सरमथुरा, बाड़ी, मनियां, राजाखेड़ा एवं सैपऊ में लगाए जाएंगे ऑक्सीजन प्लांट

धौलपुर. जिले में विभिन्न उपखण्डों में प्रस्तावित ऑक्सीजन प्लांट के लिए प्रशासन की ओर से प्रशासनिक स्वीकृति जारी कर दी गई है। ऐसे में अब शीघ्र ही ऑक्सीजन प्लांट लगने की प्रक्रिया शुरू हो जाएगी। जिला कलक्टर राकेश कुमार जायसवाल ने बताया कि राजकीय चिकित्सालयों में रोगियों की संख्या बढऩे के कारण ऑक्सीजन

By: Naresh

Published: 15 May 2021, 05:08 PM IST

सरमथुरा, बाड़ी, मनियां, राजाखेड़ा एवं सैपऊ में लगाए जाएंगे ऑक्सीजन प्लांट

धौलपुर. जिले में विभिन्न उपखण्डों में प्रस्तावित ऑक्सीजन प्लांट के लिए प्रशासन की ओर से प्रशासनिक स्वीकृति जारी कर दी गई है। ऐसे में अब शीघ्र ही ऑक्सीजन प्लांट लगने की प्रक्रिया शुरू हो जाएगी। जिला कलक्टर राकेश कुमार जायसवाल ने बताया कि राजकीय चिकित्सालयों में रोगियों की संख्या बढऩे के कारण ऑक्सीजन गैस आपूर्ति के लिए व्यक्तिगत सम्पर्क करने के बाद विधायक द्वारा राजकीय चिकित्सालयों, नगर पालिका क्षेत्र, ग्राम पंचायत में ऑक्सीजन प्लांट लगाए जाने की सहमति दी गई है। जिसमें सिविल कार्य एवं मेडिकल गैस पाइपलाइन की स्थापना का कार्य सम्मिलित नहीं है। मुख्य कार्यकारी अधिकारी जिला परिषद चेतन चौहान ने बताया कि बसेड़ी विधानसभा क्षेत्र के विधायक खिलाड़ी लाल बैरवा द्वारा नगर पालिका क्षेत्र सरमथुरा के लिए 35 लाख रुपए की अनुशंसा जारी की गई। राजाखेड़ा विधानसभा क्षेत्र के विधायक रोहित बोहरा द्वारा सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र मनियां एवं सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र राजाखेड़ा द्वारा कुल 72 लाख की अनुशंसा की गई। विधानसभा क्षेत्र बाड़ी के विधायक गिर्राज सिंह मलिंगा द्वारा ग्राम पंचायत तहसील सैंपऊ को 35 लाख रुपए की अनुशंसा की गई। उन्होंने बताया कि इन सभी की स्वीकृति जारी की गई है। मुख्य कार्यकारी अधिकारी जिला परिषद चेतन चौहान ने बताया कि कार्य तकनीकी एवं वित्तीय स्वीकृति के बाद ही शुरू किया जाएगा। ग्रामीण कार्य निर्देशिका-2010 में निर्दिष्ट मापदण्डों एवं व्यवस्थाओं तथा योजना के प्रावधानों की पालना करते हुए ही कार्य का सम्पादन किया जाएगा। कोविड 19 के लिए खरीदे जाने, स्थापित किए जाने वाले उपकरणों सुविधाओं के तकनीकी विन्यास, विनिर्देश चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग की निर्धारित नीतियां और दिशा निर्देशों के अनुसार होगें। चिकित्सा और स्वास्थ्य विभाग द्वारा पारदर्शी प्रतिक्रिया के माध्यम से अनुमोदित दरों पर खरीद, स्थापना के लिए उपयुक्त उपकरणों की खरीद करते समय जिला प्राधिकरण द्वारा देय प्रक्रियाओं और प्रक्रिया का पालना किया जाएगा। क्रय की जा रही वस्तुओं में से किसी के संबंध में कोई आवर्ती व्यय अनुमत नहीं होगा तथा एक बार के वितरण के तहत उपकरणों की खरीद के लिए व्यय वर्ष 2021-22 के अंत तक सीमित रहेगा। किसी भी परिस्थिति में कोई भी व्यय अगले वित्तीय वर्ष 2022-23 में किए जाने रोल करने की अनुमति नहीं दी जाएगी।

Show More

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned