अब धौलपुर में प्रवेश से पहले होगी जांच, बरैठा व सागरपाड़ा चौकी पर बेरिकेडिंग

धौलपुर जिले के निकटवर्ती मध्यप्रदेश के जिले ग्वालियर एवं मुरैना में गत एक माह में कोरोना संक्रमण के आकस्मिक रूप से तीव्र प्रसार होने के बाद जिला प्रशासन ने दोनों जिलों से आने वाले लोगों की पहले जांच करने का निर्णय किया है।

By: Naresh

Updated: 11 Jul 2020, 11:04 AM IST

धौलपुर. जिले के निकटवर्ती मध्यप्रदेश के जिले ग्वालियर एवं मुरैना में गत एक माह में कोरोना संक्रमण के आकस्मिक रूप से तीव्र प्रसार होने के बाद जिला प्रशासन ने दोनों जिलों से आने वाले लोगों की पहले जांच करने का निर्णय किया है। जिला कलक्टर राकेश कुमार जायसवाल ने बताया कि समुदाय में कोरोना फैलने का खतरा संभावित है।

इस कारण मध्यप्रदेश एवं उत्तरप्रदेश के जिलों की सीमा से धौलपुर में प्रवेश कर रहे वाहनों और व्यक्तियों के प्रवेश पर निरन्तर निगरानी रखी जाएगी। जिससे जिले में उक्त क्षेत्रों से आ रहे व्यक्तियों के सम्पर्क से संक्रमण की संभावनाएं शून्य की जा सकें। बताया कि इसे देखते हुए स्थिति को दृष्टिगत रखते हुए धौलपुर जिले के सागरपाड़ा व बरैठा बॉर्डर पर अस्थाई बेरिकेड लगाए जाने के निर्देश दिए है।

धौलपुर जिले की सीमा में प्रवेश करने वाले व्यक्तियों व वाहनों की सघनता से जांच करने के उपरांत ही उन्हें प्रवेश दिया जाएगा। उन्होंने चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी को निर्देश दिए हैं कि सुबह 6 बजे से विभिन्न पारियों में स्टाफ लगाए जाए, जिनके द्वारा रिकार्ड संधारण किया जाए। साथ ही थर्मल स्क्रीनिंग करने के बाद ही प्रवेश दिया जाए। जिन व्यक्तियों में आईएलआई और अन्य गम्भीर रोगों के लक्षण पाए जाते हैं।

उनके क्वॉरंटीन की व्यवस्था कराई जाएगी, जिससे संक्रमण की संभावनाओं को सीमित व समाप्त किया जा सकें। उन्होंने बताया कि ग्वालियर और मुरैना के नजदीकी के कारण ज्यादा सावधानी की जरूरत है। इन जिलों ने धौलपुर के लिए परेशानी खड़ी कर दी है। ऐसे में धौलपुर जिले को बचाने के लिए बरैठा और सागरपाड़ा की सीमा पर सतर्कता की आवश्यकता है।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned