कफ्र्यूग्रस्त क्षेत्र में नियमों की उड़ी धज्जियां, पुलिस ने भी झाड़ा पल्ला

धौलपुर. कहने को शहर में कोरोना पॉजीटिव मरीजों का आने के बाद कई स्थानों पर कफ्र्यू लगाया गया है, लेकिन यहां की व्यवस्था को रामभरोसे ही छोड़ रखा है। पुलिस और प्रशासन की लचर व्यवस्थाओं को चलते कफ्र्य ग्रस्त क्षेत्र में लगे बल्लियां के बेरीकेट्स को लोगों ने अपनी सुविधानुसार हटा लिया है, इतना ही नहीं गलियां में लोगों के एकत्र होने का सिलसिला भी जारी बना हुआ है।

By: Naresh

Updated: 14 Jun 2020, 08:29 AM IST

कफ्र्यूग्रस्त क्षेत्र में नियमों की उड़ी धज्जियां, पुलिस ने भी झाड़ा पल्ला
-शहर में जगह-जगह बल्लियां के बेरीकेट्स हटा कर बना लिए रास्ते
-कफ्र्यू ग्रस्त क्षेत्र में नजर आई पुलिस की माकूल व्यवस्था
धौलपुर. कहने को शहर में कोरोना पॉजीटिव मरीजों का आने के बाद कई स्थानों पर कफ्र्यू लगाया गया है, लेकिन यहां की व्यवस्था को रामभरोसे ही छोड़ रखा है। पुलिस और प्रशासन की लचर व्यवस्थाओं को चलते कफ्र्य ग्रस्त क्षेत्र में लगे बल्लियां के बेरीकेट्स को लोगों ने अपनी सुविधानुसार हटा लिया है, इतना ही नहीं गलियां में लोगों के एकत्र होने का सिलसिला भी जारी बना हुआ है।
उल्लेखनीय है कि शहरी क्षेत्र के करीब आधा दर्जन से अधिक लोगों के रिपोर्ट कोरोना पॉजीटिव आने के बाद शहर के अलग-अलग स्थानों पर कफ्र्यू क्षेत्र घोषित किया गया है। इस दायरे में शहर अधिकांश आबादी क्षेत्र को कफ्र्यू घोषित किया गया है, लेकिन इस का असर शुक्रवार देर शाम तक कहीं भी नजर आया। कफ्र्यू ग्रस्त क्षेत्र में रहने वाले लोग ना केवल बड़ी संख्या में बाहर निकले, बल्कि गलियां में दुकानदारों ने भी दुकान भी खोल ली। इसक अलावा कई लोग तो शहर के आमरास्तों पर गाडिय़ां दौड़ते हुए हुए थी नजर आए। ऐसे में शहर के बाजार व कफ्र्य ग्रस्त क्षेत्र में इक्का-दुक्का पुलिसकर्मी ही नजर आए। पुलिस और प्रशासन की गतिविधियों नाममात्र की होने के कारण कई स्थानों पर लोग एकत्र होकर खड़े हुए नजर भी आए।

नहीं दिखे पुलिसकर्मी
कफ्र्यू ग्रस्त एरिया में जिला प्रशासन व पुलिस की व्यवस्था की पोल खोल कर रख दी। शहर के अधिकांश कफ्र्यू ग्रस्त क्षेत्र होने के बाद पुलिसकर्मी कहीं भी नजर नहीं आए। बाजार क्षेत्र के एक-दो यातायात पुलिसकर्मी जरूर ड्यूटी पर बैठे दिखे। कफ्र्यू के दौरान पुलिस सक्रियता नहीं होना व्यवस्थाओं पर कई सवाल खड़े कर रहा है। गंभीर बात यह भी है कि प्रशासनिक अधिकारियों ने लोगों को समझाइश को लेकर भी आगे नहीं आए।
--------------------------------

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned