scriptपोषक तत्वों में पालक-मेथी से आगे है ये पत्तेदार रॉकेट सब्जी, नाम भी नहीं जानते होंगे आप |Roket vegetable health benefits in hindi, see photos | Patrika News
डाइट फिटनेस

पोषक तत्वों में पालक-मेथी से आगे है ये पत्तेदार रॉकेट सब्जी, नाम भी नहीं जानते होंगे आप

6 Photos
2 months ago
1/6

अरुगुला, कुछ लोग इसका नाम भी नहीं जानते। लेकिन ये बेहद गुणकारी सब्जी है। इसके गुण हैरान करने वाले हैं। पुरानी बीमारियों को ठीक करने से लेकर हड्डियों की ताकत बढ़ाने तक, सभी में इस हरी पत्तेदार सब्जी का कोई मुकालबा नहीं। यह विटामिन ए, सी, के, बी9 (फोलेट), प्लस कैल्शियम, पोटेशियम और आयरन से भरपूर है, आइए जानते हैं इसकी खूबियां।

2/6

अरुगुला को रॉकेट, रुकोला, सफेद मिर्च, रोक्वेट या तारामीरा भी कहा जाता है। सरसों की तरह ही ये अपने चटपटे स्वाद और स्वास्थ्य लाभों के लिए खूब पसंद की जाती है। हालांकि अभी यह लोगों के बीच में कम प्रचलित हैं। वैज्ञानिक रूप से एरुका वेसिकेरिया के रूप में जाना जाने वाला अरुगुला क्रूसिफेरस ब्रैसिसेकी वेजी परिवार का हिस्सा है। यह केल, पत्तागोभी और ब्रोकोली जैसी सब्जियों में शामिल हैं। इसकी पत्तियां बेहद मुलायम और तेज होती है।

3/6

सलाद और स्मूदी:
आप इसे साग के तौर पर खा सकते हैं, लेकिन ये सलाद के रूप में सबसे ज्यादा लोकप्रिय है। इसकी स्मूदी भी बनती है और पास्ता में भी इसे डाला जाता है। इससे खाने का स्वाद बढ़ता है।

4/6

एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर:
अरुगुला एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर होता है, जो पुरानी बीमारियों में भी आराम दिलाता है। इससे शरीर को कई पोषक तत्व भी मिलते हैं, जो इसे बेहद खास बनाते हैं। इसमें विटामिन के भरपूर मात्रा में पाया जाता है।

5/6

रक्तचाप को रखता है नियंत्रित:
अरुगुला ब्लड प्रेशर को नियंत्रित करने में मदद करता है। खासकर जिन लोगों के हाई बीपी की समस्या रहती है, उन्हें इसका सेवन करना चाहिए। इसके सेवन से शरीर को मजबूती मिलती है। यदि आप कोई एक्सरसाइज कर रहे हैं तो भी इसका सेवन कर सकते हैं, क्योंकि इससे भी शरीर को स्ट्रेंथ मिलती है।

6/6

हड्डियों का स्वास्थ्य
कैल्शियम की उच्च मात्रा के कारण अरुगुला का सेवन हड्डियों के स्वास्थ्य को बेहतर बनाने में मदद कर सकता है। इससे डायबिटीज में भी सुधार हो सकता है।
डिसक्लेमरः इस लेख में दी गई जानकारी का उद्देश्य केवल रोगों और स्वास्थ्य संबंधी समस्याओं के प्रति जागरूकता लाना है। यह किसी क्वालीफाइड मेडिकल ऑपिनियन का विकल्प नहीं है। इसलिए पाठकों को सलाह दी जाती है कि वह कोई भी दवा, उपचार या नुस्खे को अपनी मर्जी से ना आजमाएं बल्कि इस बारे में उस चिकित्सा पैथी से संबंधित एक्सपर्ट या डॉक्टर की सलाह जरूर ले लें।

 

अगली गैलरी
Memory तेज करने के लिए भूल जाएं गोली, इन चीजों में है गजब की ताकत, ये रहा सबूत
next
loader
Copyright © 2024 Patrika Group. All Rights Reserved.