scriptDepartment will take action if roadways employee reaches office late | रोडवेजकर्मी ध्यान दें! अभी जानिए विभाग का ये फैसला... नहीं तो पड़ सकता है महंगा! | Patrika News

रोडवेजकर्मी ध्यान दें! अभी जानिए विभाग का ये फैसला... नहीं तो पड़ सकता है महंगा!

locationधौलपुरPublished: Feb 05, 2024 11:17:05 am

Submitted by:

Anant awdichya

देरी से कार्यालय आने वाले रोडवेज कर्मचारियों(roadways employee) पर अब गाज गिर सकती है। कर्मचारियों में समय पर कार्यालय पहुंचना होगा।

rajasthan_roadways_employee_1.jpg

धौलपुर। रोडवेज डिपो के कर्मचारियों को अब अपनी लेट-लतीफी की आदत में बदलाव लाना होगा। नहीं तो विभाग उन पर कार्रवाई करने के लिए तैयार है। देरी से कार्यालय आने वाले रोडवेज कर्मचारियों(roadways employee) पर अब गाज गिर सकती है। कर्मचारियों में समय पर कार्यालय पहुंचना होगा। अगर कार्यालय पहुंचने में देरी हुई तो आधे दिन का वेतन काट लिया जाएगा। विलम्ब से आने वाले कर्मचारियों की उपस्थिति रजिस्टर में उनके नाम के आगे क्रॉस लगाया जाएगा।

यदि कोई अधिकारी और कर्मचारी रजिस्टर में लगाए गए क्रॉस को हटाकर उपस्थिति लगाता है तो उसके खिलाफ अनुशासनात्मक कार्रवाई की जाएगी।

तीन दिन देरी से आने पर विभागीय कार्रवाई

रोडवेज कर्मचारियों के लिए आदेश में कहा गया कि अब कार्यालय में चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी को सुबह 9 बजे तथा अन्य कर्मचारी को सुबह साढ़े नौ बजे तक उपस्थित होना है। यदि सुबह 9.40 तक उपस्थित नहीं होंगे तो उनके नाम के आगे उपस्थित रजिस्टर में क्रॉस लगा दिया जाएगा। प्रत्येक क्रॉस पर आधे दिन का वेतन कटेगा। माह में तीन बार देरी से आने पर कर्मी पर कार्रवाई की होगी।

यह भी पढ़ें

जयपुर में भारी पुलिस जाप्ते के बीच दुकानों पर चला बुलडोजर, देखें तस्वीरें

अधिकारी अपने अधीनकर्मी का वार्षिक कार्य मूल्याकंन प्रतिवेदन भरते समय ध्यान रखेंगे कि जो भी कार्मिक आदतन देरी से आता है उसकी प्रतिकूल प्रविष्टि की जाए। कार्यालय के समय के दौरान कहीं भी जाने के लिए संबंधित अधिकारी से अनुमति जरूरी होगी। आकस्मिक अवकाश के लिए लिखित के माध्यम से कार्यालय समय से पहले ही प्रार्थना पत्र पर समक्ष अधिकारी की अनुमति जरूरी होगी। इस संबंध में राजस्थान पथ परिवहन निगम कार्यकारी निदेशक अनीता मीना ने आदेश जारी किए हैं।

लंच समय केवल 30 मिनट, कैंटीन में टाइम पास पर सख्ती

बता दें कि राज्य सरकार ने प्रदेश में लाखों की संख्या में कार्यरत कार्मिकों को तय समय पर आने के लिए दिशा-निर्देशन उनके अधिकारियों को दिए हैं। साथ ही संभागीय आयुक्त, जिला कलक्टर, एसडीएम, वीडीओ, तहसीलदार, शिक्षा विभाग के अधिकारियों को कार्यालय, विद्यालय व आंगनबाड़ी केन्द्रों की जांच के निर्देश दिए हैं। इसमें कहा कि कार्यालय में कार्मिक कैंटीन में बैठकर टाइम पास नहीं करेंगे। लंच केवल 30 मिनट का रहेगा और इसके बाद सीट पर आना होगा।

ट्रेंडिंग वीडियो