डकैत मुकेश गिरोह की तलाश में दबिशें तेज

धौलपुर. बसेड़ी थाना क्षेत्र में पेट्रोल पंप, शराब के ठेके व पुलिस पर फायरिंग और उत्तर प्रदेश के आगरा क्षेत्र में बैंक लूट की वारदात के मामले में सक्रिय हुए डकैत मुकेश ठाकुर गिरोह को पकडऩे के लिए धौलपुर पुलिस ने भी प्रयास तेज कर दिए है। गिरोह के सदस्यों को पकडऩे के लिए पुलिस टीमें जिले के अलावा आसपास के जिलों में भी दबिशें दे रही है। पुलिस ने जल्द ही मामले में सफलता मिलने का दावा किया है।

By: Naresh

Published: 02 Mar 2021, 11:57 AM IST

डकैत मुकेश गिरोह की तलाश में दबिशें तेज
धौलपुर. बसेड़ी थाना क्षेत्र में पेट्रोल पंप, शराब के ठेके व पुलिस पर फायरिंग और उत्तर प्रदेश के आगरा क्षेत्र में बैंक लूट की वारदात के मामले में सक्रिय हुए डकैत मुकेश ठाकुर गिरोह को पकडऩे के लिए धौलपुर पुलिस ने भी प्रयास तेज कर दिए है। गिरोह के सदस्यों को पकडऩे के लिए पुलिस टीमें जिले के अलावा आसपास के जिलों में भी दबिशें दे रही है। पुलिस ने जल्द ही मामले में सफलता मिलने का दावा किया है।
उल्लेखनीय है कि गत 8 फरवरी को बसेड़ी थाना क्षेत्र में बिना नंबरी जीप में सवार हथियारों से लैस बदमाशों ने गांव गुलावली स्थित पेट्रोल पंप व शराब के ठेके पर लूट के इरादे से बदमाशों ने तोडफ़ोड़ व फायरिंग की, इसके अलावा पुलिस दल पर फायरिंग की वारदात को अंजाम दिया। मामले में पुलिस आरोपियों की पहचान डकैत मुकेश ठाकुर गिरोह के रूप में की। इसी दौरान गत उत्तर प्रदेश के आगरा जिले के थाना इरदातनगर क्षेत्र में गत दो दिन पहले दिनदहाड़े केनार बैंक परिसर में बदमाशों ने बंदूक की नोंक पर 7 लाख रूपए की वारदात को अंजाम दिया। लगातार वारदातों के बाद धौलपुर पुलिस ने जिले में सक्रियता बढ़ा दी और गिरोह के कुछ सदस्यों को गिरफ्तार कर लिया। इसी क्रम में उत्तर प्रदेश में गिरोह के दो सदस्यों को मुठभेड़ के बाद दबोच लिया।
धौलपुर पुलिस हुई सक्रिय
पुलिस ने डकैत मुकेश ठाकुर व उसके गिरोह के फरार चल रहे सदस्यों को पकडऩे के लिए जिले में उनके ठिकानों पर दबिशें देना शुरू कर दिया है। सूत्रों ने बताया कि जिले के पड़ोसी जिले आगरा, मुरैना, करौली व भरतपुर क्षेत्र में भी फरार आरोपियों के संभावित ठिकानों पर दबिशें दी जा रही है।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned