कट लगा दो लाख रुपए पार करने वाला संदिग्ध युवक सीसीटीवी में कैद

बाड़ी कस्बे में एसबीआई बैंक से राशि निकाल कर मशीन से पासबुक में एंट्री करा रहे सेवानिवृत्त अध्यापक के थैले में कट लगाकर रुपए निकालने वाले संदिग्ध युवक की फोटो सीसीटीवी कैमरे में आई हैं।

By: Mahesh Gupta

Published: 01 Mar 2020, 11:53 AM IST

कट लगा दो लाख रुपए पार करने वाला संदिग्ध युवक सीसीटीवी में कैद
सूचना देने वाले को पुलिस देगी इनाम
तीन जनों ने निकाली थी राशि
धौलपुर. बाड़ी कस्बे में एसबीआई बैंक से राशि निकाल कर मशीन से पासबुक में एंट्री करा रहे सेवानिवृत्त अध्यापक के थैले में कट लगाकर रुपए निकालने वाले संदिग्ध युवक की फोटो सीसीटीवी कैमरे में आई हैं। पुलिस अधीक्षक मृदुल कच्छावा ने बताया कि बाड़ी कस्बे में बैंक से रिटायर्ड अध्यापक बाबूसिंह के थैले में रखे 5 लाख रुपए में से 2 लाख रुपए निकालने वाले युवक की फोटो कैद हुई है। फोटो में युवक ने मेहंदी कलर की शर्ट तथा नीला पजामा पहना हुआ है। उन्होंने बताया कि इस शातिर आरोपी के बारे में जानकारी देने वाले व्यक्ति का नाम गुप्त रखने के साथ उसे पुलिस की ओर से इनाम भी दिया जाएगा।
यूं पार किए दो लाख रुपए
पुलिस की ओर से खंगाले गए सीसीटीवी में पासबुक एंट्री मशीन के सामने खड़े वृद्ध के पास दो बालक तथा एक युवक खड़े हो गए और उन्हें घेर लिया। इस दौरान दोनों बालक एक तरफ खड़े हो गए। जबकि युवक दूसरी तरफ आ-जा रहा था। इतने में ही लाल शर्ट पहने हुए बालक ने वृद्ध के थैले का कट लगाया और उसमें से 50-50 हजार की चार गिड्डियां निकाल ली। जैसे ही उसने गड्डी निकाली युवक बाहर आ गया। वहीं बालक भी गड्डी जेब में रख भाग गया।
उल्लेखनीय है कि बाड़ी उपखंड के सदर थाना क्षेत्र के गढ़ी जखौदा के परीक्षित पुरा गांव निवासी रिटायर्ड अध्यापक बाबूसिंह पुत्र विजय सिंह के थैले में से शुक्रवार को एक युवक ने दो लाख रुपए पार कर लिए थे। वह बैंक से पांच लाख रुपए निकालने आया था। बाहर आकर उसे थैले में कट लगा दिखाई दिया। सूचना पर पहुंची पुलिस ने बैंक के सीसीटीवी फुटेज खंगाले हैं, इसमें उक्त युवक को फोटो निकला है।
फोटो कैप्शन: डीएच0103सीए- धौलपुर. बाड़ी कस्बे में एसबीआई बैंक में दो लाख रुपए निकालने वाले संदिग्ध युवक का फोटो (लाल घेरे में)

Mahesh Gupta
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned