी। पुलिस, प्रशासनऔर परिवहन निगम ने भी ऐसे बस संचालकों के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं की।
 Crowd of women gathered for free journey on Rakshabandhan
रक्षाबंधन पर निशुल्क यात्रा को महिलाओं की उमड़ी भीड़

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.