scriptTips and tricks to keep Navratri fast in diabetes and pregnancy | नवरात्रि व्रत नहीं होगा खंडित, बस इस तरीके से रखें डायबिटीज और प्रेग्नेंसी में उपवास | Patrika News

नवरात्रि व्रत नहीं होगा खंडित, बस इस तरीके से रखें डायबिटीज और प्रेग्नेंसी में उपवास

Tips and tricks to keep fasting :चैत्र नवरात्रि में नौ दिन व्रत रखना आसान नहीं होता, खासकर उनके लिए जो प्रेग्नेंट या डायबिटीज से पीड़ित हों। लेकिन कुछ बातों का ध्यान दें कर आप न केवल व्रत रख सकते हैं, बल्कि इसे खंडित होने से भी बचा सकते हैं।

Published: April 01, 2022 03:04:46 pm

गर्मियों की तपिश अपने चरम पर है, ऐसे में अगर आप नवरात्रि व्रत रख रहे हैं तो आपको अपनी सेहत का विशेष ध्यान रखना होगा। आम लोगों के साथ ही उन लोगों के लिए व्रत में ज्यादा सावधानी की जरूरत है जो किसी न किसी गंभीर बीमारियों से ग्रस्त हैं। खास कर डायबिटीज और प्रेग्नेंट महिलाओं को व्रत रखते समय विशेष ध्यान रखना चाहिए। तो चलिए जानें कि नवरात्रि व्रत में डिहाइड्रेशन से बचने के लिए किन बातों का ध्यान रखना होगा और नौ दिन का व्रत रख रहे तो आपका खानपान कैसा होना चाहिए।
navratri_fasting_in_diabetes_and_pregnancy.jpg
डिहाइड्रेशन से बचने के लिए क्या करें
⦁ व्रत के दौरान पानी की कमी न होने दें। इसके लिए आप हर दो से तीन घंटे पर रसीले फल, जूस या पानी पीते रहें।
⦁ अगर आप डायबिटीज के मरीज हैं तो आप नींबू पानी ज्यादा से ज्यादा पीएं।
⦁ प्रेग्नेंसी में आप फलों का जूस या साबूत फल अधिक से अधिक खाएं। कोशिश करें कि खट्टे फल कम खाएं।
⦁ चाय या कॉफी की जगह दही-मठ्ठा या दूध का सेवन करें।
डायबिटीज के मरीज व्रत में कैसा रखें खानपान
⦁ व्रत में खानपान अगर अच्छा हो तो आप नौ दिन का व्रत भी आसानी से रख सकते हैं। व्रत में आप दो बातों का ध्यान जरूर दें। पहला सेंधा नमक भी कम प्रयोग करें और चीनी भी कम मात्रा में लें।
⦁ डायबिटीज के मरीज व्रत में कच्चे केले को उबाल कर उसका चोखा कुट्‌टू के आटे की रोटी के साथ खाएं। दही या दूध के साथ भी रोटी खाई जा सकती है।
⦁ डायबिटी के मरीज व्रत में एक बार फलहार के नियम को फॉलो न करें, बल्कि अपनी दवाओं के साथ फलहार हर तीन से चार घंटे में खाते रहें।
⦁ खीरा-ककड़ी, संतरा-सेब,अनार का अधिक से अिधक प्रयोग करें।
⦁ दूध और दही के साथ उबली या भूनी एक शकरकंदी भी ले सकते हैं।
⦁ साबूदाने की खिचड़ी भी खाई जा सकती है। डायबिटीज के मरीज नौ दिन का व्रत रखने से बचे।
प्रेग्नेंसी में ऐसा रखें खानपान
⦁ प्रेग्नेंसी में खानपान का ध्यान देकर व्रत आसानी से रखा जा सकता है। बस हर तीन से चार घंटे पर कुछ न कुछ जरूर खाएं।
⦁ फलहार में पपीता छोड़ कर आप सभी फल खा सकती हैं। साथ ही सिंघाड़े का हलवा, रोटी या इसके पकौड़े भी खा सकती हैं।
⦁ साबूनदाने की खिचड़ी या खीर भी खाना सही रहेगा।
⦁ दूध, दही, छाछ का सेवन अधिक से अधिक करते रहें।
⦁ सेंधानमक केवल व्रत में खाएं, व्रत के बाद इसे न खाएं क्योंकि इसमें आयोडिन नहीं मिलेगा।
⦁ बहुत अधिक तला-भूना या मीठा न खाएं, इससे डायजेशन खराब हो सकता है।
डिस्क्लेमर- आर्टिकल में सुझाए गए टिप्स और सलाह केवल आम जानकारी के लिए दिए गए हैं और इसे आजमाने से पहले किसी पेशेवर चिकित्सक सलाह जरूर लें। किसी भी तरह का फिटनेस प्रोग्राम शुरू करने, एक्सरसाइज करने या डाइट में बदलाव करने से पहले अपने डॉक्टर से परामर्श जरूर लें।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

DGCA ने इंडिगो पर लगाया 5 लाख रुपए का जुर्माना, विकलांग बच्चे को प्लेन में चढ़ने से रोका थापंजाबः राज्यसभा चुनाव के लिए AAP के प्रत्याशियों की घोषणा, दोनों को मिल चुका पद्म श्री अवार्डIPL 2022 के समापन समारोह में Ranveer Singh और AR Rahman बिखेरेंगे जलवा, जानिए क्या कुछ खास होगाबिहार की सीमा जैसा ही कश्मीर के परवेज का हाल, रोज एक पैर पर कूदते हुए 2 किमी चलकर पहुंचता है स्कूलकर्नाटक के सबसे अमीर नेता कांग्रेस के यूसुफ शरीफ और आनंदहास ग्रुप के होटलों पर IT का छापाPM Modi in Gujarat: राजकोट को दी 400 करोड़ से बने हॉस्पिटल की सौगात, बोले- 8 साल से गांधी व पटेल के सपनों का भारत बना रहाOla, Uber, Zomato, Swiggy में काम करके की पढ़ाई, अब आईटी कंपनी में बना सॉफ्टवेयर इंजीनियरपंजाब की राह राजस्थान: मंत्री-विधायक खोल रहे नौकरशाही के खिलाफ मोर्चा, आलाकमान तक शिकायतें
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.