मानसूनी बरसात ने किया निराश, आधे भी नहीं भरे जिले के बांध

मानसूनी बरसात ने किया निराश, आधे भी नहीं भरे जिले के बांध

Naresh Kumar Lawaniyan | Updated: 14 Aug 2019, 10:44:03 AM (IST) Dholpur, Dholpur, Rajasthan, India

धौलपुर. जिले में इस बार मानसूनी बरसात ने अभी तक निराश किया है। हाल ये है कि जिले के बड़े बांध अभी तक रीते पड़े हैं। इन बांधों में अभी तक आधे से भी कम पानी आया है। जबकि गत वर्ष इसी सीजन ये बांध करीब-करीब भर चुके थे। कमजोर मानूसन के चलते छितराई बारिश होने के कारण बांधों में पानी नहीं जा पा रहा है। दूसरी ओर ऊंचाई वाले स्थानों पर बारिश की कमी के कारण वहां से बहकर आने वाला पानी भी नहीं आ पाया है।

मानसूनी बरसात ने किया निराश, आधे भी नहीं भरे जिले के बांध
बांधों में 46 फीसदी ही पानी आया, बरसात नहीं हुई तो सिंचाई का संकट

धौलपुर. जिले में इस बार मानसूनी बरसात ने अभी तक निराश किया है। हाल ये है कि जिले के बड़े बांध अभी तक रीते पड़े हैं। इन बांधों में अभी तक आधे से भी कम पानी आया है। जबकि गत वर्ष इसी सीजन ये बांध करीब-करीब भर चुके थे। कमजोर मानूसन के चलते छितराई बारिश होने के कारण बांधों में पानी नहीं जा पा रहा है। दूसरी ओर ऊंचाई वाले स्थानों पर बारिश की कमी के कारण वहां से बहकर आने वाला पानी भी नहीं आ पाया है। इसके चलते बारिश होने के बाद भी बांधों में पानी की आवक नहीं हो पा रही है। दूसरी ओर कई स्थानों पर अतिक्रमण भी पानी की आवक में बाधा बने हुए हैं। स्थिति यह है कि जिले में अभी तक 370.25 एमएम बारिश दर्ज हो पाई है, जबकि गत वर्ष 20 अगस्त 2018 तक 481.33 एमएम बारिश हो चुकी थी। जिले में औसत बारिश का आंकड़ा 650 एमएम है। उस लिहाज से अभी तक जिले में 56.96 फीसदी बरसात हुई है। हालांकि, सिंचाई विभाग के अधिकारी अभी भी बरसात की उम्मीद लगाए बैठे हैं।
धौलपुर में 34, बसेड़ी में 45 एमएम बारिश
दोपहर तक उमस से बेहाल लोगों को मंगलवार दोपहर बाद हुई बारिश ने राहत मिली।
सुबह से शहर समेत आसपास के इलाके में हल्के बादल छाए हुए थे और दोपहर करीब दो बजे अचानक मौसम बदला और फिर काली घटाएं छा गई और करीब साढ़े तीन बजे से हल्की बरसात शुरू हो गई। धौलपुर में शाम सात बजे तक 34 एमएस बरसात रिकॉर्ड हुई।
सर्वाधिक बरसात बसेड़ी में 45 एमएम दर्ज हुई, जबकि सैंपऊ में 12, बाड़ी में 14 एमएम बारिश दर्ज की गई। सुबह से उमस से परेशान शहरवासियों शाम तक हुई बारिश से राहत मिली।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned