थाने से पिस्टल गायब, मचा हड़कंप, थाना प्रभारी व एचएम मालखाना निलम्बित

धौलपुर. राजाखेड़ा क्षेत्र के दिहौली थाना से एक पिस्टल गायब हो जाने का मामला सामने आया है। मामले को लेकर मालखाना प्रभारी ने थाना प्रभारी पर लोडेड पिस्टल को ले जाने का आरोप लगाया है। वहीं, मामला संज्ञान में आने के बाद जिला पुलिस अधीक्षक ने थाना प्रभारी व मालखाना प्रभारी को निलिम्बत करने के आदेश जारी किए गए है। साथ ही मामले में जल्द अनुसंधान करने के निर्देश दिए गए है।

By: Naresh

Published: 19 Jan 2021, 10:27 AM IST

थाने से पिस्टल गायब, मचा हड़कंप, थाना प्रभारी व एचएम मालखाना निलम्बित
-अनुसंधान में जुटी पुलिस
धौलपुर. राजाखेड़ा क्षेत्र के दिहौली थाना से एक पिस्टल गायब हो जाने का मामला सामने आया है। मामले को लेकर मालखाना प्रभारी ने थाना प्रभारी पर लोडेड पिस्टल को ले जाने का आरोप लगाया है। वहीं, मामला संज्ञान में आने के बाद जिला पुलिस अधीक्षक ने थाना प्रभारी व मालखाना प्रभारी को निलिम्बत करने के आदेश जारी किए गए है। साथ ही मामले में जल्द अनुसंधान करने के निर्देश दिए गए है।
जिला पुलिस अधीक्षक केसर सिंह शेखावत ने बताया कि दिहौली थाने के मालखाना प्रभारी हैड कांस्टेबल श्याम बाबू ने दर्ज शिकायत में आरोप लगाया है कि थाना प्रभारी रामकेश जोरवाल थाने पिस्टल लेकर गए थे, इसके बाद पिस्टल वापस मालखाने में जमा नहीं कराई। इस दौरान थाना प्रभारी किसी प्रकार की पिस्टल नहीं ले जाने की बात कही। इसके बाद मालखाना प्रभारी ने मामले को लेकर रजिस्टर में रपट अंकित की। एसपी शेखावत ने बताया कि मामले में थाना प्रभारी रामकेश जोरवाल व मालखाना प्रभारी श्यामबाबू को निलम्बित किया गया है। मालखाना प्रभारी ने जब थाना प्रभारी को पिस्टल जारी की थी, इस दौरान पिस्टल के जारी करने की कोई भी सूचना या रपट थाने के रजिस्टर में अंकित नहीं की थी, लेकिन थाना प्रभारी के वापस लौटने पर पिस्टल नहीं कराने की बात कहने के बाद रजिस्टर में रपट अंकित की गई। जिस पर थाना प्रभारी के साथ-साथ मालखाना प्रभारी को भी निलम्बित किया गया है। एसपी ने वीघाराम को दिहौली थाने का नया थाना प्रभारी लगाया गया है।
मामले पर खड़े हुए सवाल
प्राप्त जानकारी के अनुसार दिहौली थाना पुलिस के मालखाने को दो पिस्टल जारी की गई है, इसमें एक पिस्टल थाना प्रभारी के पास जारी होना सामने होना आया है। जब मालखाना प्रभारी श्यामबाबू ने मालखाने के हथियारों के संभाला तो इसमें एक पिस्टल जो कि थाना प्रभारी के पास थी, उसके बारे में थाना प्रभारी से जानकारी मांगी, जिस पर थाना प्रभारी ने किसी भी प्रकार की पिस्टल उनके पास नहीं होने की बात कही। इस बात की जानकारी जब पुलिस उच्चाधिकारियों को हुई तो उन्होंने थाना पुलिस को पिस्टल को ढूंढने के लिए समय भी दिया, लेकिन जब कोई भी जानकारी नहीं होने के बाद मामला दर्ज कर लिया गया। पिस्टल के गायब होने के पीछे कई सवाल खड़े हो गए है। जहां एक ओर थाना प्रभारी पिस्टल साथ नहीं ले जाने की बात कह रहे है, जबकि मालखाना प्रभारी ने थाना प्रभारी ले जाने का आरोप लगा रहे है। अभी तक पड़ताल में सामने आया है कि थाने पर गत 7 जनवरी तक दोनों पिस्टल मालखाना रिकॉर्ड होने की बात सामने आया है, जबकि 11 जनवरी से पिस्टल माल खाने से गायब मिली। जिसके बाद थाना प्रभारी भी तीन दिवसीय अवकाश पर बाहर चले गए। यहां से लौटने पर पिस्टल के गायब होने का मामला एक बार फिर से शुरू हो गया।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned