तीन दर्जन मौतों के बाद जागा आबकारी विभाग, अवैध शराब की फैक्ट्री पकड़ी

-राजाखेड़ा , जिले के सीमावर्ती मुरैना ओर भरतपुर में रूपवास में जहरीली शराब के सेवन से तीन दर्जन मौतों के बाद आखिर विभाग को अपने कार्य और कर्तव्यों की याद आयी और आबकारी आयुक्त डॉ जोगाराम द्वारा अवैध शराब के खिलाफ सख्ती का असर धौलपुर में सोमवार को दिखाई दिया जंहा आबकारी दल ने राजाखेड़ा ग्रामीण छेत्र में एक अवैध शराब बनाने की फैक्ट्री को पकड़ लिया। जंहा से बड़ी मात्रा में अवैध शराब बनाने के उपकरण जब्त किए हैं।

By: Naresh

Published: 19 Jan 2021, 10:52 AM IST

तीन दर्जन मौतों के बाद जागा आबकारी विभाग, अवैध शराब की फैक्ट्री पकड़ी

-राजाखेड़ा , जिले के सीमावर्ती मुरैना ओर भरतपुर में रूपवास में जहरीली शराब के सेवन से तीन दर्जन मौतों के बाद आखिर विभाग को अपने कार्य और कर्तव्यों की याद आयी और आबकारी आयुक्त डॉ जोगाराम द्वारा अवैध शराब के खिलाफ सख्ती का असर धौलपुर में सोमवार को दिखाई दिया जंहा आबकारी दल ने राजाखेड़ा ग्रामीण छेत्र में एक अवैध शराब बनाने की फैक्ट्री को पकड़ लिया। जंहा से बड़ी मात्रा में अवैध शराब बनाने के उपकरण जब्त किए हैं।
गौरतलब है कि भरतपुर जिले के रूपबास और मध्यप्रदेश के मुरैना जिले में हुई शराब दुखातिंका के बाद आबकारी आयुक्त डॉ जोगाराम ने विभागीय अधिकारियों को अवैध शराब के खिलाफ कार्रवाई करने के सख्त निर्देश दिए हैं इसी कड़ी में धौलपुर जिले मे आबकारी विभाग ने अब अबैध शराब बनाने वाले शराब माफियाओ के खिलाफ अपना मोर्चा खोल दिया है इसी कड़ी में बीती रात मुखबिर की सूचना पर आवकारी की टीम ने सीआई लोकेश यादव के नेतृत्त्व में राजाखेड़ा थाना क्षेत्र के नागर गांव में छापामार कार्रवाई की आबकारी विभाग के सीआई लोकेश यादव के नेतृत्व में की गई कार्रवाई के दौरान टीम ने एक घर में अवैध शराब बनाने की मशीन के साथ 60 लीटर स्प्रिट और साढे 12 हजार से अधिक शराब की बोतलों पर लगाने के लिए रैपर और ढक्कन को ज़ब्त किया है । सीआई लोकेश यादव ने जानकारी देते हुए बताया कि उन्हें मुखबिर से नागर गांव में एक मकान में अवैध शराब बनाकर शराब की बोतलों में भरकर बेचे जाने की सूचना मिली थी जिस सूचना पर देर रात टीम मौके पर पहुंची और आवकारी की टीम ने कार्रवाई करते हुए गांव में छापा मारा जहां एक मकान से भारी मात्रा में अवैध शराब बनाने का सामान बरामद हुआ है उन्होंने बताया कि छापेमार कार्यवाही की भनक आरोपियों को लग जाने के कारण कार्यवाही के दौरान आरोपी मौके से भागने में कामयाब हो गया फिलहाल आबकारी विभाग ने आरोपी के खिलाफ मामला दर्ज करते हुए उसकी तलाश शुरू कर दी है ओर भी हैं ठिकाने------अवैध ओर हथकड़ शराब के लिए राजाखेड़ा लंबे समय से कुख्यात है और उत्तनगन नदी के तटवर्ती बीहड़ो में मुनाफे का गलीज धंधा चलता है ।अन्य बीहड़ इलाकों में भी यह संचालित होता है। लेकिन आबकारी विभाग का मुखविर नेटवर्क मृतप्राय होने के चलते कोई कार्यवाही नही हो पाती । विभाग केवल अपने ठेकेदारों की सूचनाओं पर ही फौरी कार्यवाही कभी कभार कर लेता है ।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned