फरार बंदियों की तलाश में कैलासर में पुलिस का डेरा

धौलपुर. जिला अस्पताल के कोविड-19 के आइसोलेशन यूनिट में क्वारंटाइन चार बंदियों के बाथरूम की दीवार तोड़कर फरार हो जाने के मामले में पुलिस ने आरोपी की तलाश में मध्य प्रदेश के कैलासर क्षेत्र में छुपे होने की सूचना पर दबिश दी। यहां से आरोपी पुलिस के पहुंचने से पहले ही भाग निकल जाने के बाद पुलिस ने यहीं डेरा जमा लिया है।

By: Naresh

Updated: 23 Oct 2020, 07:30 PM IST

फरार बंदियों की तलाश में कैलासर में पुलिस का डेरा
-जिला अस्पताल के बंदी वार्ड के बाथरूम की दीवार से पत्थर हटाकर बंदियों के भागने का मामला
धौलपुर. जिला अस्पताल के कोविड-19 के आइसोलेशन यूनिट में क्वारंटाइन चार बंदियों के बाथरूम की दीवार तोड़कर फरार हो जाने के मामले में पुलिस ने आरोपी की तलाश में मध्य प्रदेश के कैलासर क्षेत्र में छुपे होने की सूचना पर दबिश दी। यहां से आरोपी पुलिस के पहुंचने से पहले ही भाग निकल जाने के बाद पुलिस ने यहीं डेरा जमा लिया है। पुलिस ने ओर से स्थानीय क्षेत्र के आरोपियों की तलाश में कई स्थानों पर दबिशें भी दी। लेकिन कोई जानकारी नहीं हो सकी है। पुलिस के प्रयास जारी बने हुए है।
उल्लेखनीय है कि बसेड़ी थाना पुलिस की ओर से वाहन चोरी के मामले में अजीत पुत्र राजकुमार जाति ठाकुर निवासी रतनपुर थाना बसेड़ी, विकास पुत्र मुन्नालाल निवासी सोबरन सिंह का पूरा घुरैया बसई थाना सुमावली मुरैना मध्य प्रदेश, आकाश पुत्र मुन्नालाल निवासी सोबरन सिंह का पूरा घुरैया बसई थाना सुमावली मुरैना मध्य प्रदेश, कल्याण सिंह पुत्र शिबू उर्फ शिवचरण ठाकुर निवासी मुरावली थाना कंचनपुर को गिरफ्तार किया गया था। पुलिस ने गिरफ्तार आरोपियों से चोरी के वाहन व हथियार बरामद किए गए थे। गिरफ्तार आरोपियों को अनुसंधान के बाद न्यायालय में पेश किया, यहां से इन्हें जेल भेजने के आदेश दिए गए थे। जेल भेजे जाने से पूर्व न्यायालय आदेश पर आरोपियेां का कोविड जांच कराने के बाद इन्हें जिला अस्पताल के कोविड-19 के आइसोलेशन यूनिट में क्वारंटाइन किया गया था। यहां गत शनिवार रात वार्ड के बाथरूम की दीवार से पत्थर निकाल कर चोरों आरोपी भाग निकले थे। पुलिस ने आरोपियों को पकडऩे के लिए कंचनपुर थाना इलाका, बसेड़ी क्षेत्र में उनके ठिकानों पर दबिशें भी दी, लेकिन कोई भी जानकारी अभी तक नहीं मिल सकी है। पुलिस की अभी तक पड़ताल में सामने आया है कि अस्पताल के बंदी वार्ड से फरार होने के बाद चारों आरोपी आगरा-मुम्बई राष्ट्रीय राजमार्ग पहुंचे, यहां से वे ट्रक में बैठकर मध्य प्रदेश में प्रवेश करने की जानकारी मिल रही है। इस पर पुलिस को आरोपी के मध्य प्रदेश के कैलासर क्षेत्र में एक रिश्तेदारी में पहुंचने की जानकारी मिली, पुलिस के पहुंचने से पहले आरोपी यहां से फरार हो गए। पुलिस सूत्रों ने बताया कि आरोपियों के स्थानीय क्षेत्र में ही छुपे होने के अहम सुराग मिले है। जिस पर यहां पुलिस की लगातार दबिशें दी जा रही है।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned