scriptYoung generation wasted by getting entangled in one's nineties | एक के नब्बे के मकडज़ाल में उलझकर बर्बाद होती युवा पीढ़ी | Patrika News

एक के नब्बे के मकडज़ाल में उलझकर बर्बाद होती युवा पीढ़ी

सट्टे की गिरफ्त में बड़ी आबादी

राजाखेड़ा. एक के नब्बे का खेल सट्टा बाजार क्षेत्र में अब लोगों को बड़ी संख्या में अपनी गिरफ्त में ले चुका है, जहां जल्दी बड़ा आदमी बनने की चाह में लोग अपनी मेहनत की कमाई को सटोरियों की भेंट चढ़ा रहे हैं। इस सब में सिर्फ क्षेत्र में तेजी से उग आए सटोरियों द्वारा आम जनता और गरीब मजदूर तबके की मेहनत की राशि तो सुगमता से हड़पी ही जा रही है

धौलपुर

Published: April 11, 2022 08:49:46 pm

एक के नब्बे के मकडज़ाल में उलझकर बर्बाद होती युवा पीढ़ी

सट्टे की गिरफ्त में बड़ी आबादी

राजाखेड़ा. एक के नब्बे का खेल सट्टा बाजार क्षेत्र में अब लोगों को बड़ी संख्या में अपनी गिरफ्त में ले चुका है, जहां जल्दी बड़ा आदमी बनने की चाह में लोग अपनी मेहनत की कमाई को सटोरियों की भेंट चढ़ा रहे हैं। इस सब में सिर्फ क्षेत्र में तेजी से उग आए सटोरियों द्वारा आम जनता और गरीब मजदूर तबके की मेहनत की राशि तो सुगमता से हड़पी ही जा रही है, वहीं आम आदमी इनके लालच की गिरफ्त में फंसता ही जा रहा है। खास तौर पर क्षेत्र के युवाओं को जहां नए आयामों के छूने के लिए हर रोज मेहनत के नए रास्ते ढूंढ कर बुलंदियों को हासिल करने की सोचना चाहिए, वहां क्षेत्र में युवा वर्ग अपना पुरुषार्थ छोड़ जल्द करोड़पति बनने की चाह में अपनी किस्मत सट्टे में आजमाते हुए बर्बाद होते नजर आते हैं।
प्रतिष्ठित वर्ग भी लालच के फेर मेंबड़े और आसान लाभ की चाहत में गरीब वर्ग ही नहीं, संभ्रांत और व्यापारी वर्ग के लोग भी बड़ी संख्या में सट्टे में किस्मत आजमाते हैं। धीरे धीरे लालच की लालसा बढ़ती चली जाती है और सटोरियों की गिरफ्त में आकर जमीन जायदाद तक से हाथ धो बैठते हैं।
Young generation getting entangled in the maze of one's nineties
एक के नब्बे के मकडज़ाल में उलझकर बर्बाद होती युवा पीढ़ी
लंबे समय से जारी है खेल
सट्टा व्यवसाय क्षेत्र के लिए कोई नया कारोबार नहीं है, बल्कि दशकों से यह क्षेत्र में अपनी जड़े गहराई से जमा चुका है। जहां महिला पुरूष ही नहीं वरण बड़ी संख्या में नाबालिग भी इस कुचक्र में फंस कर खुद को बर्बाद कर चुके हैं। लेकिन हर रोज घाटे को पूरा करने के चक्कर मे अपनी मेहनत की कमाई को इनके सुपुर्द कर आते हैं।
हैरानी की बात यह कि लोग सट्टे के नम्बर को लेने के लिए अंधविश्वास में डूब कर लोग उत्तर प्रदेश व मध्यप्रदेश तक साधु महात्माओं के गहन सम्पर्क में रहते हैं।
कानून में नहीं कड़ी सजा
जुआ सट्टा कानूनन अपराध तो है, पर जमानती है। जिसके चलते सटोरियों को पुलिस गिरफ्तार भी करती है, तो राजस्थान प्रिवेंशन ऑफ गैंबलिंग एक्ट में कुछ ही देर में थाना स्तर पर जमानत मिल जाती है और सटोरिया थाने से निकलते ही पुन: अपने धंधे में रम जाता है। कई बार तो पुलिस के दबाब में मासिक आंकड़े पूरे करने के लिए बड़े सटोरिये खुद ही छोटे खाईवालों को थाने भेजकर टारगेट पूरे करवा देते हैं। जहां सटोरियों पर 500 से 1500 तक के पर्चे दिखा कर पुलिस अपने टारगेट की इतिश्री कर लेती है।
आवश्यक है संगठित अपराध पर चोट
लोगों का मानना है कि पुलिस को छोटे सटोरियों से टारगेट पूरा करने की जगह बड़े गद्दी मालिकों को पकड़ कर उनपर संगठित अपराध की धाराओं में कड़ी कार्रवाई करनी चाहिए। जिससे ऐसे अपराधों पर लगाम लग सके।
तीन माह में ही 10 कार्रवाई
वहीं पुलिस भी कार्रवाई तो लगातार कर रही है, पर कानून लचर होने के कारण ये लोग छूटते ही पुन: इस गलीज धंधे में लग जाते है। थाना पुलिस के अनुसार इनके विरुद्ध जनवरी में 4, फरवरी में चार, मार्च में 2 कार्रवाई की जा चुकी है, लेकिन इनपर कोई लगाम नहीं लग सकी है।
इनका कहना है
जुआ-सट्टा का जहर अब नसों में घुलता जा रहा है। इस व्यवसाय के छोटे खिलाडिय़ों की जगह अब बड़े खिलाडिय़ों पर गंभीर धाराओं में नियमित कार्रवाई हो तो ही इस पर लगाम लग सकती है।
राजेश वर्मा, पूर्व पार्षद
जुआ सट्टा को कानून में संशोधन करके नॉन बेलेबल ओफेन्स बनाया जाना चाहिए। तभी इसके खिलाडिय़ों में डर पैदा होगा।जगन यादव, अध्यापक एवं सामाजिक कार्यकर्ता

यह गंभीर मामला है। सट्टा समाज में ऐसा रोग है, जो धीरे-धीरे परिवारो को खत्म कर देता है। नई पीढ़ी को बर्बाद कर रहा है। पुलिस के साथ शहर के जिम्मेदार नागरिकों को भी इस अपराध के विरुद्ध मोर्चा खोलना चाहि।विवेक अलपुरिया, व्यापारी
छोटी उम्र से लेकर बड़े उम्र तक के लोग इस खेल में शामिल हैं। पुलिस का अपराधियों में खौफ होना आवश्यक है। इस अपराध में समाज और प्रशासन को निष्पक्ष होकर इस पर अंकुश लगाना चाहिए।
टिंकू राज गोस्वामी, व्यापारी

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

17 जनवरी 2023 तक 4 राशियों पर रहेगी 'शनि' की कृपा दृष्टि, जानें क्या मिलेगा लाभज्योतिष अनुसार घर में इस यंत्र को लगाने से व्यापार-नौकरी में जबरदस्त तरक्की मिलने की है मान्यतासूर्य-मंगल बैक-टू-बैक बदलेंगे राशि, जानें किन राशि वालों की होगी चांदी ही चांदीससुराल को स्वर्ग बनाकर रखती हैं इन 3 नाम वाली लड़कियां, मां लक्ष्मी का मानी जाती हैं रूपबंद हो गए 1, 2, 5 और 10 रुपए के सिक्के, लोग परेशान, अब क्या करें'दिलजले' के लिए अजय देवगन नहीं ये थे पहली पसंद, एक्टर ने दाढ़ी कटवाने की शर्त पर छोड़ी थी फिल्ममेष से मीन तक ये 4 राशियां होती हैं सबसे भाग्यशाली, जानें इनके बारे में खास बातेंरत्न ज्योतिष: इस लग्न या राशि के लोगों के लिए वरदान साबित होता है मोती रत्न, चमक उठती है किस्मत
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.