केन्द्र व प्रदेश सरकार तेल के खेल में आम और खास को लूट रही

केन्द्र व प्रदेश सरकार तेल के खेल में आम और खास को लूट रही

Shiv Mangal Singh | Publish: Sep, 08 2018 04:28:26 PM (IST) | Updated: Sep, 08 2018 04:28:27 PM (IST) Dindori, Madhya Pradesh, India

जिला कांग्रेस कमेटी ने बढ़ती हुई मंहगाई के विरोध में सौंपा ज्ञापन

डिंडोरी। पेट्रोल और डीजल के बढ़ते बोझ से दबे हिंदुस्तान के वाशिंदों की कमर तोड़ रही है। केन्द्र व प्रदेश की सरकार पर आरोप लगाते हुए वीरेन्द्र बिहारी शुक्ला अध्यक्ष जिला कंग्रेस कमेटी डिंडोरी ने जिला कांग्रेस सहायता केन्द्र डिंडोरी में आयोजित पेट्रोल और डीजल के दामों में बेतहाशा बृद्धि के विरोध में राज्यपाल के नाम जिला कलेक्टर डिंडोरी के माध्यम से ज्ञापन सौंपा। इसके पूर्व नन्हें सिंह ठाकुर, पूर्व विधायक, रमेश राजपाल, बृजेन्द्र दीक्षित, अशोक छावड़ा, दिनेश बर्मन भैयाजी, भीम अवधिया, अकील अहमद सिद्दकी, कुहूक सिंह धुर्वे, चोबाराम मलागाम, अमन छाबड़ा आदि की उपस्थित में कांग्रेस जनों को सम्बोधित करते हुये कहा कि पेट्रोल और डीजल के बढ़ते दामों से आज हर आम और खास बेहाल है। अतंर्राष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल का दाम इस समय 84.20 अमरीकी डॉलर प्रति बैरल है। भाजपा सरकार तेल के खेल में डीलर को पेट्रोल 39 रूपये 21 पैसे में बेचती है और डीलर यही पेट्रोल 80 रूपए में आम उपभोक्ताओं को देकर अपनी और भाजपा सरकार की जेब भर रही है। आगे आरोप लगाते हुये वीरेन्द्र बिहारी शुक्ला ने कहा कि भारत की मोदी सरकार 15 देशों को 34 रूपए लीटर पेट्रोल एवं 29 देशों का 37 रूपए लीटर सस्ता डीजल और पेट्रोल बेच रही है। वहीं दूसरी ओर आम और खास को मंहगे से भी महंगा पेट्रोल और डीजल देकर अपनी और नुमाईंदो की जेबें भर रही है। यह भाजपा की जनविरोधी मोदी सरकार केन्द्र और राज्यों में सरकार होने के बाद भी पेट्रोल और डीजल पर जीएसटी क्यों नही लगाती है, क्यों बार-बार पेट्रोल और डीजल पर एक्साईज ड्युटी बढ़ाई गई। अब जनता इस भीषण मंहगाई का बदला आने वाले विधानसभा चुनावों में मध्यप्रदेश की भाजपा सरकार और केन्द्र में बैठी भाजपा सरकार को लोकसभा चुनाव में पराजय का स्वाद चखाकर बदला लेगी। यह भाजपा की जनविरोधी मोदी सरकार केन्द्र और राज्यों में सरकार होने के बाद भी पेट्रोल और डीजल पर जीएसटी क्यों नही लगाती है, क्यों बार-बार पेट्रोल और डीजल पर एक्साईज ड्युटी बढ़ाई गई।

MP/CG लाइव टीवी

Ad Block is Banned