कोरोना के चलते अब हर बेड पर उपलब्ध होगी ऑक्सीजन की सुविधा

बाड़ी. कोरोना के चलते भले ही हर व्यवस्था डगमगा गई हो और लोगों के रोजगार का भी संकट पैदा हुआ है, लेकिन राज्य सरकार द्वारा जारी कोरोना की गाइडलाइन से चिकित्सा एवं स्वास्थ्य महकमे के निर्देश पर अस्पतालों की कुछ व्यवस्थाओं में सुधार होता नजर आ रहा है। जो वर्षों से धूमिल पड़ी थी। उनमें शहर के सामान्य चिकित्सालय में भर्ती मरीजों को ऑक्सीजन उपलब्ध कराने के लिए बरसों से ऑक्सीजन प्लांट की मांग की जा रही थी।

By: Naresh

Published: 23 Sep 2020, 04:49 PM IST

कोरोना के चलते अब हर बेड पर उपलब्ध होगी ऑक्सीजन की सुविधा

हॉस्पिटल में हो रही ऑक्सीजन प्लांट की स्थापना
बाड़ी. कोरोना के चलते भले ही हर व्यवस्था डगमगा गई हो और लोगों के रोजगार का भी संकट पैदा हुआ है, लेकिन राज्य सरकार द्वारा जारी कोरोना की गाइडलाइन से चिकित्सा एवं स्वास्थ्य महकमे के निर्देश पर अस्पतालों की कुछ व्यवस्थाओं में सुधार होता नजर आ रहा है। जो वर्षों से धूमिल पड़ी थी। उनमें शहर के सामान्य चिकित्सालय में भर्ती मरीजों को ऑक्सीजन उपलब्ध कराने के लिए बरसों से ऑक्सीजन प्लांट की मांग की जा रही थी। इसको लेकर कई बार उच्चाधिकारियों को पीएमओ द्वारा पत्र भी लिखे गए थे, लेकिन उस पर कोई ध्यान नहीं दिया गया, लेकिन वर्तमान में राज्य सरकार द्वारा उपखंड स्तर के चिकित्सालयों में ऑक्सीजन की बेहतर व्यवस्था के सख्त निर्देश दिए गए हैं। ऐसे में बाड़ी सामान्य चिकित्सालय में ऑक्सीजन प्लांट की स्थापना की जा रही है। जिससे हॉस्पिटल के जरनल वार्ड, जच्चा वार्ड और शिशु वार्ड के साथ हर वार्ड पर ऑक्सीजन की सुविधा उपलब्ध कराने के लिए पाइप लाइन और सर्किट बिछाई जा रही हैं। ऐसे में अब हर बेड पर ऑक्सीजन की सुविधा उपलब्ध होगी और मरीज को ऑक्सीजन के लिए इधर-उधर नहीं भटकना होगा। ना ही सिलेंडरों को इधर उधर ले जाने की कोई जरूरत पड़ेगी।

अस्पताल प्रशासन से मिली जानकारी के अनुसार ये ऑक्सीजन प्लांट अस्पताल के बाहर एक कक्ष में बनाया गया है। जिसमें एक साथ 12-12 की सीरीज में 24 सिलेंडर लगेंगे। जिनसे पूरे अस्पताल में ऑक्सीजन की आपूर्ति की जाएगी। एक बार के 12 सिलेंडर की गैस खत्म होने पर दूसरे 12 सिलेंडर स्वत: ही जड़ जाएंगे और ऑक्सीजन सप्लाई देने लगेंगे। ऐसे में किसी प्रकार की कोई समस्या नहीं रहेगी और हर बेड पर 24 घंटे ऑक्सीजन की सुविधा उपलब्ध रहेगी।

गंभीर मरीजों और दमा एवं अस्थमा के रोगियों को मिलेगा लाभ
अस्पताल में ऑक्सीजन प्लांट के लगने और हर बेड पर सुविधा उपलब्ध होने से दमा और अस्थमा के रोगियों को तत्काल ऑक्सीजन उपलब्ध हो सकेगी। वहीं गंभीर बीमारियों के रोगियों को भी ऑक्सीजन तुरंत लगाई जा सकेगी। इसके अलावा एक्सीडेंटल केस में भी इसका लाभ मिलेगा। ऑक्सीजन सिलेंडर के लिए अब नर्सिंग स्टाफ को इधर उधर भटकने की आवश्यकता नहीं होगी। कई बार देखने में आता है कि ऑक्सीजन सिलेंडर के लिए मरीज को आधा घंटे तक इंतजार करना पड़ता है। तब जाकर ऑक्सीजन सिलेंडर लगता है और मरीज को राहत मिल पाती है।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned