प्रबोधकों को भी शिक्षकों के समान जल्द मिलेंगे प्रमोशन

धौलपुर. लंबे समय से पदोन्नति की बाट जोह रहे प्रबोधकों को भी शिक्षकों के समान अब पदोन्नति मिल सकेगी। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने 5 हजार वरिष्ठ प्रबोधक के पदों को मंजूरी प्रदान की है। राजस्थान शिक्षक एवं पंचायती राज कर्मचारी संघ जिलाध्यक्ष राजेश शर्मा ने सरकार के

By: Naresh

Published: 15 Jun 2021, 05:38 PM IST

प्रबोधकों को भी शिक्षकों के समान जल्द मिलेंगे प्रमोशन

मुख्यमंत्री ने पांच हजार वरिष्ठ प्रबोधकों के पदों को दी मंजूरी

शिक्षक संघ ने फैसले का स्वागत कर मुख्यमंत्री का जताया आभार

धौलपुर. लंबे समय से पदोन्नति की बाट जोह रहे प्रबोधकों को भी शिक्षकों के समान अब पदोन्नति मिल सकेगी। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने 5 हजार वरिष्ठ प्रबोधक के पदों को मंजूरी प्रदान की है। राजस्थान शिक्षक एवं पंचायती राज कर्मचारी संघ जिलाध्यक्ष राजेश शर्मा ने सरकार के इस निर्णय का स्वागत करते हुए मुख्यमंत्री अशोक गहलोत का आभार जताया है। उन्होंने बताया कि संगठन की ओर से लंबे समय से स्कूलों में वरिष्ठ प्रबोधक के पद सृजित कर शिक्षकों के समान ही योग्यता धारी प्रबोधकों को पदोन्नति की मांग की जा रही थी। गौरतलब है कि कांग्रेस शासन में राजीव गांधी पाठशालाओं व शिक्षाकर्मी विद्यालयों में कार्यरत पैरा टीचर्स पर शिक्षा कर्मियों को साल 2008 में राजस्थान पंचायती राज प्रबोधक सेवा नियम 2008 बना कर नया केडर सृजित कर प्रारंभिक शिक्षा के स्कूलों में प्रबोधक बनाया गया था। लेकिन विद्यालयों में वरिष्ठ प्रबोधक के पद स्वीकृत नहीं होने से इनको पदोन्नति नहीं मिल पा रही थी। जबकि 9 वर्षीय सेवाकाल पर लेवल 11 में एसीपी का लाभ दिया जा रहा था। मुख्यमंत्री की ओर से वरिष्ठ प्रबोधकों के पद सृजित किए जाने के बाद इनको मिडिल स्कूल संस्था प्रधान के साथ वरिष्ठ प्रबोधक के रूप में नया पदनाम मिलेगा। ये पद सौ फ़ीसदी प्रमोशन से भरे जाएंगे।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned