बजरी माफियाओं की यूपी पुलिस से भिड़ंत, दोनों ओर से फायरिंग में माफिया घायल

धौलपुर/ सैंपऊ. चंबल नदी से अवैध खनन करने वाले बजरी माफियाओं का दुस्साहस निरंतर बढ़ता जा रहा है। शहर के कोतवाली थाना इलाके में पुलिस और बजरी माफिया मुठभेड़ में फायङ्क्षरग को एक सप्ताह भी नहीं आ है, ऐसे में धौलपुर-भरतपुर मार्ग पर एक बार फिर उत्तर प्रदेश पुलिस और बजरी माफिया बुधवार सुबह आमने-सामने हो गए।

By: Naresh

Updated: 10 Sep 2020, 05:32 PM IST

बजरी माफियाओं की यूपी पुलिस से भिड़ंत, दोनों ओर से फायरिंग में माफिया घायल
-धौलपुर-भरतपुर रोड स्थित गांव सरैंधी की घटना
-पुलिस गोली लगने से बजरी माफिया घायल

धौलपुर/ सैंपऊ. चंबल नदी से अवैध खनन करने वाले बजरी माफियाओं का दुस्साहस निरंतर बढ़ता जा रहा है। शहर के कोतवाली थाना इलाके में पुलिस और बजरी माफिया मुठभेड़ में फायङ्क्षरग को एक सप्ताह भी नहीं आ है, ऐसे में धौलपुर-भरतपुर मार्ग पर एक बार फिर उत्तर प्रदेश पुलिस और बजरी माफिया बुधवार सुबह आमने-सामने हो गए। इस दौरान दोनों ओर से फायरिंग में एक बजरी माफिया पैर में गोली लगने पर घायल हो गया, जबकि दो अन्य को पुलिस ने दबोच लिया। यहां ट्रेक्टर-टॅ्राली लेकर फरार हो गए बजरी माफियाओं को पकडऩे के लिए भरतपुर पुलिस ने रूपवास थाने पर कड़ी नाकेबंदी भी लगाई। इस दौरान भरतपुर पुलिस ने ट्रेक्टर-ट्रॉली को तो जब्त कर लिया, लेकिन माफिया फरार हो गए। वहीं, घायल बजरी माफिया को इलाज के लिए आगरा जिले के अस्पताल में भर्ती कराया गया है।
प्राप्त जानकारी के अनुसार बुधवार को सुबह धौलपुर-भरतपुर सड़क मार्ग से चंबल रेत से भरे एक ट्रैक्टर-ट्रॉली पर सवार होकर पांच जने सैंपऊ के रास्ते उत्तर प्रदेश के सरैंधी गांव पहुंचे। यहां जगनेर थाना पुलिस ने चंबल रेता के ट्रैक्टर को रुकवाने का प्रयास किया तो ट्रेक्टर-ट्रॉली पर सवार माफियाओं ने पुलिस पर फायरिंग शुरू कर दी और चंबल रेता से भरी ट्रॉली को फैलाते हुए भागने का प्रयास किया । माफिया की फायरिंग के जबाव में जगनेर थाना पुलिस ने फायरिंग करना शुरू कर दिया। इस दौरान बजरी माफिया सुखराम पुत्र दाताराम निवासी गांव भागना थाना कौलारी जिला धौलपुर के पैर में गोली लगने से घायल हो गया और दो बजरी माफिया मदन पुत्र टीकम ठाकुर निवासी कूकरा थाना सैपऊ जिला धौलपुर, लव कुश पुत्र महावीर निवासी गांव मोहनलाल का पुरा सैया उत्तर प्रदेश को गिरफ्तार कर लिया गया है। वहीं ट्रेक्टर-ट्रॉली पर सवार दो अन्य बजरी माफिया ट्रॉली छोड़कर ट्रैक्टर को लेकर फरार हो गए। उत्तर प्रदेश पुलिस की सूचना मिलने पर भरतपुर जिला पुलिस अधीक्षक अमनदीप सिंह कपूर ने सीमावर्ती रूपवास थाना पुलिस को कड़ी नाकेबंदी लगाई गई। इस दौरान पुलिस की ओर से ट्रेक्टर जब्त करने की बात सामने आ रही है, जबकि आरोपी फरार हो गए है। जिनकी पुलिस तलाश कर रही है।
पांच दिन पहले कोतवाली थाना पुलिस भी की थी फायरिंग
बजरी माफियाओं की ओर से गत शुक्रवार को कोतवाली थाना इलाके के पटपरा मोहल्ले में पुलिस पर पथराव करते हुए फायरिंग की गई थी। इस दौरान माफिया पुलिस ने ट्रेक्टर-ट्रॉली को छुड़ाने का प्रयास कर रहे थे। पुलिस ने मामले में गावं भमरोली निवासी राकेश व राजेश, गांव मोरोली निवासी पवन कुमार को नामजद करते हुए ३-४ अन्य व्यक्तियों के खिलाफ पथराव व देसी कट्टों से फायरिंग करने का मामल दर्ज किया गया है। जबकि मामले में एक बजरी माफिया सरनाम को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है।
पुलिस के उच्चाधिकारियों पर कर चुके है हमले
बजारी मााफियाओं की ओर से पुलिस पर हमलों की लिस्ट काफी लम्बी है। पुलिसकर्मियों के अलावा माफिया पुलिस के उच्चाधिकारियों पर भी हमले करने से नहीं चूकते है। पूर्व जिला पुलिस अधीक्षक व शहर पुलिस उपाधीक्षक पर बजरी माफियाओं की ओर से जान लेवा हमला करने के मामले थानों पर दर्ज है। जिले में बजरी माफियाओं के बढ़ते दुस्साहस के चलते पुलिस भी इन्हें रोकने-टोकने में ज्यादा रूचि नहीं दिखाती है।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned