हृदय रोग का खतरा टालता सेब, कैंसररोधी है ब्रोकली

हृदय रोग का खतरा टालता सेब, कैंसररोधी है ब्रोकली

Vikas Gupta | Updated: 14 Apr 2019, 02:18:38 PM (IST) डाइट-फिटनेस

फाइबर से भरपूर यह फल आंतों के कैंसर की आशंका को भी कम करता है व पाचनतंत्र दुरुस्त रखता है।

ब्रिटिश मेडिकल जर्नल के अनुसार रोजाना एक सेब खाने से हृदयाघात व स्ट्रोक का खतरा कम हो जाता है। यह ऐसा ऑक्सीडेंट है जो कई बीमारियों से दूर रखता है। अध्ययन के अनुसार सेब बिना किसी साइड इफेक्ट के नेचुरल तरीके से खून पतला करने का काम करता है। इस फल में प्रचुर मात्रा में पेक्टिन तत्त्व पाया जाता है जो कोलेस्ट्रॉल के स्तर को घटाने के साथ डायबिटीज से बचाता है। फाइबर से भरपूर यह फल आंतों के कैंसर की आशंका को भी कम करता है व पाचनतंत्र दुरुस्त रखता है। दिनभर में 2-3 सेब खाने से एनीमिया की समस्या दूर होती है।

कैंसररोधी है ब्रोकली -
ब्रोकली में सल्फोराफेन नामक तत्त्व पाया जाता है जो कैंसररोधी कंपाउंड का स्त्रोत माना जाता है। अमरीका की इलिनॉय यूनिवर्सिटी में किए एक शोध के अनुसार यदि इसे मूली, टमाटर, पत्तागोभी व गोभी जैसी सब्जियों के साथ मिलाकर खाया जाए तो इसका कैंसर से लड़ने वाला कंपाउंड अधिक असरकारी हो जाता है। आयुर्वेद विशेषज्ञ के अनुसार मूली, पत्तागोभी व फूलगोभी सल्फर से भरपूर होते हैं व टमाटर में लाइकोपीन नामक तत्त्व पाया जाता है। सल्फर व लाइकोपीन दोनों ही कैंसररोधी माने जाते हैं। ऐसे में ब्रोकली को इनके साथ मिलाकर खाने से कैंसररोधी तत्त्वों में वृद्धि हो जाती है इसके कारण ये ज्यादा फायदा करता है।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned