scriptLiquor sale worth only Rs 4 crore, was supposed to be Rs 10 crore | मात्र 4 करोड़ की शराब बिक्री, होनी थी 10 करोड़ | Patrika News

मात्र 4 करोड़ की शराब बिक्री, होनी थी 10 करोड़

locationधौलपुरPublished: Oct 29, 2023 12:39:13 pm

Submitted by:

rohit sharma

राजस्थान समेत पड़ोसी राज्य मध्यप्रदेशम में विधानसभा चुनाव हैं। आचार संहिता के लागू होने के साथ पुलिस व प्रशासन सतर्क हो गया है और अंतरराज्जीय सीमा समेत जिलेभर में अवैध शराब और तस्करी के खिलाफ सख्ती कार्रवाई जारी है।

मात्र 4 करोड़ की शराब बिक्री, होनी थी 10 करोड़
मात्र 4 करोड़ की शराब बिक्री, होनी थी 10 करोड़
धौलपुर. राजस्थान समेत पड़ोसी राज्य मध्यप्रदेशम में विधानसभा चुनाव हैं। आचार संहिता के लागू होने के साथ पुलिस व प्रशासन सतर्क हो गया है और अंतरराज्जीय सीमा समेत जिलेभर में अवैध शराब और तस्करी के खिलाफ सख्ती कार्रवाई जारी है। उधर, शराब महकमा आबकारी के लिए चुनाव प्रक्रिया उगलते और न ही निगलते बन रही है। सितम्बर में पितृ पक्ष और अक्टूबर माह में हाल में सपन्न हुए नवरात्र के चलते लाइसेंसी दुकानें की बिक्री में भारी गिरावट आई। अंदाजा इसी से लगाया जा सकता है कि जिले में करीब 10 करोड़ की शराब का उठाव होना था लेकिन 26 अक्टूबर तक चार करोड़ से कुछ अधिक की शराब ही लाइसेंसी ठेकेदार उठा पाए। यानी करीब 6 करोड़ की शराब उठाव अभी शेष है। जबकि ठेकेदारों को गारंटी एक माह में पूरी करनी होती है। हालांकि, उठाव प्रक्रिया तीन माह की होती है लेकिन सितम्बर व अक्टूबर में गिरावट के बाद नवम्बर में विधानसभा चुनाव के चलते शराब बिक्री में बढ़ोतरी मुश्किल नजर आ रही है। इससे आबकारी विभाग की मुश्किलें बढ़ गई हैं। एक तरफ सेल बढ़ानी है तो दूसरी तरफ चुनाव आयोग के निर्देशों के तहत अवैध शराब बिक्री के खिलाफ अभियान चलाया जा रहा है। सूत्रों का कहना है कि वहीं, अवैध शराब के खिलाफ अभियान पुलिस प्रशासन का उचित सहयोग नहीं मिलने से विभाग अपने स्तर पर पसीना बहा रहा है। बता दें कि जिले में आबकारी की 75 दुकानें संचालित हैं जबकि दो निरस्त हैं। कुल 77 दुकान हैं।
Copyright © 2023 Patrika Group. All Rights Reserved.