रिश्ते के बात कर लौट रहे जीजा-साले की बाइक को बजरी माफिया ने मारी टक्कर

सैपऊ(धौलपुर). कहने को सुप्रीम कोर्ट ने चंबल से बजरी(रेता) निकासी पर पूर्णतया रोक लगा रखी है, लेकिन कड़े बंदोबस्त के दावों के बीच धौलपुर में बजरी माफिया बेखौफ होकर बजरी खनन और परिवहन से नहीं चूक रहे है।

By: Naresh

Published: 22 Feb 2021, 11:57 AM IST

रिश्ते के बात कर लौट रहे जीजा-साले की बाइक को बजरी माफिया ने मारी टक्कर

जिले में बेलगाम प्रतिबंधित बजरी परिवहन
दोनों गंभीर घायल
-सैपऊ थाना इलाके के गांव राजा का नगला की घटना
-दिन-रात धौलपुर-भरतपुर मार्ग पर लगा रहता है बजरी के ट्रेक्टर -ट्रॉलियों का तांता
सैपऊ(धौलपुर). कहने को सुप्रीम कोर्ट ने चंबल से बजरी(रेता) निकासी पर पूर्णतया रोक लगा रखी है, लेकिन कड़े बंदोबस्त के दावों के बीच धौलपुर में बजरी माफिया बेखौफ होकर बजरी खनन और परिवहन से नहीं चूक रहे है। रविवार को यहां धौलपुर-भरतपुर सड़क मार्ग पर सैपऊ थाना इलाके में चंबल बजरी से भरे एक ट्रेक्टर-ट्रॉली ने अनियंत्रित रफ्तार से राहगीर बाइक सवार जीजा-साले को टक्कर मार दी। घटना में बाइक सवार गंभीर रूप से घायल हो गए। इस दौरान ट्रेक्टर-ट्रॉली अनियंत्रित होकर सड़क से करीब पांच फीट नीचे खेत में जा गिरा। इस दौरान स्थानीय लोगों की भीड़ एकत्र होने पर बजरी माफिया ट्रेक्टर-ट्रॉली छोड़कर मौके से फरार हो गए। सूचना पर मौके पर पहुंची पुलिस गंभीर रूप से घायलों को इलाज के लिए अस्पताल रवाना किया गया है।
जानकारी के अनुसार भरतपुर-धौलपुर मार्ग पर सैप ऊ थाना इलाके के गांव राजा का नगला से चंबल बजरी से भरा एक ट्रेक्टर-ट्रॉली रविवार दोपहर करीब साढ़े तीन बजे गुजर रहा था। इस दौरान समीप से गुजर रहे बाइक सवार दो युवकों को ट्रेक्टर-ट्रॉली सवार ने टक्कर मार दी। घटना में ट्रेक्टर-ट्रॉली अनियंत्रित होकर सड़क से करीब पांच फीट नीचे खेत में जाकर पलट गया। घटनाक्रम देख रहे स्थानीय लोगों की भीड़ मौके पर एकत्र होकर गई। ट्रेक्टर-ट्रॉली सवार माफियाओं ने ट्रेक्टर और ट्रॉली को अलग करने का प्रयास भी किया, लेकिन लोगों के भीड़ को बढ़ता देख माफिया मौके से भाग निकले। सूचना मिलने पर मौके पर पहुंची पुलिस ने बाइक सवार घायलों को लेकर रवाना हो गई। प्राारंभिक पड़ताल में सामने आया है घायल सैपऊ थाना इलाके के गांव सरेखी का पुरा निवासी बनवारी लाल पुत्र रामबाबू अपने साले लक्खो पुत्र मनीराम निवासी धोद विरजा थाना बाड़ी के साथ बाइक से सवार होकर जगनेर में बेटी के शादी के रिश्ते की बात करके लौट रहे थे।

सैपऊ में दिनभर रहता है बजरी ट्रेक्टर-ट्रॉली आवागमन
स्थानीय लोगों ने बताया कि प्रतिबंधित बजरी के ट्रेक्टरों का कस्बा आबादी क्षेत्र व हाइवे पर सैपऊ क्षेत्र में बड़ी संख्या में तांता लगा रहता है। ऐसे में हर समय मार्ग पर दुर्घटना होने की संभावना लगी रहती है।
कौलारी को बाइक सवार को मारी थी टक्कर
उल्लेखनीय है कि गत 21 जनवरी को दिनदहाड़े कौलारी थाना इलाके के बसई नबाव-मनियां सड़क मार्ग पर चंबल बजरी से भरे एक ट्रेक्टर-ट्रॉली ने बाइक सवार को कुचल दिया। घटना के बाद स्थानीय लोगों ने भीड़ एकत्र हो गई और बजरी ट्रेक्टर चालक को पकड़ कर पुलिस को सौंप दिया। इसके बाद पुलिस ने यहां कड़े बंदोबस्त किए जाने के दावे भी किया, लेकिन कुछ दिनों बाद स्थिति पहले जैसी ही हो गई।
पुलिस चौकी के सामने दो को कुचला, मौत
उल्लेखनीय है कि गत 3 जनवरी को प्रतिबंधित बजरी से भरे ट्रेक्टर-ट्रॉली ने बाइक सवार एक महिला व एक युवक को कुचल दिया। जिनकी मौके पर ही मौत हो गई। इसके बाद जिले में कुछ समय के लिए पुलिस ने सख्ती तो दिखाई, लेकिन कुछ समय बाद हालात फिर से जैसे ही हो गए। है।
सवालों से घेरे में बंदोबस्त
जिले में पुलिस ने रेता की निकासी को रोकने के लिए सारे जतन कर लिए। लेकिन सब फेल रहे। इसे लेकर चंबल किनारे के रेता के ट्रेक्टर निकलने वाले रास्तों को जेसीबी से खुदवा दिया गया, कई स्थानों पर बड़े पत्थर रखवा दिए। लेकिन उसके बाद भी रेता निकासी थम नहीं रही है। हालांकि रास्तों को खुदवा देने व पत्थर रखकर बंद कर देने से अन्य लोगों को भी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। इसे लेकर लोग पुलिस की आलोचना भी करते हैं। रेत माफियाओं के बेरोकटोक आवागमन के पीछे किसी ना किसी के संरक्षण की ओर से इशारा भी हो रहा।
इनका कहना
घटना के बाद बजरी के वाहन को जब्त कर लिया गया है। अग्रिम कार्रवाई की जा रही है।
परमजीत सिंह पटेल, थाना प्रभारी, सैपऊ

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned