गुर्जर आरक्षण आंदोलन को लेकर जिला प्रशासन अलर्ट ,जिले में धारा 144 लागू

Gujjar reservation movement धौलपुर,30 अक्टूबर। गुर्जर आरक्षण आंदोलन के ऐलान के बाद जिले में भी प्रशासन व पुलिस ने जिले में कानून व्यवस्था बनाये रखने के लिए कमर कसली है। जिला कलेक्टर राकेश कुमार जायसवाल एवं जिला पुलिस अधीक्षक केसर सिंह शेखावत के संयुक्त निर्देशन में जिला प्रशासन एवं पुलिस प्रशासन द्वारा व्यवस्थाओं को दुरस्त करने के संबंध में पुलिस लाईन सभागार में जिले के आलाधिकारियों की बैठक का आयोजन किया। बैठक में आंदोलन की संभावित रणनीति को लेकर हालातों की समीक्षा की गई।

By: Naresh

Published: 30 Oct 2020, 07:01 PM IST

Gujjar reservation movement गुर्जर आरक्षण आंदोलन को लेकर जिला प्रशासन अलर्ट ,जिले में धारा 144 लागू
डीएम व एसपी ने बैठक में दिए आवश्यक निर्देश

Gujjar reservation movement धौलपुर,30 अक्टूबर। गुर्जर आरक्षण आंदोलन के ऐलान के बाद जिले में भी प्रशासन व पुलिस ने जिले में कानून व्यवस्था बनाये रखने के लिए कमर कसली है। जिला कलेक्टर राकेश कुमार जायसवाल एवं जिला पुलिस अधीक्षक केसर सिंह शेखावत के संयुक्त निर्देशन में जिला प्रशासन एवं पुलिस प्रशासन द्वारा व्यवस्थाओं को दुरस्त करने के संबंध में पुलिस लाईन सभागार में जिले के आलाधिकारियों की बैठक का आयोजन किया। बैठक में आंदोलन की संभावित रणनीति को लेकर हालातों की समीक्षा की गई। जिला कलेक्टर ने कहा कि गुर्जर आंदोलन की शुरूआत को लेकर प्रशासन व्यवस्थागत बंदोबस्त करें । सभी अधिकारी गुर्जर आरक्षण आंदोलन को लेकर पूरी तरह चौकस रहें । जिले में पूर्व में जिन स्थानों पर आगजनी तथा सरकारी संपत्ति को नुकसान पहुंचाया गया उन जगहों पर पुख्ता इंतजाम रखें । उन्होंने कहा है कि कोरोना काल है। ऐसे में कोविड नियमों की पालना तथा ज्यादा भीड़ जमा नहीं करने के लिए व्यवस्थाएँ रखना मुख्य चुनौती है । गुर्जर आरक्षण को लेकर जिला प्रशासन को पूरी तरह अलर्ट रहने के निर्देश दिए । उन्होंने कहा कि पूर्व में गुर्जर आरक्षण आंदोलन के दौरान आन्दोलनकारियों द्वारा विभिन्न स्थानों पर आगजनी ,रेलमार्ग,रेलवे स्टेशनों एवं रेलवे सम्पत्ति,रोडवेज बसों और इत्यादि सरकारी संपत्ति को नुकसान पहुंचाया गया था । गुर्जर आरक्षण आंदोलन में शांति व्यवस्था बनाने के लिए जिला कलेक्टर ने इसे लेकर संबंधित क्षेत्र के कार्यपालक मजिस्ट्रेट सहित अतिरिक्त जाब्ता भी तैनात किये जाने के निर्देश दिए । वहीं, सभी कार्मिकों सहित उपखंड अधिकारियों को मुख्यालय नहीं छोड़ने के आदेश दिए। जिले में राज्य सुरक्षा कानून के तहत धारा 144 लागू करने आदेश दिए है।

इसी प्रकार रासुका में जिला मजिस्ट्रेट को शक्ति प्रदान करने की गृह विभाग को पत्र भेजा जा रहा है ताकि किसी भी असामान्य स्थिति में रासुका के तहत कार्यवाही की जा सके। जिले में राज्य सरकार द्वारा चार आरएएस अधिकारियों को लगाया गया है। उन्होंने बताया कि 107 सीआरपीसी के तहत शांति व्यवस्था बनाए रखने हेतु निरोधात्मक कार्यवाही के निर्देश दिए गए हैं। समस्त उपखण्डाधिकारियों को निर्देश दिए गए हैं कि अपने क्षेत्र में दौरा कर व्यवस्थाओं को सघन रूप से जांचें। वर्ष 2007 के लंबित प्रकरणों की समीक्षा के निर्देश दिए गए हैं।
31 अक्टूबर रविवार दोपहर 12 बजे गुर्जर नेताओं के साथ बैठक का आयोजन किया जाएगा जिसमे जिले के सभी प्रशासनिक अधिकारी उपस्थित रहेंगे। उन्होंने कहा कि गुर्जर आरक्षण आंदोलन को लेकर प्रशासन पूरी तरह अलर्ट मोड़ पर रहे। कानून व्यवस्था खराब ना हो इसकी पूरी तैयारी रखें। जिला पुलिस अधीक्षक ने कहा कि पुलिस के सभी अधिकारी अपने क्षेत्र में व्यस्थाएँ दुरस्त रखें और अपने आने जाने के साधन को भी पूरी तरह दुरस्त करवाकर जाब्ता तैयार रखें । पत्थरबाजी की घटनाओं को ध्यान में रखकर हैलमेट सभी अधिकारी आवश्यक रूप से अपने साथ रखें । उन्होंने कहा कि सभी धाना प्रभारी अपने संबंधित क्षेत्र में व्यवस्थाएँ दुरस्त रखें तथा सरकारी समपत्ति व किसी की जानमाल के साथ नुकसान न हों इसके लिए समझाईस के प्रयास करें । अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक बचन सिंह मीणा ने कहा कि किसी भी प्रकार की परिस्थितियों से निपटने के लिए तैयारियाँ दुरस्त रखें तथा किसी भी घटना को हल्के में न लें। मुख्य कार्यकारी अधिकारी जिला परिषद शिवचरन मीना ने कहा कि बाहर से ज्यादा लोग एक साथ आएं या बाहर जाएं ऐसे लोगों पर नजर रखें तथा समय समय पर प्रशासन को समस्याओं से अवगत कराते रहें । अतिरिक्त जिला कलेक्टर नरेंद्र कुमार वर्मा ने कहा कि ग्रे एरिया का चिन्हीकरण करें क्योंकि इस प्रकार के क्षेत्र में कंम्यूनिकेशन की संभावनाएं शून्य होती है । ताकि किसी भी प्रकार की अनहोनी को टाला जा सके । किसी भी प्रकार की आवश्यक शिकायत जिला कंट्रोल रूम 05642 220033 पर दर्ज करवाई जा सकती है । आगजनी की घटनाओं को लेकर फायरब्रिगेड को फोन करें। गुर्जर बाहुल्य गांवों को चिन्हित कर व्यवस्था दुरस्त करें । सोशल मीडिया पर विशेष रूप से ध्यान रखें । यदि आवश्यकता पड़ी तो इंटरनेट बंद करवाई जाएगी । सभी अधिकारी जागरूकता के साथ व्यवस्थाओं को दुरस्त करें । इस अवसर पर समस्त उपखण्ड के उपखण्डाधिकारी,वृत्ताधिकारी तहसीलदार,समस्त धानाधिकारी,पुलिस के आलाधिकारी मौजूद रहे ।
जिले में आवश्यक व्यवस्थाओं हेतु लगाए चार आरएएस अधिकारी
धौलपुर,30 अक्टूबर। जिला कलेक्टर राकेश कुमार जायसवाल ने बताया कि संयुक्त शासन सचिव की ओर से जिले में आवश्यक व्यवस्थाएँ सुनिश्चित किये जाने हेतु चार आरएएस अधिकारियों को जिले में लगाया गया है । उन्होंने बताया कि जगदीश सिंह मोगा,सेवाराम स्वामी,सोहनराम चौधरी एवं विष्णु गोयल को जिले में आवश्यक व्यवस्थाओं हेतु लगाया गया है। जिला कलेक्टर ने लगाए गए अधिकारियों की व्यवस्थाएँ सुनिश्चित करने हेतु जिला आबकारी अधिकारी अमरजीत सिंह को लाइजनिंग अधिकारी नियुक्त किया गया है ।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned