प्रतिबंध नहीं हटाए तो 15 अगस्त के समारोह में नहीं लगाएंगे शामियाना

धौलपुर. हरदेव नगर स्थित एक मेरिज होम मेंधौलपुर टेंट एसोसिएशन एवं समारोह समिति की बैठक हुई। इस दौरान टेंट किराया समिति के राष्ट्रीय अध्यक्ष रवि जिंदल मुख्य अतिथि, विशिष्ट अतिथि प्रदेश अध्यक्ष रासबिहारी शर्मा, महासचिव पर्वत सिंह भाटी, सचिव मुकेश छीपा, सहसचिव गोवर्धन शर्मा जयपुर आए। अध्यक्षता सामाजिक समारोह स्थल प्रदाता समिति धौलपुर अध्यक्ष विमल भार्गव ने की।

By: Naresh

Published: 22 Jul 2021, 03:47 PM IST

प्रतिबंध नहीं हटाए तो 15 अगस्त के समारोह में नहीं लगाएंगे शामियाना

धौलपुर टेंट एसोसिएशन एवं समारोह समिति की बैठक

धौलपुर. हरदेव नगर स्थित एक मेरिज होम मेंधौलपुर टेंट एसोसिएशन एवं समारोह समिति की बैठक हुई। इस दौरान टेंट किराया समिति के राष्ट्रीय अध्यक्ष रवि जिंदल मुख्य अतिथि, विशिष्ट अतिथि प्रदेश अध्यक्ष रासबिहारी शर्मा, महासचिव पर्वत सिंह भाटी, सचिव मुकेश छीपा, सहसचिव गोवर्धन शर्मा जयपुर आए। अध्यक्षता सामाजिक समारोह स्थल प्रदाता समिति धौलपुर अध्यक्ष विमल भार्गव ने की।
इस दौरान रवि जिंदल ने कहा की कोरोना काल में हमने अपने कई साथियों को खोया है। जिसकी भरपाई नहीं की जा सकती है। उन्होंने कहा कि अनिल सिंघल ने एक सक्रिय सदस्य के रूप में धौलपुर का प्रतिनिधित्व करते हुए अपनी अहम भूमिका निभाई है। स्व. अनिल सिंघल को मरणोपरांत बीकानेर में होने वाले आगामी अधिवेशन में शामियाना सम्मान से सम्मानित किया जाएगा। जिंदल ने कहा कि कोरोना काल में सरकार द्वारा विवाह तथा अन्य उत्सवों पर प्रतिबंध लगाए जाने के कारण इस उद्योग से जुड़े सभी व्यापारियों को बहुत नुकसान हुआ है। छोटे व मध्यम व्यापारी तथा समारोह में काम करने वाले व्यक्ति जैसे लाइट वाले, टेंट लेबर, कैटरिंग वाले, हलवाई, वेटर, फूल सजावट वाले, बैंड बाजे, घोड़ी बग्गी, जनरेटर वाले इत्यादि के सामने तो रोजी रोटी का ऐसा संकट आ गया है कि उनका जीवन यापन भी मुश्किल हो गया है। इस उद्योग से जुड़े सभी छोटे बड़े व्यक्तियों को एकजुट होकर सरकार के समक्ष अपने हक में मांग रखनी होगी।
बैठक में कई प्रस्ताव भी लिए गए। इनमें सरकार यदि समिति की मांगों को नहीं मानती है तो आगामी 15 अगस्त समारोह तथा अन्य सभी सरकारी व अर्ध सरकारी समारोहों में टेंट व अन्य संबंधित कार्य नहीं किए जाएंगे। शादी समारोह से संबंधित किसी भी प्रकार की बुकिंग पक्की करने के लिए ग्राहक को कुल बुकिंग राशि की कम से की 30 प्रतिशत राशि देनी होगी। जो किसी भी हाल में वापस नहीं की जाएगी। जो ग्राहक 30 प्रतिशत अग्रिम राशि जमा नहीं कराते हैं, उनकी बुकिंग कैंसिल करके दूसरे ग्राहक की बुकिंग ली जा सकेगी।
ग्राहक को कोरोना गाइडलाइंस का पूर्ण पालन करते हुए समारोह का आयोजन करना होगा। जो ग्राहक कोरोना गाइडलाइंस के प्रतिबंधों के कारण अपनी बुकिंग कैंसिल करना चाहते हैं, उनकी बुकिंग कैंसिल नहीं की जाएगी। ग्राहक को तय पूर्ण राशि का भुगतान करना होगा।
समिति के सभी सदस्य एकजुट होकर आगामी सावे के लिए प्रदेश सरकार से यह मांग रखेंगे की विवाह संबंधी समारोह में कम से कम 200 से 300 अतिथियों के शामिल होने की छूट प्रदान की जाए, जिससे आर्थिक संकट दूर होने में कुछ मदद मिल सके।
अध्यक्षता कर रहे विमल भार्गव ने कहा की हमारे देश में अधिकतर व्यापार सावों या शादी समारोहों पर निर्भर होते हैं। शादी समारोह पर प्रतिबंध लगने से उन सभी व्यापारियों को आर्थिक संकट का सामना करना पड़ रहा है।
इस दौरान गौरव गर्ग, राजीव कुशवाहा, नरेंद्र सिंह, अतुल खोसला, विशाल सिंघल, दीनानाथ बंसल, राजन खान, बंगाली कुशवाहा, शौकत राईन, पूरनचंद अग्रवाल, मनीष डंडोतिया व अन्य उपस्थित सदस्यों ने भी विचार व्यक्त किए।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned