लो वोल्टेज की समस्या से जूझ रहे मेंहदवानी क्षेत्र के उपभोक्ता

विद्युत विभाग की लापरवाही से अर्थिंग को नहीं मिल रहा पानी

By: Rajkumar yadav

Published: 28 May 2020, 08:02 AM IST

मेंहदवानी। विद्युत वितरण केन्द्र मेंहदवानी के अंतर्गत आने वाले गांवों के बिजली उपभोक्ताओं को लो वोल्टेज की समस्या से परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। लो वोल्टेज की समस्या का निदान नहीं होने से उपभोक्ता में नाराजगी व्याप्त है।
जलस्तर कम होने से नहीं है पानी की उपलब्धता
विद्युत वितरण केन्द्र मेंहदवानी में पानी की उपलब्धता नहीं होने से अर्थिंग कमजोर पड़ जाता हैं, जिसके चलते मेंहदवानी क्षेत्र के उपभोक्ताओं को लो वोल्टेज की समस्या से जूझना पड़ रहा है। जानकारी के अनुसार विद्युत वितरण केन्द्र फतेहपुर मेंहदवानी में स्थित बोर मात्र 70 फिट गहरा है, जिसमें जलस्तर कम होने के कारण पानी की उपलब्धता नहीं है। पावर हाउस में कार्यरत कर्मचारियों से जानकारी लेने पर उनके द्वारा बताया गया कि बोर से मात्र 5.6 बाल्टी पानी निकलता है जो अर्थिंग के लिए नाकाफी है इस कारण हमेशा लो वोल्टेज रहता है। जिससे विद्युत उपभोक्ताओं में असंतोष पनप रहा है। इस संबंध में हमारे द्वारा वरिष्ठ अधिकारियों को अवगत करा दिया गया है। क्षेत्रवासियों का कहना है कि लो वोल्टेज की समस्या से नलजल योजना, दराई पिसाई कराने चक्की सहित अन्य कई जगहों पर लो वोल्टेज की समस्या खल रही है और लोगों को परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है।
विद्युत की आंख मिचौली भी है बदस्तूर जारी
विद्युत उपभोक्ताओं ने बताया कि चाहे जब बिजली चली जाती है और कभी तो हर 5-10 मिनट में बिजली बार-बार गुल होती है। ऐसी स्थिति में बिजली उपकरण खराब होने की संभावना बनी रहती है। पूर्व में भी कई उपभोक्ताओं का टीवी, फ्रिज तथा अन्य उपकरण खराब हो चुके हैं और हजारों रुपए की चपत लग चुका है। क्षेत्रवासियों ने विद्युत मंडल के अधिकारियों से इस समस्या से निजात दिलाए जाने की मांग की है।
इनका कहना है
पावर हाउस में स्थित पानी का बोर कोई काम का नहीं है। क्योंकि गहराई भी कम है और जलस्तर भी कम है। इसके कारण क्षेत्रवासियों को लो वोल्टेज की समस्या से जूझना पड़ रहा है।
मुस्ताक खान, ब्लाक कांग्रेस कमेटी अध्यक्ष मेंहदवानी

Patrika
Rajkumar yadav
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned