आज से जिले के इन मार्गों पर रोडवेज बस संचालन बंद

‘आमदनी अठ्न्नी खर्चा रूपया’ की कहावत धौलपुर डिपो के कई रोडवेज बस मार्गों पर सटीक बैठ रही है। बसों को यात्रीभार नहीं मिलने के कारण धौलपुर डिपो के करीब आधा दर्जन मार्गों पर बसों का संचालन बंद कर दिया गया है।

mahesh gupta

October, 2011:23 AM

Dholpur, Rajasthan, India

धौलपुर से बसेड़ी, जयपुर, दिल्ली, उदयपुर, बांसवाड़ा के मार्ग का संचालन प्रभावित
धौलपुर. ‘आमदनी अठ्न्नी खर्चा रूपया’ की कहावत धौलपुर डिपो के कई रोडवेज बस मार्गों पर सटीक बैठ रही है। बसों को यात्रीभार नहीं मिलने के कारण धौलपुर डिपो के करीब आधा दर्जन मार्गों पर बसों का संचालन बंद कर दिया गया है। हाल में जयपुर मुख्यालय पर आयोजित बैठक में डिपो मुख्य प्रबंधक की ओर से इन मार्गों पर रिपोर्ट पेश की थी। इसके बाद पांच मार्गों पर संचालित बसों के शिड्यूट को बंद करने के निर्देश दिए है। वहीं, धौलपुर डिपो में कार्यरत ८ बस सारथी को हटाने के निर्देश भी जारी हुए है।
जानकारी के अनुसार राजस्थान राज्य पथ परिवहन निगम के जयपुर मुख्यालय के आदेश में धौलपुर डिपो की ओर से संचालित पांच बसों के संचालन पर रोक लगाई गई। इसके तहत धौलपुर से बसेड़ी मार्ग पर संचालित रोडवेज की दो बसों का संचालन बंद किया है। इन बसों का संचालन शाम को हो रहा था। धौलपुर से जयपुर मार्ग पर शाम सवा छह बजे चलने वाली रोडवेज बस का संचालन बंद किया है। जबकि राजाखेड़ा मार्ग पर संचालित बसों के एक शिड्यूलों को कम किया गया है। इसके अलावा धौलपुर से बासवाड़ा व उदयपुर के लिए चलने वाली बसों को जयपुर तक ही चलाने के आदेश दिए गए है।
हटाए अनुबंध पर लगे आठ बस सारथी
धौलपुर डिपो में अनुबंध में लगे हुए आठ बस सारथियों को हटाने के मुख्यालय से आदेश जारी किए गए है। इन बस सारथी की ओर से बसों में परिचालक के तौर पर कार्य किया जा रहा था। जबकि अनुबंध पर एक निजी कंपनी के २९ चालक भी लगे हुए है। इनकी संख्या में कमी किए जाने की जानकारी मिल रही है।
खर्चा अधिक और आय कम
धौलपुर डिपो के मुख्य प्रबंधक ने बताया कि जयपुर मुख्यालय पर आयोजित बैठक में जिले के ऐसे मार्गों की सूची मांगी गई थी, जिन मार्गों पर यात्रीभार कम हो। इसके तहत पांच मार्गों की सूची दी गई, जिसमें यात्रीभार नाममात्र का निकलने वाले मार्गों की जानकारी दी गई थी और इन मार्गों पर खर्चा अधिक और आय कम हो रही थी। इसके बाद इन मार्गों पर संचालित बसों की संख्या में कमी की है।

Mahesh gupta
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned