जिले भर में बंद रहे पेट्रोल पम्प, भटकते रहे उपभोक्ता

धौलपुर. बाड़ी. देश में सबसे अधिक राजस्थान सरकार द्वारा लिए जा रहे वेट कर के विरोध में प्रदेश के सभी पेट्रोल पंप संचालकों ने शनिवार को अपने पंपों को बंद रखा। धौलपुर में जहां लोगों को परेशान होते देखा गया, वहीं बाड़ी में भी आम जनता को भारी परेशानी हुई। वाहन चालक पेट्रोल पंपों से मायूस होकर वापस लौटते देखे गए। क्योंकि पंपों पर फ्यूल नहीं दिया जा रहा था।

By: Naresh

Updated: 10 Apr 2021, 09:31 PM IST

जिले भर में बंद रहे पेट्रोल पम्प, भटकते रहे उपभोक्ता

अधिक वेट कर और फ्यूल सेस के विरोध में बंद रहे सभी पेट्रोल पम्प
-वाहन चालक सुबह से शाम तक दिखे परेशान
धौलपुर. बाड़ी. देश में सबसे अधिक राजस्थान सरकार द्वारा लिए जा रहे वेट कर के विरोध में प्रदेश के सभी पेट्रोल पंप संचालकों ने शनिवार को अपने पंपों को बंद रखा। धौलपुर में जहां लोगों को परेशान होते देखा गया, वहीं बाड़ी में भी आम जनता को भारी परेशानी हुई। वाहन चालक पेट्रोल पंपों से मायूस होकर वापस लौटते देखे गए। क्योंकि पंपों पर फ्यूल नहीं दिया जा रहा था।
जानकारी के अनुसार राजस्थान सरकार द्वारा सबसे अधिक वेट कर और सेस लिया जा रहा है। ऐसे में फ्यूल की कीमतें राजस्थान में अन्य प्रांतो की तुलना में पूरे देश में सबसे अधिक हैं। ऐसे में वाहन चालक निकटवर्ती अन्य प्रदेशों से पेट्रोल-डीजल और अन्य उत्पाद ले रहे हैं। जिसके चलते राज्य के पेट्रोल पंपों को नुकसान हो रहा है। धौलपुर जिला एक तरफ यूपी और दूसरी तरफ एमपी की सीमा पर स्थित है। ऐसे में यहां के ज्यादातर वाहन चालक बाहर से पेट्रोल और डीजल की खरीद करते है या चोरी से भी कम रेट में फ्यूल बेचा जाता है। जिससे जिले के पम्प संचालको को भारी नुकसान हो रहा है। इसके विरोध में पंप संचालकों द्वारा पूर्व में ज्ञापन दिया गया था, जिसमे एक दिन के पम्प बंद की चेतावनी दी थी, लेकिन उस पर प्रदेश सरकार ने कोई सुनवाई नहीं की। जिसके चलते शनिवार को जिले के सभी पंप संचालकों ने सुबह छह बजे से बंद रहे।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned