ई-मित्र सेंटर पर लेनदेन के दौरान हो रही वसूली, शिकायत पर भी बैंक प्रशासन खामोश

बाड़ी. उपखंड मुख्यालय पर चलने वाले ई-मित्र सेंटरों की लेनदेन में की जा रही मनमानी को लेकर एक उपभोक्ता ने बैंक प्रशासन द्वारा कोई शिकायत की कोई सुनवाई नहीं करने पर जिला प्रशासन को मामले से अवगत कराया है और कार्यवाही की मांग की है।

By: Naresh

Published: 27 Sep 2020, 11:20 AM IST

ई-मित्र सेंटर पर लेनदेन के दौरान हो रही वसूली, शिकायत पर भी बैंक प्रशासन खामोश

बाड़ी. उपखंड मुख्यालय पर चलने वाले ई-मित्र सेंटरों की लेनदेन में की जा रही मनमानी को लेकर एक उपभोक्ता ने बैंक प्रशासन द्वारा कोई शिकायत की कोई सुनवाई नहीं करने पर जिला प्रशासन को मामले से अवगत कराया है और कार्यवाही की मांग की है।
शिकायत के अनुसार स्थानीय बड़ी बैंकों द्वारा उपभोक्ताओं से खाते से दस हजार से कम रुपए की राशि नहीं निकाली जाती है। इसके लिए शहर के ई-मित्र केन्द्रों को अधिकृत कर रखा है। जिसका फायदा ई-मित्र संचालकों द्वारा जबरन उपभोक्ताओं से उठाया जा रहा है। कहा जाता है कि बैंकों में पैसा सेफ है। कभी भी निकालो या जमा कराओ कोई चार्ज नहीं लगेगा, जबकि शहर के कुछ ईमित्र संचालक पैसा निकलवाने पर अतिरिक्त चार्ज ले रहे हैं। शनिवार को शहर के बसेड़ी रोड स्थित एक ईमित्र केंद्र से पीएनबी खाताधारक द्वारा पैसे निकलवाए गए तो संचालक द्वारा अतिरिक्त पैसे वसूल किए गए, जब उपभोक्ता द्वारा अतिरिक्त चार्ज को लेकर जानकारी ली और बताया की निकालने का चार्ज बैंक से एजेंट को दिया जाता है, तो संचालक ने बोला की यहां तो निकालने के पैसे लगेंगे। बाद में उपभोक्ता बैंक के अधिकारियों से भी मिला, लेकिन बैंक प्रशासन द्वारा कोई जवाब नहीं दिया गया। बताया जा रहा है की ऐसी शिकायतें बैंक प्रबंधकों के पास कई बार पहुंच चुकी हैं, फिर भी कोई एक्शन नहीं लिया जाता है।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned