व्यापारियों में रोष; शराब की खुल सकती है तो हमारी दुकान क्यों नहीं

सैपऊ. राज्य सरकार द्वारा जारी की गई गाइड लाइन में शराब ठेकों को खोलने की छूट मिलने को लेकर सर्राफा व्यवसाय और कपड़ा एवं अन्य व्यापारी में खासा रोष नजर आया। व्यापारियों ने बताया कि शादियों का सीजन शुरू होने के कारण इसी समय पर सोने चांदी के आभूषण, कपड़े व्यवसायों की बिक्री होती है,

By: Naresh

Published: 20 Apr 2021, 05:33 PM IST

व्यापारियों में रोष; शराब की खुल सकती है तो हमारी दुकान क्यों नहीं

सैपऊ. राज्य सरकार द्वारा जारी की गई गाइड लाइन में शराब ठेकों को खोलने की छूट मिलने को लेकर सर्राफा व्यवसाय और कपड़ा एवं अन्य व्यापारी में खासा रोष नजर आया। व्यापारियों ने बताया कि शादियों का सीजन शुरू होने के कारण इसी समय पर सोने चांदी के आभूषण, कपड़े व्यवसायों की बिक्री होती है, लेकिन सरकार द्वारा गाइड लाइन हमें छूट नहीं देने के कारण हमारे साथ दुर्भाव किया है। हमें भी सरकार द्वारा भले ही कम समय दिया जाए, लेकिन दुकान खोलने की छूट मिलनी चाहिए। कफ्र्यू को लेकर पुलिस प्रशासनिक अधिकारियों ने बाजार में पैदल मार्च कर गाइडलाइन की पालना नहीं करने पर 4 दुकानदारों के खिलाफ जुर्माने की कार्रवाई की। उपखंड अधिकारी ने बताया कि शादियों का सीजन शुरू हो गया है। मैरिज होम संचालकों और शादी समारोह वालों को भी ग्रामीण स्तर पर भी टीम बनाकर हिदायत दी गई है कि गाइडलाइन की पालना करें। पालना नहीं करने पर मैरिज होम संचालक और शादी समारोह करने वाले दोनों ही के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी। वहीं महादेव मंदिर पर भी पहुंच कर मंदिर के पुजारियों को मंदिर पर भीड़ भाड़ नहीं करने के लिए निर्देशित किया है। कहा कि 5 लोगों से ज्यादा मंदिर परिसर में नहीं रुके और सरकार की गाइडलाइन का पालन करें।

ऐसे कैसे जीतेंगे कोरोना से जंग

सोमवार को कस्बे के बाजार में प्रशासनिक अधिकारियों की हिदायत के बाद भी गाइड लाइन की धज्जियां उड़ती नजर आई। दुकानदारों को खोलने की अनुमति नहीं होने के बाद भी दुकानदार अपनी दुकानों के आसपास घूमते ही नजर आए और पीछे के रास्ते से दुकानदारी करते हुए नजर आए। शटर लगाकर ग्राहकों को भीतर बंद कर सामान की बिक्री की गई। हालांकि पुलिस प्रशासन द्वारा कई बार बाजार में नजर बनाए दिखे, लेकिन दुकानदारों की नजर भी पुलिस प्रशासन पर रही कि कब पुलिस और प्रशासन की गाड़ी जा रही है। देखते ही दुकानों को बंद कर ग्राहकों को अंदर भर लेते।
बाजार बंद शराब ठेके पर होती रही बिक्री
शराब ठेकेदार जमकर सरकार की गाइडलाइन की धज्जियां उड़ाते हुए नजर आए। बाजार तो पुलिस प्रशासन द्वारा 5 बजे बंद करा दिया था, लेकिन बाजार बंद होने के बाद भी कस्बे में नहर पर शराब ठेके पर शराब की जमकर खरीदारी होती हुई नजर आई। ठेकेदार द्वारा पुलिस प्रशासन की परवाह न करते हुए देर शाम तक शराब के ठेके को खोल कर बिक्री करते नजर आए।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned