कौन सही- एएसआई या एसपी...पढ़े खबर

वाहनों के दस्तावेज हमेशा साथ रखने की झंझट से मुक्ति दिलाने के लिए भले ही सरकार ने डिजीलॉकर व्यवस्था लागू कर दी हो, लेकिन धौलपुर पुलिस को इससे कोई मतलब नहीं है। वह इसे लागू ही नहीं मान रही।

By: Mahesh Gupta

Published: 27 Nov 2019, 11:39 AM IST

कौन सही- एएसआई या एसपी...पढ़े खबर
एएसआई- डिजीलॉकर एपलागू नहीं हुआ है, चालान काट दिया गया है
पुलिस अधीक्षक- डिजीलॉकर एप मान्य है, अगर काटा है तो निरस्त होगा
धौलपुर. वाहनों के दस्तावेज हमेशा साथ रखने की झंझट से मुक्ति दिलाने के लिए भले ही सरकार ने डिजीलॉकर व्यवस्था लागू कर दी हो, लेकिन धौलपुर पुलिस को इससे कोई मतलब नहीं है। वह इसे लागू ही नहीं मान रही। इसका ही उदाहरण मंगलवार दोपहर का सामने आया, जबकि धूलकोट में एक वाहन चालक को निहालगंज थाने के एएसआई ठाकुरदास ने वाहन चैकिंग के लिए रोका। इस दौरान वाहन मालिक महेश जैन ने डिजीलॉकर एप में वाहन की आरसी दिखाने का प्रयास किया, तो एएसआई ने देखने से ही इनकार कर दिया।साथ ही कहा कि एप लागू नहीं है। चालान तो कटेगा और आरसी नहीं होने का चालान काट कर धारा 207 में जब्त भी कर लिया। इस दौरान पत्रिका रिपोर्टर को जानकारी मिली तो एएसआई से वार्ता की।
परिवहन विभाग-पुलिस कर रही प्रचार-प्रसार
डिजीलॉकर को लेकर परिवहन विभाग तथा जिला पुलिस स्तर पर हर वाहन चालक को जानकारी देने के लिए प्रचार-प्रसार किया
जा रहा है।
इसके लिए केन्द्र सरकार ने भी नोटिफिकेशन जारी किया हुआ है। जिससे वाहन चालकों को हर दस्तावेज साथ नहीं रखन पड़े।
एएसआई- इनका चालान हो गया है
रिपोर्टर- इनके पास डिजीलॉकर है।
एएसआई- डिजीलॉकर एप लागू नहीं किया गया है।
रिपोर्टर- एसपी साब ने छपवाया था।
एएसआई- छपवाया था, लेकिन नियम लागू नहीं है, चालान बन गया है, केवल साइन बाकी हैं। सामने से रसीद कटवा लें।
रिपोर्टर- एसपी साब से बात करते हैं।
एएसआई- बिलकुल कर लो।
डिजीलॉकर एप मान्य है। चालान नहीं काटा जा सकता है। अगर किसी अधीनस्थ ने जानकारी के अभाव में चालान काट दिया है तो निरस्त करने का प्रावधान है।
मृदुल कच्छावा, एसपी, धौलपुर।

डिजीलॉकर एप व्यवस्था लागू है। अगर चालान काट दिया गया है तो केंसिल करना होगा।
मनोज कुमार वर्मा, जिला परिवहन अधिकारी, धौलपुर।

मैंने डिजीलॉकर एप में आरसी दिखाई, लेकिन एएसआई ने देखी ही नहीं और चालान काट कर वाहन जब्त कर लिया।
महेश जैन, पीडि़त वाहन चालक, धौलपुर।

Mahesh Gupta
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned