घर पहुंचने के लिए सैकड़ों किलोमीटर पैदल चल रहै लोग

धौलपुर. कोरोना वायरस को लेकर घोषित देश व्यापी लॉक डाउन के चलते बंद हुए कारोबारों एवं आवागमन के साधनों के बाद हर व्यक्ति किसी न किसी तरह से अपने घर पहुंचने के तमाम जतन कर रहा है। इसके लिए कोई जहां सैंकड़ों मील पदयात्रा कर रहा है वहीं कोई अपने टेंपो आदि निजी साधनों से छिपते-छिपाते आ रहा है। यात्रा के दौरान हर कोई भूख-प्यास की चिंता किए बगैर बस केवल घर पहुंचने की ही जल्दी में है।

By: Naresh

Published: 27 Mar 2020, 06:59 PM IST

घर पहुंचने के लिए सैकड़ों किलोमीटर पैदल चल रहै लोग

घर पहुंचने के लिए कर रहे तरह-तरह के जतन
भूख प्यास की नहीं चिंता, केवल एक ही लक्ष्य
धौलपुर. कोरोना वायरस को लेकर घोषित देश व्यापी लॉक डाउन के चलते बंद हुए कारोबारों एवं आवागमन के साधनों के बाद हर व्यक्ति किसी न किसी तरह से अपने घर पहुंचने के तमाम जतन कर रहा है। इसके लिए कोई जहां सैंकड़ों मील पदयात्रा कर रहा है वहीं कोई अपने टेंपो आदि निजी साधनों से छिपते-छिपाते आ रहा है। यात्रा के दौरान हर कोई भूख-प्यास की चिंता किए बगैर बस केवल घर पहुंचने की ही जल्दी में है। धौलपुर से सटे मध्यप्रदेश व उत्तर प्रदेश की सीमाओं को पार कर लोग विभिन्न स्थानों से सैंकड़ों किलोमीटर की यात्रा कर उत्तर से दक्षिण और दक्षिण से उत्तर की ओर आवागमन कर रहे हैं। यह लोग रास्ते में जहां भी जो भी साधन मिल रहे हैं, उनका उपयोग कर पहुंच रहे हैं। कई लोग विभिन्न मालवाहकों से सफर कर रहे हैं और जहां भी सीमा पर उन्हें सुरक्षा कर्मी उतार लेते हैं, वहां से फिर पैदल यात्रा करते हैं। इनमें गुजरात, महाराष्ट्र, कर्नाटक, तमिलनाडु, दिल्ली, नोयडा, हरियाणा आदि राज्यों में मजदूरी करने गए लोग शामिल हैं। इनके अलावा अनेक ट्रक चालक भी हैं, जो अपने ट्रकों को सुरक्षित स्थानों पर खड़े कर अब अपने घरों को लौट रहे हैं। इसी प्रकार गुजरात के सूरत शहर में ऑटो चला कर अपने परिवार की गुजर-बसर करने वाले बसेड़ी तहसील क्षेत्र के संजू व राजेन्द्र सिंह अपने परिवार को लेकर अपने ऑटो से ही धौलपुर पहुंचे हंै। इस प्रकार कई ऑटो चालक अपने ऑटो से नम्बर प्लेट उतार कर भी यात्रा कर रहे हैं।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned