दिनदहाड़े बजरी माफियाओं का आंतक, पुलिस पर पथराव व फायरिंग

धौलपुर. जिले में पुलिस और बजरी माफियाओं की मुठभेड़ की घटनाएं होना आम बना हुआ है, ऐसे में अब बजरी माफियाओं ने आमजन पर भी निशाने पर लेना शुरू कर दिया है। यहां शुक्रवार सुबह करीब नौ बजे शहर कोतवाली थाना इलाके के पटपरा मोहल्ले में चंबल बजरी परिवहन में लिप्त एक ट्रेक्टर-ट्रॉली अनियंत्रित रफ्तार के साथ घर के बाहर बैठी महिला को टक्कर मारकर मकान में प्रवेश कर गया।

By: Naresh

Published: 05 Sep 2020, 06:06 PM IST

दिनदहाड़े बजरी माफियाओं का आंतक, पुलिस पर पथराव व फायरिंग
-कोतवाली थाना इलाके के पटपरा मोहल्ले की घटना
-कॉलोनी में फैली दशहत
धौलपुर. जिले में पुलिस और बजरी माफियाओं की मुठभेड़ की घटनाएं होना आम बना हुआ है, ऐसे में अब बजरी माफियाओं ने आमजन पर भी निशाने पर लेना शुरू कर दिया है। यहां शुक्रवार सुबह करीब नौ बजे शहर कोतवाली थाना इलाके के पटपरा मोहल्ले में चंबल बजरी परिवहन में लिप्त एक ट्रेक्टर-ट्रॉली अनियंत्रित रफ्तार के साथ घर के बाहर बैठी महिला को टक्कर मारकर मकान में प्रवेश कर गया। सूचना मिलने पर जब पुलिस मौके पर पहुंची तो एक अन्य ट्रेक्टर में सवार बजरी माफिया मौके पर पहुंच गए और ट्रेक्टर को छुड़ाने के प्रयास में पुलिस पर पथराव करते हुए फायरिंग करना शुरू कर दिया। जबाव में जब पुलिस ने भी पथराव किया। इस दौरान माफिया मौके से भाग निकले। पुलिस ने ट्रेक्टर को जब्त करते हुए मामले में एक बजरी माफिया को गिरफ्तार किया है।
हुआ यूं कि सुबह करीब नौ बजे शहर कोतवाली के पीछे आवासीय कॉलोनी पटपरा मोहल्ला निवासी गुड्डू के घर के बाहर उसकी मां मुन्नी देवी बैठी हुई थी। इस दौरान एक ट्रेक्टर-ट्रॉली अनियंत्रित रफ्तार के साथ यहां मकान में प्रवेश कर गया, इस दौरान मुन्नी गंभीर रूप से घायल हो गई। हादसा देख स्थानीय लोग एकत्र हो गए और चालक ट्रेक्टर-ट्रॉली छोड़कर फरार हो गया। घटना की जानकारी मिलने पर कोतवाली थाने के एएसआई माता प्रसाद मय पुलिस जाप्ते के मौके पर पहुंचे। यहां ट्रॉली में चंबल की बजरी पड़ी होना पाया। पुलिस ने मकान की ओर से फंसे ट्रेक्टर-ट्रॉली को निकालने का प्रयास कर रही थी, इस दौरान एक अन्य ट्रेक्टर-ट्रॉली में सवार होकर करीब आधा दर्जन से अधिक युवक आए पुलिस पर पथराव करना शुरू कर दिया। ट्रेक्टर-ट्रॉली सवार युवकों ने पुलिस पर देसी कट्टे से फायर भी किए। जबाव में पुलिस ने भी पथराव करना शुरू कर दिया, इस दौरान मोहल्ले के अन्य लोग भी ट्रेक्टर-ट्रॉली सवारों पर पथराव करने लगे। बढ़ते पथराव को देख ट्रेक्टर-ट्रॉली सवार मौके से फरार हो गए। पुलिस मकान में फंसे ट्रेक्टर-ट्रॉली जब्त कर थाने ले आई। मामले में पुलिस ने एक बजरी माफिया सरनाम नाम के युवक को गिरफ्तार किया है।
दर्ज मामले में माफिया नामजद
घटना के संबंध में कोतवाली थाने के एएसआई माता प्रसाद की ओर से दर्ज कराए मामले में गावं भमरोली निवासी राकेश व राजेश, गांव मोरोली निवासी पवन कुमार को नामजद करते हुए 3-4 अन्य व्यक्तियों के खिलाफ पथराव व देसी कट्टों से फायरिंग करने का मामल दर्ज किया है।

जिले में पुलिस सिस्टम फेल
कहने को धौलपुर शहरी क्षेत्र में पुलिस की कड़ी चौकसी का दावा किया जा रहा है, ऐसे में बजरी से भरे ट्रेक्टर-ट्रॉलियों को शहर के हर आमरास्ते से गुजरते हुए देखा जा सकता है। अलसुबह से ही प्रतिबंधित बजरी से भरे ट्रेक्टर-ट्रॉली शहरी आबादी क्षेत्र के भीड़भाड़ वाले इलाकों से भी बेखौफ होकर निकलते हुए देखा जा सकता है। ऐसे में पुलिस सिस्टम भी बजरी माफियाओं के आगे पस्त नजर आ रहा है।
भरतपुर रोड पर बजरी के ट्रेक्टर-ट्रॉलियां का रेला
प्रतिबंधित चंबल बजरी परिवहन को रोक पाने में पुलिस की व्यवस्थाएं नाकाफी साबित हो रही है। धौलपुर से बड़ी संख्या में चंबल बजरी से भरी ट्रेक्टर-ट्रॉलियां का रेला भरतपुर मार्ग पर देखा जा सकता है। प्रत्येक ट्रेक्टर-ट्रॉली पर 3 से 4 युवक बैठकर चलते है, इन्हें रोकने के लिए जिला स्तर पर प्रशासन की संयुक्त टॉस्क फोर्स के कोई भी प्रयास कहीं नजर नहीं आ रहे है। हाल में चंबल बजरी माफियाओं की भरतपुर जिले मेे पुलिस से मुठभेड़ होना भी सामने आ रहा है। ऐसे में जिले में बजरी परिवहन रोकने पर पुलिस की व्यवस्थाओं पर सवाल खड़े हो गए है।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned