अब रोडवेज बसों में खुल्लम-खुल्ला करो भ्रष्टाचार

यात्रियों को सुविधा उपलब्ध कराने तथा परिचालकों की हेराफेरी रोकने के लिए रोडवेज बसों में लगाए गए सीसीटीवी कैमरों का अनुबंध खत्म होने के बाद कोई मॉनिटरिंग नहीं होने से रोडवेज बसों में अब फिर से भ्रष्टाचार की बयार बहने लगी है।

रोडवेज बसों से हटे सीसीटीवी
मुख्यालय ने खत्म कर दिया था अनुबंध
धौलपुर. यात्रियों को सुविधा उपलब्ध कराने तथा परिचालकों की हेराफेरी रोकने के लिए रोडवेज बसों में लगाए गए सीसीटीवी कैमरों का अनुबंध खत्म होने के बाद कोई मॉनिटरिंग नहीं होने से रोडवेज बसों में अब फिर से भ्रष्टाचार की बयार बहने लगी है। लेकिन इस ओर प्रबंधन का कोई ध्यान नहीं है। अब कैमरे मात्र शोपीस के अलावा कुछ नहीं है। वहीं कई बसों में तो कैमरे ही हटा दिए गए हैं। रोडवेज प्रबंधन की शर्ते पूरी नहीं करने के कारण निजी कम्पनी का अनुबंध समाप्त करने के करीब साल भर बाद भी इस दिशा में कोई कारगर कदम नहीं उठाए गए हैं। बसों में लगे सीसीटीवी के काम नहीं करने पर फिर से पुराना हाल हो गया है। बसों में कई यात्रियों से किराया तो वसूल लिया जाता है। लेकिन निर्धारित टिकट नहीं दिया जाता है। वहीं कई बार परिचालक कथित तौर पर कम किराए लेकर बिना टिकट यात्रा करा देते हैं। वहीं यात्रियों की सुविधाओं का भी ध्यान नहीं रखा जाता है। हालांकि उडऩदस्ते गठित किए हुए हैं। लेकिन हर बस को चेक नहीं किया जा सकता है।
इसलिए लगाए थे
रोडवेज बसों में बैठे यात्री रोडवेज प्रबंधन की जद में रहे। कोई भी यात्री बिना टिकट यात्रा नहीं कर सके। वहीं परिचालकों पर भी प्रबंधन की सीधी नजर रखने के लिए सीसीटीवी कैमरे व जीपीएस सिस्टम लगाया गया था। धौलपुर डिपो की 8 2 में से करीब 6 5 बसों में कैमरे लगाए गए। जिससे रोडवेज बसों में किसी भी रूट की बस में वास्तविक यात्रियों की संख्या का पता चल सके। साथ ही बसें मार्ग पर निर्धारित स्टॉपेज पर रुक रही हैं या नहीं, इसका भी मालूम चल सके। जहां एक्सप्रेस बसों के स्टॉपेज नहीं होने पर भी हर जगह रुकने पर भी पाबंदी लगाई जा सके। इसके अलावा बिना टिकट यात्रा करने वाली सवारियों पर अंकुश लगाने का प्रयास था। वहीं परिचालक की ओर से किसी सवारी से किराए की राशि ले ली है और टिकट नहीं दिया है तो इस पर भी नजर बनी रहे।
नहीं हो रही मॉनिटरिंग
बसों में लगे सीसीटीवी कैमरों का अनुबंध खत्म होने के बाद उनकी कोई मॉनिटङ्क्षरग नहीं हो रही है।
पुनीत कुमार द्विवेदी, प्रबंधक, संचालन धौलपुर।

Mahesh gupta
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned