दो बजे रात से पानी की व्यवस्था में निकलते हैं ग्रामीण

बूंद-बूंद पानी के लिए जद्दोजहद

By: shivmangal singh

Published: 06 Jun 2018, 04:42 PM IST

डिंडोरी। जनसुनवाई में मंगलवार को डिंडोरी विकासखंड के देवकरा गांव के ग्रामीण पहुंच लिखित आवेदन प्रस्तुत करते हुये बताया कि वनग्राम देवपुरा के ग्रामीण पिछले तीन माह से पानी की समस्या से जूझ रहे हैं और रात दो बजे से पानी के लिये जद्दोजहद शुरू हो जाती है। वनग्राम में अधिकतर आदिवासी और बैगा समाज के लोग निवास करते हैं जिस जाति के लोगों के विकास के लिये सरकार ज्यादातर योजनाओं का संचालन कर रही है, लेकिन ग्रामीण इलाकों में विकास और व्यवस्थायें चरमराई हुई हैं। इस भीषण गर्मी के दौरान लोग बूंद-बूंद पानी के लिये तरस रहे हैं, लेकिन प्रशासन का कोई भी नुमाईंदा या जनप्रतिनिधि समस्याओं से निजात दिलाने के लिये प्रयास करते नजर नहीं आ रहा है। वन ग्राम देवकुरा का तो पानी को लेकर बुरा हाल है। वन ग्राम होने के कारण वन विभाग द्वारा पेयजल के लिये कुंआ निर्माण कराये गये हैं, लेकिन अप्रैल माह में कुंआ पूरी तरह सूख जाते हैं तीन से चार कुएं स्थित हैं। जिनमें से एक ही कुंआ है। जिसमें घंटों बाद दो चार बाल्टी ही पानी रिसता है। जिसे पाने के लिए ग्रामीणों में मुड़ फुटौअल की नौबत बन जाती है। ग्रामीणों ने अपने आवेदन पत्र में बताया कि ग्रामीण दो बजे रात से ही पानी की व्यवस्था में लग जाते हैं। मवेशियों के बुरे हाल हैं, लगभग पांच किलोमीटर का सफर तय करने के बाद मवेशियों को पानी उपलब्ध हो पाता है। साथ ही इलाके के जंगलों में जंगली जानवर भी हैं। जिनके लिए भी पानी की मुसीबत बनी हुई है। ग्रामीणों ने बताया कि पानी न मिलने से मवेशियों के साथ जंगली जानवरों की भी मौत हो रही है। ग्रामीणों ने अपनी समस्या के निदान के लिये तालाब निर्माण के साथ साथ नल जल की व्यवस्था करने की मांग की है।
हितग्राहियों को लाभांवित करेंगे मंत्री
डिंडोरी। प्रदेश शासन के मंत्री ओमप्रकाश धुर्वे बुधवार को ग्राम मोहगांव, ग्राम पंचायत कोसमघाट में श्रमिक शेड का भूमिपूजन करेंगे। ग्राम पंचायत कोसमघाट में श्रमिक शेड, सीसी रोड निर्माण का भूमिपूजन करेंगे और हितग्राहियों को मेढबंधान, खेत-तालाब, वृद्धा पेंशन एवं श्रमकार्ड का वितरण करेंगे। ग्राम मुरमीटोला ग्राम पंचायत सारंगपुर में श्रमिक शेड का भूमिपूजन तथा ग्राम कछराटोला में सीसी रोड का लोकार्पण करेंगे। ग्राम कोसमघाट मे रात्रि विश्राम करेंगे।

Patrika
shivmangal singh
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned