संदिग्ध अवस्था में फंदे से लटका मिला विवाहिता का शव

सैंपऊ. थाना क्षेत्र के गांव पथैना में 20 वर्षीय विवाहिता का शव संदिग्ध हालात में फंदे पर लटका मिलने से सनसनी फैल गई। घटनास्थल पर स्थानीय लोगों की भीड़ जमा हो गई। मृतका के ससुरालीजन मौके से फरार हो गए। मामले की सूचना ग्रामीणों ने सैंपऊ थाना पुलिस को दी।

By: Naresh

Updated: 29 May 2020, 09:45 AM IST

संदिग्ध अवस्था में फंदे से लटका मिला विवाहिता का शव
दहेज हत्या का आरोप
सैंपऊ. थाना क्षेत्र के गांव पथैना में 20 वर्षीय विवाहिता का शव संदिग्ध हालात में फंदे पर लटका मिलने से सनसनी फैल गई। घटनास्थल पर स्थानीय लोगों की भीड़ जमा हो गई। मृतका के ससुरालीजन मौके से फरार हो गए। मामले की सूचना ग्रामीणों ने सैंपऊ थाना पुलिस को दी। विवाहिता की मौत की खबर सुनकर मायके पक्ष में कोहराम मच गया। मृतका के भाई सचिन कुशवाह निवासी चीत थाना खेरागढ़ जिला आगरा ने बताया कि करीब 6 माह पूर्व उसकी बहन 20 वर्षीय अंजली की शादी पथैना निवासी कला पुत्र संतोषी से हुई थी। इसमें हैसियत के मुताबिक दहेज दिया था। पीडि़त ने बताया कि शादी के कुछ ही दिन बाद अंजली का पति दहेज लाने के लिए दबाव बनाने लगा। ससुराली जनों द्वारा उससे आए दिन मारपीट की जाने लगी। पुलिस को पीडि़त ने रिपोर्ट में गत रात को विवाहिता से उसके पति संतोष द्वारा मारपीट कर उसके गले में फंदा लगाकर उसकी हत्या करने का आरोप लगाया गया है। वारदात के बाद ससुराली जन मौके से फरार हो गए। सीओ विजय कुमार ने बताया मृतका के पिता द्वारा दी गई तहरीर पर मामला दर्ज कर लिया है। उधर शव की सुपुर्दगी को लेकर दोनों पक्षों में पुरानी तहसील भवन के पास विवाद हो गया। ससुरालीजनों ने मायके पक्ष पर मारपीट का आरोप लगाया है। सूचना पर मौके पर पहुंचे पुलिस कर्मियों से अभद्रता करने पर एसआई राजेश परमार ने थाना प्रभारी को सूचना दी। इस पर मौके पर पुलिस उपाधीक्षक और थाना प्रभारी अनूप चौधरी दल-बल के साथ मौके पर पहुंचे। पुलिस ने दोनों पक्षों को समझाया तथा बाद में शव मायके पक्ष वालों को सुपुर्द कर दिया। पुलिस मामले की जांच कर रही है।
फोटो डीएच 2905 एसजे कैप्शन: सैंपऊ. क्षेत्र के गांव पथैना में हुई दहेज हत्या के बाद हुए विवाद के दौरान एक महिला को पकड़ कर ले जाती पुलिस।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned