नाबालिग ने पुलिस को शिकायत देकर खुद रुकवाया बाल विवाह

बसई नवाब. कौलारी थाना क्षेत्र के एक गांव की नाबालिग बालिका ने अपने चाचा को साथ लेकर अपना बाल विवाह रुकवाने के लिए स्थानीय पुलिस के समक्ष परिवाद पेश किया है। 16 वर्षीय नाबालिग बालिका की शादी उसके माता-पिता बिना मर्जी के करवा रहे थे।

By: Naresh

Published: 01 Dec 2020, 10:16 AM IST

नाबालिग ने पुलिस को शिकायत देकर खुद रुकवाया बाल विवाह

पुलिस ने परिजनों को किया पाबंद
बसई नवाब. कौलारी थाना क्षेत्र के एक गांव की नाबालिग बालिका ने अपने चाचा को साथ लेकर अपना बाल विवाह रुकवाने के लिए स्थानीय पुलिस के समक्ष परिवाद पेश किया है। 16 वर्षीय नाबालिग बालिका की शादी उसके माता-पिता बिना मर्जी के करवा रहे थे। नाबालिक की शादी 11 दिसंबर 2020 को होनी थी। शादी से पूर्व नाबालिग ने माता पिता के खिलाफ शिकायत दी है। पुलिस ने मामले में संज्ञान लेते हुए माता पिता को शादी नहीं कराने के लिए पाबंद किया है। इसके अलावा प्रशासन ने भी कार्रवाई शुरू कर दी है।
सोमवार देर शाम कौलारी थाना क्षेत्र के एक गांव निवासी 16 वर्षीय नाबालिग बालिका ने अपने चाचा के साथ स्थानीय पुलिस के समक्ष माता पिता के विरुद्ध शिकायत पत्र पेश किया है। परिवाद में बताया कि उसके माता-पिता उसकी सहमति के बिना शादी करवा रहे हैं। वह अभी पढऩा चाहती है। पढ़ लिख कर अपने भविष्य के निर्माण को लेकर बालिका चिंतित है। नाबालिक के माता-पिता उसकी सहमति के बिना 11 दिसंबर 2020 को शादी करवाना चाहते हैं। वह उनके खिलाफ कार्यवाही भी चाहती है। प्रकरण में सीओ विजय कुमार ने बताया कौलारी थाना पुलिस के समक्ष नाबालिग बालिका ने परिवाद प्रस्तुत किया है। जिस पर पुलिस ने संज्ञान लेकर माता-पिता को गांव में पाबंद करा दिया है। बालिका की इच्छा के बिना शादी नहीं कराई जाएगी। बीट से संबंधित पुलिस कर्मियों को विशेष निगरानी रखने के दिशा निर्देश दिए हैं। उधर बालिका की शिकायत पर स्थानीय प्रशासन भी हरकत में आ गया। उपखंड प्रशासन ने संबंधित गिरदावर, हलका पटवारी एवं सचिव को निगरानी रखने के निर्देश दिए हैं। बालिका के मंगलवार को पर्चा बयान भी लिए जाएंगे। बालिका की शादी रोकने के लिए पुलिस एवं प्रशासन ने कड़ा रुख अपनाया है।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned