11वें दिन भी नहीं हुई सफाई दुकानदारों व सफाई कर्मियों ने किया प्रदर्शन

बसेड़ी . पिछले 11 दिन से कस्बे की सफाई व्यवस्था पूरी तरह चौपट बनी हुई है। मंगलवार को 11 वें दिन भी सफाई नहीं हो सकी। उधर बाजार में बढ़ती गंदगी से परेशान माता वाली गली के पास चौराहे पर आसपास के दुकानदारोंं ने प्रदर्शन करते हुए उपखंड अधिकारी तथा जिला कलक्टर से सफाई व्यवस्था को दुरुस्तत कराए जाने की मांग की। साथ ही चेतावनी दी कि अगर बुधवार को सफाई नहीं हुई तो दुकानदार आंदोलन को मजबूर होंगे।

By: Naresh

Published: 28 Oct 2020, 05:08 PM IST

11वें दिन भी नहीं हुई सफाई दुकानदारों व सफाई कर्मियों ने किया प्रदर्शन

बसेड़ी . पिछले 11 दिन से कस्बे की सफाई व्यवस्था पूरी तरह चौपट बनी हुई है। मंगलवार को 11 वें दिन भी सफाई नहीं हो सकी। उधर बाजार में बढ़ती गंदगी से परेशान माता वाली गली के पास चौराहे पर आसपास के दुकानदारोंं ने प्रदर्शन करते हुए उपखंड अधिकारी तथा जिला कलक्टर से सफाई व्यवस्था को दुरुस्तत कराए जाने की मांग की। साथ ही चेतावनी दी कि अगर बुधवार को सफाई नहीं हुई तो दुकानदार आंदोलन को मजबूर होंगे।
कस्बेे की सफाई व्यवस्था पूरी तरह चरमराई हुई है। 11 दिन गुजर जाने के बाद भी सफाई नहीं हो सकी। जिसकी वजह से कस्बे के बाजार तथा गलियों की हालत बद से बदतर हो चुकी है। बाजार में जलभराव और नालियों के बंद पड़ी है। लोगों का बदबू के मारे जीना मुश्किल हो रहा है। बाजार में गंदगी से हालात और भी खराब होने की वजह से मंगलवार को माता वाली गली के दुकानदारों ने चौराहे पर प्रदर्शन किया। वहीं दूसरी ओर हरिजन बस्ती के पास सार्वजनिक स्थल पर बड़ी संख्या में सफाईकर्मी महिला और पुरुषों ने भी प्रदर्शन किया। उन्होंनेे अपनी मांग रखी। राष्ट्रीय सफाई मजदूर संघ के अध्यक्ष अमित कुमार ने बताया कि पिछले 3 माह का भुगतान, जिसमें एक माह का ग्राम पंचायत तथा 2 माह का नगर पालिका पर बकाया है। जिसे तत्काल प्रभाव से कर दियाा जाए। इसके अलावा जो मजदूरी वर्तमान में दी जा रही है। वह बढ़ती महंगाई के चलते सफाई कम हैस, उसे 100 से 125 रुपए प्रतिदिन कर दी जाए, नहीं तो सफाई कर्मी सफाई नहीं करेंगेस।
उन्होंने यह भी कहा कि दीपावली का त्यौहार नजदीक है। सफाई नहीं हो रही है। 3 माह से भुगतान नहीं हुआ है। ऐसे में उनको आर्थिक तंगी का सामना भी करने को मजबूर होना पड़ रहा है। इस मौके पर दीपक, दिलीप, अमित, लखन, विनोद राणा, बबीता, आकाश, आनंद शिवम, राकेश, ओमप्रकाश, सीमा, मनीष, रामनिवास, बबली, सुरेश, प्रज्ञा, पुष्पा, पूजा वर्मा, राहुल, जीतू सहित बड़ी संख्या में सफाईकर्मी मौजूद थे।
गौरतलब है कि कस्बे की तिमासिया सरपंच प्रीति गोयल ने राजस्थान हाईकोर्ट में नगरपालिका नहीं बनाने को लेकर अपील की। जिसमें 9 अक्टूबर को राजस्थान हाई कोर्ट की ओर से नगरपालिका पर स्टे दे दिया। उसके बाद 16 अक्टूबर से सफाई व्यवस्था पूरी तरह बंद पड़ी है।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned