scriptपार्वती बांध का जलस्तर 214.60 मीटर तक पहुंचा, लगातार हो रही बारिश से क्षेत्र के नदी नाले उफान | The water level of Parvati Dam reached 214.60 meters, | Patrika News
धौलपुर

पार्वती बांध का जलस्तर 214.60 मीटर तक पहुंचा, लगातार हो रही बारिश से क्षेत्र के नदी नाले उफान

धौलपुर. पिछले पांच-छह दिन से धौलपुर जिले और आसपास के क्षेत्र में बारिश का दौर जारी है। कहीं हल्की तो कहीं तेज बारिश हो रही है।

धौलपुरJul 09, 2024 / 06:49 pm

Naresh

पार्वती बांध का जलस्तर 214.60 मीटर तक पहुंचा, लगातार हो रही बारिश से क्षेत्र के नदी नाले उफान पार्वती बांध का जलस्तर 214.60 मीटर तक पहुंचा, लगातार हो रही बारिश से क्षेत्र के नदी नाले उफान
धौलपुर. पिछले पांच-छह दिन से धौलपुर जिले और आसपास के क्षेत्र में बारिश का दौर जारी है। कहीं हल्की तो कहीं तेज बारिश हो रही है। जिस कारण अब नदी नाले भी उफान मारने लगे हैं। तो वहीं क्षेत्र के बांधों में भी पानी का स्तर बढऩे लगा है। छोटे बांधों से लेकर क्षेत्र का एकमात्र बड़ा पार्वती बांध का भी जल स्तर बढऩे लगा है। बांध में इस समय 214.60 मीटर तक भर चुका है। बांधी की भराव क्षमता 223.41 मीटर है। इस बांध में करौली और सरमथुरा क्षेत्र से पांच नदियों का पानी आता है। इसी तरह क्षेत्र के सारे बांधों में जल स्तर बढऩे लगा है।
इस बार मानसून प्रदेश सहित धौलपुर जिले पर भी खूब मेहरबान है। पिछले 5-6 दिनों से जिले भर में लगातार बारिश हो रही है। जिले में सबसे ज्यादा बारिश बाड़ी और बसेड़ी क्षेत्र में हो रही है। इन दोनों क्षेत्रों में बारिश का आंकड़ा 350 एमएम को पार कर चुका है। जिसका असर अब क्षेत्र के बांधों में बढ़ते जलस्तर के रूप में दिखने लगा है। बारिश का यह दौर लगातार दौर चल रहा है। इससे क्षेत्र के अधिकांश बांध आधे भर गए है। सिंचाई विभाग की आंकड़ों के अनुसार बाड़ी उपखंड के रामसागर बांध में 15.00 फीट पानी भर चुका है जबकि उसकी भराव क्षमता 25.1 फीट है। इसी तरह तालाबशाही बांध में 5.5 फीट,उर्मिला सागर में 16 फीट पानी और पार्वती बांध में 214.60 मीटर पानी आ चुका है। जो भराव क्षमता के लगभग आधा है। जिस कारण सिंचाई विभाग काफी खुश है। और ऐसा हो भी क्यूं ना क्योंकि मानसूनी सीजन 15 जून से 30 सितंबर तक होता है। उक्त सीजन में धौलपुर जिले में औसत 650 एमएम बारिश दर्ज की जाती है। इस सीजन में मानसूनी सीजन अभी 20 दिन ही हुआ है जिसमें 33 प्रतिशत बारिश यानी 215 एमएम बारिश जिले में हो चुकी है।
बांध वर्तमान स्थिति भराव क्षमता

पार्वती 214.60 223.41 मी.

रामसागर 15 फीट 25.1

फीटतालाबशही 5.5 फीट 11 फीट

उर्मिला सागर 16 फीट 28 फीट

चंबल का भी बढऩे लगा जल स्तर
राजस्थान सहित पड़ोसी राज्य में हो रही अच्छी बारिश के कारण अब चम्बल नदी का भी जल स्तर धीरे-धीरे बढऩे लगा है। देखा जाए तो नदी का बेड लेवल 115 मीटर है और वॉर्निंग लेवल 129.79 मीटर है तो डेंजर लेवल 130.79 मीटर। अभी नदी का जल स्तर 121.20 मीटर है। जो कि वोर्निंग लेवल से 8 मीटर कम है। हालांकि नदी का जल स्तर बढऩे के साथ विभाग ने भी अलर्ट जारी कर दिया है। विभाग द्वारा 24 घंटे नदी के जलस्तर पर नजर रखी जा रही है।
बसेड़ी में सबसे ज्यादा तो राजाखेड़ा सबसे कम बारिश

– धौलपुर शहर में अभी तक 232 एमएम बारिश हुई

भीषण गर्मी के बाद मानसून ने अपनी दमदार उपस्थिति से धौलपुर जिले को तर कर दिया है। लगातार हो रही बारिश से अब जन जीवन प्रभावित होने लगा है। जिले में सबसे ज्यादा बारिश बाड़ी और बसेड़ी क्षेत्र में देखने को मिली है। बाड़ी में जहां सोमवार सुबह तक 347 एमएम बारिश दर्ज की गई है। तो वहीं बसेड़ी में सबसे ज्यादा 359 एमएम बारिश अब तक हो चुकी है। जिस कारण क्षेत्र के नदी नाले उफान पर हैं। तो वहीं इन कस्बों में जगह-जगह पानी भर चुका है। जिससे लोगों को भारी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। जिले के अन्य कस्बों की बात करें तो आंगई में 153, सैंपऊ में 20, तालशाही में 282, उर्मिला सागर में 324 एमएम बारिश हो चुकी है। वहीं धौलपुर शहर की बात करें तो अभी तक 232 एमएम बारिश रिकॉर्ड की गई है। धौलपुर शहर की औसत वर्षा 640 एमएम के आसपास है।
सबसे कम राजाखेड़ा में बारिश

जिले में सबसे कम बारिश की बात करें तो राजाखेड़ा तहसील में अभी तक 131 एमएम बारिश हुई है। जो कि जिले में सबसे कम बारिश है। हालांकि अभी मानसून सीजन की शुरुआत ही है। और मौसम विभाग की अच्छी बारिश के पूर्वानुमान को देखते हुए उम्मीद की जा सकती है कि राजाखेड़ा में भी अच्छी बारिश दर्ज हो।

Hindi News/ Dholpur / पार्वती बांध का जलस्तर 214.60 मीटर तक पहुंचा, लगातार हो रही बारिश से क्षेत्र के नदी नाले उफान

ट्रेंडिंग वीडियो